अध्यात्म, धर्म आदि


भूत-प्रेत बाधा निवारण का सरल उपाय शाबर मंत्र अनुष्ठान

मार्च 2010

व्यूस: 58651

भूत-प्रेत बाधाओं, जादू-टोनों आदि के प्रभाव से भले-चंगे लोगों का जीवन भी दुखमय हो जाता है। ज्योतिष तथा शाबर ग्रंथों में इन बाधाओं से मुक्ति के अनेकानेक उपाय उपाय बताए गए हैं।... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिविविध

लक्ष्मी कृपा प्राप्ति के सरल प्रयोग

अकतूबर 2014

व्यूस: 24227

यह धारणा लोगों के मन में स्थायी रूप से घर कर गई है कि लक्ष्मी चंचला है, एक जगह स्थायी रूप से रूकती नहीं पर सत्यता इसके विपरीत है। ऐसा अकर्मण्य, श्रम से बचने वाले, उत्तरदायित्वों से विमुख रहने वालों ने- स्थापित करने क... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

रुद्राक्ष: एक वरदान

मई 2014

व्यूस: 22626

रुद्राक्ष एक ऐसा फल फल जिसके अंदर लगभग सभी देवी-देवता निवास करते हैं। रूद्राक्ष को धारण करने से हर प्रकार के दुःखां का शमन होता है। इस लेख में एक मुखी रुद्राक्ष से लेकर 14 मुखी रुद्राक्ष के बारे में विस्तृत जानकारी दी जा रही ह... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिमंत्ररूद्राक्षराशि

दक्षिणावर्ती शंख

जून 2013

व्यूस: 21305

दक्षिणावर्ती शंख जिसके घर में रहता है वहां सब मंगल होते हैं। लक्ष्मी स्वयं स्थिर होकर निवास करती है। जिस घर में उत्तम दक्षिणावर्ती शंख की पूजा होती है वह सौभाग्यशाली तथा धनपति बन जाता है क्योंकि चंद्रमा के अमृत मंडल से संचित समुद्... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिविविध

दाह संस्कार- अंतिम संस्कार

जून 2013

व्यूस: 20443

हिंदू धर्म में मृत्यु को जीवन का अंत नहीं माना गया है। मृत्यु होने पर यह माना जाता है कि यह वह समय है, जब आत्मा इस शरीर को छोड़कर पुनः किसी नये रूप में शरीर धारण करती है, या मोक्ष प्राप्ति की यात्रा आरंभ करती है । किसी व्यक्ति की म... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिमुहूर्त

पारद निर्मित शिवलिंग

फ़रवरी 2015

व्यूस: 14539

शताश्वमेधेन् कृतेन पुण्यं, गोकोटिभिः स्वर्ण सहस्त्र दानात् नृणां भवेत्सूतक दर्शनेन्, यत्सर्वतीर्थेषु कृता भिषेकात्।। अर्थात् 100 अश्वमेघ यज्ञ, कोटि गायों के दान, अनेक स्वर्ण मुद्राओं के दान तथा चार धाम की यात्रा व तीर्थ स्नान स... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिभविष्यवाणी तकनीक

भाग्य, पुरुषार्थ और कर्म

अप्रैल 2013

व्यूस: 14538

जीवन में पुरुषार्थ और भाग्य दोनों का ही अलग अलग महत्व है। ये ठीक है की पुरुषार्थ की भूमिका भाग्य से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है। लेकिन इससे भाग्य का महत्व किसी भी तरह से कम नहीं हो जाता।... और पढ़ें

ज्योतिषअध्यात्म, धर्म आदि

बृहस्पति का प्रिय केसर

जून 2013

व्यूस: 13022

हमारी प्रकृति ने हमें कई ऐसे मसाले और जड़ी-बूटियां दी हैं जो हमारे लिए कम फायदेमंद नहीं है। केसर का मसालों में विशिष्ट स्थान है। केसर सबसे कीमती मसाला है जिसे अंग्रेजी में सैफ्रोन कहते हैं। साधारणतः इसे उर्दू और अरबी में जाफरान कहत... और पढ़ें

ज्योतिषउपायअध्यात्म, धर्म आदि

पंचतत्व का महत्व

दिसम्बर 2014

व्यूस: 11006

ईश्वर यानी भगवान ने अपने अंश में से पांच तत्व-भूमि, गगन, वायु, अग्नि और जल का समावेश कर मानव देह की रचना की और उसे सम्पूर्ण योग्यताएं और शक्तियां देकर इस संसार में जीवन बिताने के लिये भेजा है।... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

धन प्राप्त करने के अचूक उपाय

अकतूबर 2014

व्यूस: 10670

इस मानवीय जीवन में लक्ष्मी का प्रभुत्व छोड दें तो शेष रह जाता है शून्य। ‘‘सर्व गुणा कांचनमाश्रयन्ते अर्थवान सर्व लोकस्य बहुमतः। महेंद्र भप्यशंशींनं न बहु मन्यते लोक प्ररिद्रय खलु पुरूषस्य जीवितं मरणम।’’... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतसंपत्ति

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)