दीपावली पर लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय

दीपावली पर लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय  

दीपावली का पर्व प्राचीन काल से हमारे देश में मनाया जाता है। लक्ष्मी की उत्पत्ति के संबंध में वेदों, उपनिषदों, पुराणों और संहिताओं में उल्लेख होता है। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार लक्ष्मी की उत्पत्ति समुद्र से हुई है। देवों और दानवों ने मिलकर जब सागर मंथन किया तो उसमें से चैदह रत्न प्राप्त हुए लक्ष्मी जी उनमें से एक हैं। दीपावली और मनोकामनाओं का आपस में गहरा रिश्ता है। तंत्र शास्त्र में दीपावली को सभी प्रकार की साधनाओं के लिये सर्वाधिक उपयुक्त माना गया है। तभी तो इसे महानिशा कहा गया है। ऐसी निशा जो वर्ष भर में सर्वाधिक महान है। दीपावली की रात मां लक्ष्मी के पूजन के साथ-साथ लक्ष्मी प्राप्ति के टोटके, उपाय करने से कभी भी धन की कमी नहीं होती और मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है। दीपावली पर किये जाने वाले कुछ विशेष टोटके करके मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त कर सकते हैं। Û दीपावली के दिन प्रातःकाल मां लक्ष्मी के मंदिर जाकर लक्ष्मी जी को पोशाक चढ़ाएं, खुशबूदार गुलाब की अगरबत्ती जलाएं, धन प्राप्ति का मार्ग खुलेगा। Û दीपावली के दिन प्रातः गन्ना लाकर रात्रि में लक्ष्मी पूजन के साथ गन्ने की भी पूजा करने से आपकी धन संपत्ति में वृद्धि होगी। Û दीपावली की रात पूजन के पश्चात नौ गोमती चक्र तिजोरी में स्थापित करने से वर्षभर समृद्धि और खुशहाली बनी रहती है। Û अगर घर में धन नहीं रूकता तो नरक चर्तुदशी के दिन श्रद्धा और विश्वास के साथ लाल चंदन, गुलाब के फूल व रोली लाल कपड़े में बांधकर पूजंे और फिर उसे अपनी तिजोरी या पैसे रखने की जगह में रखें। धन घर में रूकेगा और बरकत भी होगी। Û दीपावली से आरंभ करते हुए प्रत्येक अमावस्या को शाम में किसी अपंग भिखारी या विकलांग व्यक्ति को भोजन कराएं तो सुख समृद्धि में वृद्धि होती है। Û काफी प्रयास करने के बाद भी नौकरी न मिल रही हो तो दीपावली की शाम लक्ष्मी पूजन के पश्चात या पूजन के समय थोड़ी सी चने की दाल लक्ष्मी जी पर छिड़क कर बाद में इकट्ठी करके पीपल के पेड़ पर समर्पित कर दें। नौकरी शीघ्र ही लग जायेगी। Û दुकानदार, व्यवसायी दीपावली की रात्रि को साबुत फिटकरी लेकर उसे दुकान में चारों तरफ घुमाएं और किसी चैराहे पर जाकर उसे उत्तर दिशा की तरफ फेंक दें। ऐसा करने से ज्यादा ग्राहक आएंगे और धन लाभ में वृद्धि होगी। Û दीपावली पर पूजन के समय मां लक्ष्मी को कमलगट्टे की माला पहनाएं और अगले दिन सवेरे लाल कपड़े में वह माला बांधकर घर में पैसे रखने वाली जगह पर रखें, 3 बार ऊँ महालक्ष्म्यै नमः बोलें। Û दीपावली की रात पांच साबुत सुपारी, काली हल्दी व पांच कौड़ी लेकर गंगाजल से धोकर लाल कपड़े में बांधकर दीवाली पूजन के समय चांदी की कटोरी या थाली में रखकर पूजा करें। अगले दिन सवेरे सारा सामान धन रखने वाली जगह में रखें। हमेशा मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेगी। पाठकगण दीपावली की रात्रि में उपाय करके देखें, मां लक्ष्मी की कृपा अवश्य होगी।


दीपावली विशेषांक  अकतूबर 2014

फ्यूचर समाचार के दीपावली विशेषांक में सर्वोपयोगी लक्ष्मी पूजन विधि एवं दीपावली पर लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय, दीपावली एवं पंच पर्व, शुभ कर्म से बनाएं दीपावली को मंगलमय, अष्टलक्ष्मी, दीपावली स्वमं में है एक उपाय व प्रयोग आदि लेख सम्मलित हैं। शुभेष शर्मन जी का तन्त्र रहस्य और साधना में सफलता असफलता के कारण लेख भी द्रष्टव्य हैं। मासिक स्थायी स्तम्भ में ग्रह स्थिति एवं व्यापार, शेयर बाजार, ग्रह स्पष्ट, राहुकाल, पचांग, मुहूत्र्त ग्रह गोचर, राशिफल, ज्ञानसरिता आदि सभी हैं। सम्वत्सर-सूक्ष्म विवेचन ज्योतिष पे्रमियों के लिए विशेष ज्ञानवर्धक सम्पादकीय है। सामयिक चर्चा में ग्रहण और उसके प्रभाव पर चर्चा की गई है। ज्योतिषीय लेखों में आजीविका विचार, फलित विचार, लालकिताब व मकान सुख तथा सत्यकथा है। इसके अतिरिक्त अन्नप्राशन संस्कार, वास्तु प्रश्नोत्तरी, अदरक के गुण और पूर्व दिशा के बन्द होने के दुष्परिणामों का वर्णन किया गया है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.