Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

नौकरी कब मिलेगी ?

अप्रैल 2014

व्यूस: 28657

शास्त्रों के अनुसार ग्रहों का मानव शरीर पर किसी न किसी रूप में प्रभाव पड़ते हैं। ये प्रभाव प्रतिकूल या अनुकूल हो सकते हैं। मानव की सभी क्रियाएं, कमोबेश, इन ग्रहों के द्वारा संचालित होती हैं। नौ ग्रहों में किस ग्रह की महादशा और अंतर... और पढ़ें

ज्योतिषदशागोचरग्रहवशीकरण

चिराग तले अंधेरा

दिसम्बर 2014

व्यूस: 19239

सही कहा है - विधना नाच नचावे। मनुष्य लाख चेष्टा कर ले, होता वही है जो उसके ग्रह, नक्षत्र चाहते हैं। निशा और विशाल ने भी अपने लाड़ले का जीवन संवारने में कोई कसर नहीं छोड़ी, पर वे असफल रहे। परंतु सही दशा आने पर वही बच्चा जि... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगदशाकुंडली व्याख्याहस्तरेखा सिद्धान्तगोचर

तबादला: एक ज्योतिषीय विश्लेषण

जून 2013

व्यूस: 13798

नौकरी में तबादला एक नियमित प्रक्रिया है। कुछ वर्ष एक ही स्थान पर कार्यरत रहने के उपरांत नियोजित व्यक्ति का स्थानांतरण होना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है। कई बार यह तबादला अथवा स्थानांतरण अपनी ईच्छा के अनुरूप होता है तो कई बार लोगों को... और पढ़ें

ज्योतिषदशावर्ग कुंडलियाँगोचर

राहु के राशि परिवर्तन का विभिन्न राशियों में प्रभाव एवं उपाय

फ़रवरी 2013

व्यूस: 13742

राहु १४ जनवरी २०१३ को सायंकाल ७:१८ बजे तुला राशि में प्रवेश कर चुके हैं। दृष्टव्य है की शनि पहले से ही तुला राशि में गोचर कर रहे हैं। इस प्रकार राहु व् शनि की युति विषयोग का निर्माण कर रही हैं।... और पढ़ें

ज्योतिषग्रहभविष्यवाणी तकनीकगोचरराशि

ग्रह योग कराते हैं विदेश यात्रा

जनवरी 2005

व्यूस: 13115

वर्तमान युग में यातायात एवं संचार के आधुनिक साधनों के फलस्वरूप पूरा विश्व सिमट कर एक वैश्विक ग्राम यानी ग्लोबल विलेज का रूप ले चुका है। निःसंदेह विदेश-यात्राएं भी पहले से आसान हुई हैं तथा इसी लिए लोगों में विदेश गमन की लालसा भी बढ़... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय योगदशाभविष्यवाणी तकनीकगोचरयात्रा

सिंतारों की कहानी अचार्य रजनीश

मार्च 2010

व्यूस: 12329

सच है ब्रह्मांड में फैले ग्रह चाहे तो किसी व्यक्ति को जमीन से उठाकर आसमान की ऊंचाइयों पर बिठा दे, चाहे तो आसमान छूते व्यक्ति को धूल चटा दें। जानें, कौन से ग्रहों ने रजनीश को पहले आचार्य और फिर भगवान का पद हासिल करवाया ..... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगदशायशकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकगोचर

वाहन सुख: कब और कैसा?

जुलाई 2004

व्यूस: 12262

प्रत्येक यक्ति के मन में यह जानने की उत्सुकता होती है कि उसे वाहन कब प्राप्त होगा। जन्मपत्रिका में वाहन सुख का अध्ययन चैथे और ग्यारहवें भाव से किया जाता है। वाहन का कारक ग्रह शुक्र माना गया है। व्यक्ति को वाहन सुख चतुर्थेश और एका... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय योगदशाकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकगोचर

राहु का गोचर फल

जुलाई 2014

व्यूस: 12104

14 जुलाई 2014 को राहु राशि परिवर्तन कर रहा है। तुला से कन्या में आ जाएगा और 18 महीने की अवधि तक इसी राशि में रहेगा। जिनकी कुंडलियों में राहु 3, 6, 11 भावों में, उच्च राशि, मूल त्रिकोण राशि, स्वराशि या मित्र राशि में है उनको ... और पढ़ें

ज्योतिषग्रहभविष्यवाणी तकनीकगोचर

मिथुन में गुरु का गोचर

जून 2013

व्यूस: 9716

गोचरगुरु 31 मई 2013, 6:49, धनिष्ठा नक्षत्र, सप्तमी तिथि, शुक्रवार, ज्येष्ठ कृष्ण पक्ष, बव करण में वृषभ राशि से निकलकर मिथुन राशि में प्रवेश करेंगे। मिथुन राशि में गुरु 19 जून 2014, 8:47 तक रहेंगे। गुरु मिथुन राशि में प्रवेश करते ह... और पढ़ें

ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीकगोचरराशि

ग्रहण और उसके प्रभाव

अकतूबर 2014

व्यूस: 8925

ग्रहण का व्यक्ति एवं समष्टि पर निस्संदेह व्यापक प्रभाव पड़ता है। सूर्य ग्रहण एवं चंद्र ग्रहण व्यक्ति, समुदाय एवं राष्ट्र को हर दृष्टिकोण से शुभ अथवा अशुभ रूप में प्रभावित करते हैं। 8 अक्तूबर 2014 को चंद्र ग्रहण एवं 24 अक्तूबर 2... और पढ़ें

ज्योतिषआकाशीय गणितभविष्यवाणी तकनीकगोचर

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)