लक्ष्मी प्राप्त करने के ५१ अचूक उपाय

नवेम्बर 2012

व्यूस: 151812

लक्ष्मी प्राप्त करने के 51 अचूक उपाय आज के अर्थप्रधान युग में व्यक्ति को अथक परिश्रम करने के बाद भी धन का अभाव बना रहता है। हर व्यक्ति की चाहत होती है कि उसके जीवन में सुख-समृद्धि एवं ऐश्वर्य सदा बना रहे और लक्ष्मी की उसके पास कोई... और पढ़ें

देवी और देवउपायपर्व/व्रत

दीपक से जुड़े कल्याणकारी रहस्य

नवेम्बर 2013

व्यूस: 54698

आरती की सही विधि हिंदू संस्कृति में पूजा पाठ, अनुष्ठान, हवन, यज्ञ आदि कर्मों में दीपक द्वारा आरती करने का विधान है। पूजा की थाली में कपूर डालकर भी आरती की जाती है। आरती के लिए दीपक अथवा थाली को किस प्रकार पकड़ना चाहिए व किस प्रकार... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

लक्ष्मी कृपा प्राप्ति के सरल प्रयोग

अकतूबर 2014

व्यूस: 24782

यह धारणा लोगों के मन में स्थायी रूप से घर कर गई है कि लक्ष्मी चंचला है, एक जगह स्थायी रूप से रूकती नहीं पर सत्यता इसके विपरीत है। ऐसा अकर्मण्य, श्रम से बचने वाले, उत्तरदायित्वों से विमुख रहने वालों ने- स्थापित करने क... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

आखिर क्यों मनाते हैं मकर संक्रांति

जनवरी 2015

व्यूस: 14053

मकर संक्रांति हिंदू धर्म का प्रमुख त्यौहार है। यह पर्व पूरे भारत में विभिन्न रूपों में मनाया जाता है। पौष मास में जब सूर्य मकर राशि पर आता है तब इस संक्रांति को मनाया जाता है। यह त्यौहार अधिकतर जनवरी माह की चैदह तारीख को... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

धन प्राप्त करने के अचूक उपाय

अकतूबर 2014

व्यूस: 10928

इस मानवीय जीवन में लक्ष्मी का प्रभुत्व छोड दें तो शेष रह जाता है शून्य। ‘‘सर्व गुणा कांचनमाश्रयन्ते अर्थवान सर्व लोकस्य बहुमतः। महेंद्र भप्यशंशींनं न बहु मन्यते लोक प्ररिद्रय खलु पुरूषस्य जीवितं मरणम।’’... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतसंपत्ति

मकर संक्रांति - क्या आप जानते हैं?

जनवरी 2012

व्यूस: 9876

सूर्य के राशि परिवर्तन का समय संक्रांति कहलाता है। सूर्य लगभग एक माह में राशि परिवर्तन कर लेते है। इस प्रकार एक वर्ष में मेष-वृषादि 12 संक्रांति होती है। सूर्य का मकर राशि में प्रवेश करना मकर संक्रांति कहलाता है।... और पढ़ें

ज्योतिषपर्व/व्रतविविध

शनिवार व्रत विधि

नवेम्बर 2014

व्यूस: 9689

- शनि व्रत शुक्ल पक्ष के प्रथम शनिवार से किया जा सकता है। - सूर्याेदय से पहले या अधिकतम प्रातः 9 बजे तक तांबे के कलश में जल में थोड़ी सी शक्कर और दूध मिला कर पश्चिम दिशा में मुंह कर के पीपल के पेड़ को अघ्र्य देना चाहिए।... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

धनदायक अचूक उपाय

नवेम्बर 2014

व्यूस: 8614

पुराणों में लिखित दीपावली की रात के अन्य नाम हैं - दिव्यरजनी, महानिशा, कालरात्रि, महाकृष्णा। ये रात तंत्र, मंत्र, साधना हेतु अति उत्तम रात हंै। वैसे तो दीपावली का पूर्ण दिन ही विभिन्न प्रकार की साधनाओं व उपासनाओं के लिये अति उतम... और पढ़ें

देवी और देवउपायपर्व/व्रतसंपत्ति

पुरुषोत्तम मास के व्रत नियम

अप्रैल 2010

व्यूस: 8463

‘अधिमास' और ‘मलमास' भी कहते हैं। इस मास में पुरूषोत्तम भगवान वासुदेव की भक्तिपूर्वक साधना करने से व्यक्ति पापमुक्त होकर भगवान को प्राप्त हो सकता है। प्रस्तुत है पुरूषोत्तम मास के व्रत नियम।... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

राम नवमी (चैत्र शुक्ल नवमी)

अप्रैल 2014

व्यूस: 8232

अगस्त्य संहिता में कहा है: चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि में पवित्र पुनर्वसु नक्षत्र में गुरु नवांश में पांच ग्रहों के उच्च राशि में स्थित होने पर, मेष में सूर्य के प्राप्त होने पर तथा कर्क लग्न में कौशल्या महारानी से (महार... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)