हस्तरेखा सिद्धान्त


राहू कि महादशा में नवग्रहों कि अंतर्दशाओं का फल एवं उपाय

आगस्त 2008

व्यूस: 109706

राहू मूलत: छाया ग्रह है, फिर भी उसे एक पूर्ण ग्रह के समान ही माना जाता है। यह आर्द्रा, स्वाति एवं शतभिषा नक्षत्र का स्वामी है। राहू कि दृष्टि कुंडली के पंचम, सप्तम और नवम भाव पर पड़ती है। जिन भावों पर राहू कि दृष्टि का प्रभाव पडता ... और पढ़ें

ज्योतिषउपायग्रहहस्तरेखा सिद्धान्त

क्या आपके पति आपकी बात नहीं मानते?

अकतूबर 2010

व्यूस: 27673

यदि आपके एक हाथ में (स्त्रियों के उल्टे हाथ में) मस्तिष्क रेखा व हृदय रेखा एक हो तो पति-पत्नी के विचार नहीं मिलते।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीकहस्तरेखा सिद्धान्त

एस्ट्रो पामिस्ट्री

फ़रवरी 2014

व्यूस: 20280

ज्योतिष में हम जन्म के समय भचक्र में ग्रहों की स्थिति, युति व दृष्टि के आधार पर उनकी ऊर्जाओं का विश्लेषण जातक की जन्मकुंडली द्वारा करते हैं। हस्तरेखा विज्ञान में इन ऊर्जाओं का विश्लेषण हथेली में विद्यमान चिह्नों और रेखाओं से करते ... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रहस्तरेखा सिद्धान्त

स्तन कैंसर महिलाओं को होने वाला एक भयंकर रोग

फ़रवरी 2011

व्यूस: 19629

महिलाओं में पाए जाने वाले सबसे खतरनाक रोग स्तन कैंसर के बारे में पूर्व जानकारी इस रोग के प्रारंभिक अवस्था में ही कैसे प्राप्त की जा सकती है और रोगी को कालग्रसित होने से आसानी से बचाया जा सकता है। आइए, जानें इस बारे में विभिन्न लग्... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगचिकित्सा ज्योतिषहस्तरेखा सिद्धान्तराशि

हस्त रेखाएं और ज्योतिष

अप्रैल 2011

व्यूस: 16188

जो ज्योतिष में है वही हाथ की रेखाओं में है दोनों एक दूसरे के पूरक है। हाथ की विभिन्न रेखाएं क्या फलित कथन करती है इसकी जानकारी इस लेख में दी गई है।... और पढ़ें

ज्योतिषहस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीकहस्तरेखा सिद्धान्त

हस्त रेखाओं की रहस्यपूर्ण भाषा

अप्रैल 2011

व्यूस: 10835

हाथों की उंगलियों और अंगूठे की बनावट मनुष्य के स्वभाव, आचार विचार और मन मस्तिष्क की भावनाओं का दर्पण कही जा सकती है। क्या दिखाई देता है इस दर्पण में, जानिए इस लेख से।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीकहस्तरेखा सिद्धान्त

रक्तयुक्त पेचिशः खूनी दस्त

अप्रैल 2011

व्यूस: 10348

पत्रिका के इस स्थाई स्तंभ में इस बार गर्मी और वर्षा के मौसम में होने वाली रक्त युक्त पेचिष नाम की इस बीमारी के कारण लक्षण तथा उपचार की महत्वपूर्ण जानकारी दी गई है। विभिन्न लग्नों में ग्रह योगों के आधार पर भी इस रोग की संभावनाओं का... और पढ़ें

स्वास्थ्यउपायहस्तरेखा सिद्धान्तराशि

लग्न राशि: व्यक्तित्व का आईना

मई 2013

व्यूस: 7808

आधुनिक युग भाग-दौड़ और व्यस्तता का युग है। बढ़ते शहरीकरण ने दुनिया को छोटा और लोगों को एक-दूसरे से अनजान कर दिया है। वर्षों तक साथ रहने पर भी एक परिवार के लोग एक-दूसरे की पसंद नापसंद को अच्छी तरह से नहीं समझ पाते हैं और एक-दूसरे को ... और पढ़ें

ज्योतिषउपायहस्तरेखा सिद्धान्तराशि

एस्ट्रो पामिस्ट्री

मार्च 2014

व्यूस: 6302

शुक्र, बुध दोनों स्वास्थ्य रेखा से मिल जाएं और सूर्य रेखा सुंदर व स्पष्ट पाई जाए तथा सूर्य का सितारा बुध पर्वत की ओर हो तो सूर्य खाना नंबर एक में होगा। Û भाग्य रेखा या सूर्य रेखा बृहस्पति का रूख करें, मगर शनि के पर्वत पर कोई शनि र... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रजैमिनी ज्योतिषहस्तरेखा सिद्धान्त

मानस रेखा से जानें स्वभाव

जून 2011

व्यूस: 6163

हथेली में जितना महत्व जीवन रेखा का है उतना ही महत्व मस्तिष्क रेखा का भी है। क्योंकि जीवन एवं बुद्धि का आपस में गहरा संबंध है ?। आइए जानें, मानस रेखा के प्रकार एवं उनका व्यक्ति के स्वभाव पर प्रभाव इस लेख के माध्यम से... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीकहस्तरेखा सिद्धान्त

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)