Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

सूर्य का नीच भंग राजयोग

जुलाई 2010

व्यूस: 41280

नवग्रहों में सूर्य राजसी ग्रह माना जाता है। मेष राशि में सूर्य उच्चस्थ होते हैं और तुला राशि में नीचस्थ। प्रस्तुत है सूर्य के नीच भंग राजयोग का कुंडलीय विश्लेषण।... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय योगयशकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकसफलता

राशि के अनुसार रुद्राक्ष धारण करने से आयु-आरोग्य तथा धन, यश की प्राप्ति

मई 2010

व्यूस: 32969

एक मुखी रुद्राक्ष: इस रुद्राक्ष को कोई भी व्यक्ति धारण कर सकता है यह साक्षात् भगवान शिव का स्वरूप माना गया है। इसे धारण करने से यश, मान, प्रतिष्ठा, धन, ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यउपाययशरूद्राक्षसंपत्तिराशि

यश, धन और पद की स्थिति कैसे जानें

अप्रैल 2007

व्यूस: 21995

भारतीय धर्म और संस्कृति में मनुष्य के चार पुरुषार्थों - धर्म, अर्थ, काम और मोक्ष में से जीवन में अर्थ प्राप्त करना एक अनिवार्य पुरुषार्थ है, जिसके लिए हमारे पौराणिक ग्रंथों में अपनी योग्यता व क्षमता के अनुरूप निष्काम भाव से कर्म क... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय योगदशायशभविष्यवाणी तकनीकसंपत्ति

सिंतारों की कहानी अचार्य रजनीश

मार्च 2010

व्यूस: 12340

सच है ब्रह्मांड में फैले ग्रह चाहे तो किसी व्यक्ति को जमीन से उठाकर आसमान की ऊंचाइयों पर बिठा दे, चाहे तो आसमान छूते व्यक्ति को धूल चटा दें। जानें, कौन से ग्रहों ने रजनीश को पहले आचार्य और फिर भगवान का पद हासिल करवाया ..... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगदशायशकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकगोचर

गौतम बुद्ध

अप्रैल 2010

व्यूस: 10912

भगवान बुद्ध संसार के महानतम व्यक्ति हुए। हर ज्योतिर्विद यह जानने की इच्छा रखता है कि कैसी रही होगी उनकी जन्म कुंडली। आइए, जानें ...... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगदेवी और देवज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगयशकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकसफलता

मनोकामना सिद्धि का आसान उपाय रुद्राक्ष धारण

मई 2010

व्यूस: 10076

धर्म, अर्थ, काम व मोक्ष मानव जीवन के मुख्य लक्ष्य कहे गए हैं। हर व्यक्ति इन लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु यथासंभव प्रयास करता है। लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु शास्त्रों में विभिन्न ज्योतिषीय सामग्रियों के उपयोग का उल्लेख है, जिनमें रुद्र... और पढ़ें

स्वास्थ्यउपायबाल-बच्चेशिक्षायशसुखविवाहव्यवसायरूद्राक्षसंपत्ति

स्वामी विवेकानंद, आदिशंकराचार्य

फ़रवरी 2011

व्यूस: 9276

इस पृथ्वी पर अवतरित उस भगवत तत्व की पहचान जिन संत पुरुषों ने की और संसार के सामने उस इश्वरत्व की अभिव्यक्ति की, उनमें स्वामी विवेकानंद तथा आदिशंकराचार्य का नाम प्रमुख है। आइए, उनके व्यक्तित्व तथा कृतित्व के बारे में जानें।... और पढ़ें

प्रसिद्ध लोगयशविविधसफलता

सचिन तेंदुलकर

जनवरी 2010

व्यूस: 8498

सचिन तेंदुलकर क्रिकेट जगत की अमूल्य निधि है जो सफलता के नए कीर्तिमान दिन प्रतिदिन कायम करते रहते हैं उनके बल्ले की पैनी धार उन्हें कहां तक लेकर जाएगी आइए देखें उनकी कुंडली क्या बोलती है ?... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगदशायशकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकसफलतागोचर

अमिताभ बच्चन

फ़रवरी 2010

व्यूस: 8338

एक महान व्यक्तित्व के मालिक अमिताभ बच्चन ने अपने कैरियर के शुरूआती दिनों में अनेक उतार-चढ़ाव देखे। पर आज वह फिल्म जगत के क्षितिज पर ध्रुव तारे की तरह चमक रहे हैं। आइए जानें .... क्या कहती है उनकी कुंडली........ और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगदशायशकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीकगोचर

सूर्य-चंद्र दिलाते हैं कामायाबी

जुलाई 2013

व्यूस: 8240

व्यक्ति के सफलता व प्रभावशीलता ग्रहों की स्थिति, गति और नक्षत्रों की चाल से तय होती है। इनकी स्थिति के अनुरूप व्यक्ति को कामयाबी मिलती है। इनके विपरीत स्थिति में होने पर व्यक्ति चाह कर भी सफलता का स्वाद नहीं चख पाता है। ग्रहों का ... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय योगयशकुंडली व्याख्याघरग्रहभविष्यवाणी तकनीक

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)