अध्यात्म, धर्म आदि


मरने से पहले की सोच

आगस्त 2010

व्यूस: 5517

मेरे पास लोग आते हैं। वे कहते हैं - हमें संन्यास लेना है; लेकिन जरा बेटी की शादी हो जाए; क्योंकि अगर शादी न हुई और हमने संन्यास ले लिया तो अड़चनें आ जाएंगी, शादी करना मुश्किल हो जाएगा।... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिविविध

यज्ञोपवीत संस्कार

जनवरी 2015

व्यूस: 5513

समस्त सोलह संस्कारों का अत्यंत महत्त्व है किंतु विद्वानों द्वारा यज्ञोपवीत संस्कार का विशेष महत्त्व माना गया है। व्यास स्मृति द्वारा कहे गये सोलह संस्कारों में यज्ञोपवीत संस्कार का वेदोक्त वर्णाश्रम धर्म के साथ अत्यंत गहरा स... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिविविध

राजा प्राचीन बर्हि को नारदजी द्वारा आत्मज्ञान

मार्च 2015

व्यूस: 5510

चक्रवर्ती सम्राट के पद का मोह त्यागकर श्री शुकदेव बाबा जी के चरणों में स्थित महाराज परीक्षित् ने पूछा - भगवन्! पृथु वंश की राज्य परंपरा व भक्त श्रेष्ठ नारदजी द्वारा राजा प्राचीन बर्हिं को दिए आत्म विषयक ज्ञान का कृपा करके श्रवण... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

श्री यंत्र का आध्यात्मिक स्वरूप

जुलाई 2013

व्यूस: 5476

पूर्ण विधान से श्री यंत्र का पूजन जो एक बार भी कर ले, वह दिव्य देहधारी हो जाता है। दत्तात्रेय ऋषि एवं दुर्वासा ऋषि ने भी श्री यंत्र को मोक्षदाता माना है। इसका मुख्य कारण यह है कि मनुष्य शरीर की भांति, श्री यंत्र में भी 9 चक्र होते... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिसंपत्तियंत्र

हिन्दू मान्यताओं का वैज्ञानिक आधार

अप्रैल 2013

व्यूस: 5415

अनादि काल से ही हिन्दू धर्म में अनेक प्रकार की मान्यताओं का समावेश रहा है। विचारों की प्रखरता एवं विद्वानों के निरंतर चिंतन से मान्यताओं व् आस्थाओं में भी परिवर्तन हुआ।... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिविविध

लक्ष्मी पूजन विधि एवं शुभ मुहूर्त

अकतूबर 2014

व्यूस: 5404

मां लक्ष्मी की पूजा किसी भी समय में की जा सकती है। लेकिन सार्थक पूजा के लिए शास्त्र सम्मत विधान की जानकारी होनी आवश्यक है। मां लक्ष्मी की पूजा किस मुहूर्त में किन सामग्रियों के साथ की जाय जिससे कि मां लक्ष्मी का आशीर्वाद शीघ्र... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

देवताओं को हुआ जब अहंकार

मई 2013

व्यूस: 5285

संसार में किसी का कुछ नहीं, भौतिक विषयों को व्यर्थ में अपना समझना मूर्खता है, क्योंकि अपना होते हुए भी, कुछ भी अपना नहीं होता। कुछ रुपये दान करने वाला यदि यह कहे कि उसने ऐसा विशेष कार्य किया है, तो उससे बड़ा मूर्ख और कोई नहीं औ... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

पुनर्जन्म : एक वैज्ञानिक दृष्टिकोण

सितम्बर 2007

व्यूस: 5231

एक ऊंची सी समुद्र किलाहर दूसरी छोटी लहर से इठलाकर बोली की मुझे देखो, मैं कितनी बड़ी और ताकतवर हूं, और फिर कुछ भी क्षणों उपरांत वह समुद्र के किनारे पड़े एक पत्थर से टकराई और शांत हों गई। उसी के साथ फिर दूसरी लहर आई और वह भी पत्थर से... और पढ़ें

ज्योतिषअध्यात्म, धर्म आदिज्योतिषीय योगविविध

रुद्राक्ष की ऐतिहासिक पृष्ठभूमि

मई 2014

व्यूस: 5213

हमारे शास्त्रकारों ने एक मत से यह निष्कर्ष प्रस्तुत किया है कि वास्तव में भगवान् शिव ने रुद्राक्ष के रूप में एक अद्भुत उपहार हमें दिया है। न केवल इसका दर्शन सुखकर और पुण्यवर्धक होता है, बल्कि इसका गले में विद्यमान रहना भी साधक... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिरूद्राक्ष

पितृ दोष

सितम्बर 2014

व्यूस: 5212

हमारे पूर्वज या पारिवारिक सदस्य जिनकी मृत्यु हो चुकी है उन्हें पितृ कहते हैं। पितृ हमारे व ईश्वर के बीच की एक महत्वपूर्ण कड़ी हैं। इनकी क्षमताएं व ताकत ईश्वरीय शक्ति जैसी होती है। पितृ मानव और ईश्वर के बीच एक योनि है जिसमें मरणोपरा... और पढ़ें

ज्योतिषउपायअध्यात्म, धर्म आदिभविष्यवाणी तकनीक

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)