अध्यात्म, धर्म आदि


ध्रुव-चरित्र

दिसम्बर 2014

व्यूस: 7767

कर्मयोगी चक्रवर्ती सम्राट महाराज परीक्षित ने पूज्य गुरुदेव श्री शुकदेव जी से पूछा- मुनिवर ! ध्रुव के वनगमन का क्या कारण था? किस प्रकार ध्रुव भगवान की कृपा हुई और अविचल धाम की प्राप्ति हुई? श्री शुकदेवजी कहते हैं - राजन्। प्... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

भागवत कथा

मार्च 2014

व्यूस: 7612

सनकादि ने नारद जी से कहा- देवर्षि पापियों के पाप का नाष करने हेतु एक प्राचीन इतिहास श्रवण करो। पूर्वकाल में तुंगभद्रा नदी के तटपर अनुपम नगर में समस्त वेदों का विषेषज्ञ श्रोत-स्मार्त कर्म में निपुण आत्मदेव ब्राह्मण अपनी प्यारी कुली... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदि

अनंत चतुर्दशी व्रत: कब, क्यों और कैसे करें?

सितम्बर 2014

व्यूस: 7213

भविष्य पुराण में कहा गया है कि भाद्रपद के अंत की चतुर्दशी तिथि में पौर्णमासी के योग में अनंत व्रत को करें। स्कंद पुराण में भी कहा गया है कि भाद्रपद मास की पूर्णिमा तिथि में मुहूर्त मात्र की चतुर्दशी हो, तो उसको संपूर्ण तिथि जा... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

दक्षिणामूर्ति स्तोत्र

जुलाई 2013

व्यूस: 7161

गुरुओं के गुरु भगवान दक्षिणामूर्ति की आराधना में आदि गुरु शंकराचार्य द्वारा विरचित दक्षिणामूर्ति स्तोत्र को गुरु भक्ति के स्तोत्र साहित्य में अद्वितीय स्थान प्राप्त है। गुरु कृपा की प्राप्ति हेतु इसे सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। यह स... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिविविध

भागवत कथा

मई 2014

व्यूस: 7075

श्री शौनक जी ने सूतजी से पूछा - सर्वशक्तिमान् व्यास भगवान ने देवर्षि नारद जी के अभिप्राय को सुनकर व चले जाने पर क्या किया? श्री सूतजी ने कहा - ब्रह्मनदी सरस्वती के पश्चिम तट पर शम्याप्रास आश्रम के निकट चारांे ओर से घि... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

प्रणाम या अभिवादन व्रत

फ़रवरी 2010

व्यूस: 7042

अभिवादन सदाचार का मुख्य अंग है। इससे न केवल लौकिक लाभ ही प्राप्त होता है अपितु आध्यात्मिक पथ भी प्रशस्त हो जाता है। पुराणों में प्रणाम के बल पर दिव्य लाभों को प्राप्त करने के अनेक दृष्टांत प्राप्त होते हैं।... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

वट सावित्री व्रत

मई 2014

व्यूस: 7013

भारतीय संस्कृति में वट सावित्री एक ऐसा दिव्य व्रत है, जिसको संपन्न करके एक भारतीय नारी ने यमराज पर भी विजय प्राप्त कर संपूर्ण नारी जाति को गौरवान्वित किया है। यह व्रत, स्कंद और भविष्योत्तर के अनुसार, ज्येष्ठ शुक्ल पूर्णिमा को ... और पढ़ें

घटनाएँदेवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

चतुर्मास का माहात्म्य

जुलाई 2013

व्यूस: 6936

जिनकी आकृति अतिशय शांत है, जो शेषनाग की शय्या पर शयन किए हुए हैं, जिनकी नाभि में कमल है, जो सब देवताओं द्वारा पूज्य हैं, जो संपूर्ण विश्व के आधार हैं, जो आकाश के सदृश सर्वत्र व्याप्त हैं, नीले मेघ के समान जिनका वर्ण है, जिनके सभी ... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

भगवान विष्णु का प्रिय मास वैशाख

मई 2010

व्यूस: 6933

वैशाख मास परम पावन मास है। यह भगवान विष्णु का प्रिय मास है, इसलिए इस मास स्नान, तर्पण, मार्जन, पूजन आदि का विशेष महत्व है।... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

शक्ति पीठ-श्री नैना देवी मंदिर

जुलाई 2011

व्यूस: 6479

जिस स्थान पर सती के नैन गिरे वही स्थान, शक्ति पीठ श्री नैना देवी के नाम से प्रसिद्ध हुआ। आइए जानें इस लेख के द्वारा इस सिद्ध पीठ की महिमा... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)