Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

अध्यात्म, धर्म आदि


पंचतत्व का महत्व

दिसम्बर 2014

व्यूस: 21777

ईश्वर यानी भगवान ने अपने अंश में से पांच तत्व-भूमि, गगन, वायु, अग्नि और जल का समावेश कर मानव देह की रचना की और उसे सम्पूर्ण योग्यताएं और शक्तियां देकर इस संसार में जीवन बिताने के लिये भेजा है।... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

भाग्य, पुरुषार्थ और कर्म

अप्रैल 2013

व्यूस: 21664

जीवन में पुरुषार्थ और भाग्य दोनों का ही अलग अलग महत्व है। ये ठीक है की पुरुषार्थ की भूमिका भाग्य से कहीं अधिक महत्वपूर्ण है। लेकिन इससे भाग्य का महत्व किसी भी तरह से कम नहीं हो जाता।... और पढ़ें

ज्योतिषअध्यात्म, धर्म आदि

पारद निर्मित शिवलिंग

फ़रवरी 2015

व्यूस: 20174

शताश्वमेधेन् कृतेन पुण्यं, गोकोटिभिः स्वर्ण सहस्त्र दानात् नृणां भवेत्सूतक दर्शनेन्, यत्सर्वतीर्थेषु कृता भिषेकात्।। अर्थात् 100 अश्वमेघ यज्ञ, कोटि गायों के दान, अनेक स्वर्ण मुद्राओं के दान तथा चार धाम की यात्रा व तीर्थ स्नान स... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिभविष्यवाणी तकनीक

आखिर क्यों मनाते हैं मकर संक्रांति

जनवरी 2015

व्यूस: 17222

मकर संक्रांति हिंदू धर्म का प्रमुख त्यौहार है। यह पर्व पूरे भारत में विभिन्न रूपों में मनाया जाता है। पौष मास में जब सूर्य मकर राशि पर आता है तब इस संक्रांति को मनाया जाता है। यह त्यौहार अधिकतर जनवरी माह की चैदह तारीख को... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

संक्षिप्त तर्पण तथा श्राद्ध विधि

सितम्बर 2014

व्यूस: 15455

श्राद्ध कैसे करना चाहिए यह जानना तथा तदनुरूप श्राद्ध संपन्न करना आवश्यक है। यहां तर्पण तथा श्राद्ध विधि प्रस्तुत कर रहे हैं। श्राद्ध हर व्यक्ति को अवश्य करना चाहिए। इससे हर प्रकार का लाभ मिलता है। देवताओं के लिये एक अ... और पढ़ें

ज्योतिषउपायअध्यात्म, धर्म आदिभविष्यवाणी तकनीक

शाबर-मेरू-तंत्र

आगस्त 2014

व्यूस: 14939

शाबर मंत्र साधना प्रारंभ करने से पूर्व ‘शाबर-मेरू-तंत्र’ का या ‘सर्वार्थ साधक मंत्र’ या सुमेरू मंत्र का जप अत्यंत आवश्यक है; क्योंकि यह मंत्र उच्च कोटि के गुरुओं के अभाव व साधक की आवश्यक योग्यता की पूर्णता का प्रतीक है... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिमंत्र

पुंसवन संस्कार

मई 2014

व्यूस: 14886

पुंसवन संस्कार-(दूसरा संस्कार) पुंसवन संस्कार ‘भावी सन्तति स्वस्थ, पराक्रमी व पुत्र हो’- इस प्रयोजन से गर्भ के संस्कार के रूप में किया जाता है। पुत्र अभिलाषा न होने पर भी धर्मसिन्धु के अनुसार यह संस्कार प्रत्येक ग... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

सुख-समृद्धि हेतु शाबर मंत्र प्रयोग

सितम्बर 2014

व्यूस: 13518

वर्तमान में ज्यादातर मनुष्य रोजगार से चिंतित रहते हैं। उच्च शिक्षा प्राप्त करने पर भी कार्य नहीं मिल पाता। क्या करें? क्या न करें? यही विचार मस्तिष्क में चलता रहता है। लोग व्यापार करते हैं, लाभ प्राप्त नहीं हो पाता, हो... और पढ़ें

ज्योतिषउपायअध्यात्म, धर्म आदिमंत्र

धन प्राप्त करने के अचूक उपाय

अकतूबर 2014

व्यूस: 13404

इस मानवीय जीवन में लक्ष्मी का प्रभुत्व छोड दें तो शेष रह जाता है शून्य। ‘‘सर्व गुणा कांचनमाश्रयन्ते अर्थवान सर्व लोकस्य बहुमतः। महेंद्र भप्यशंशींनं न बहु मन्यते लोक प्ररिद्रय खलु पुरूषस्य जीवितं मरणम।’’... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतसंपत्ति

शुभाशुभ स्वप्नों के पुराणोक्त फल

जून 2010

व्यूस: 12989

सतयुग में जब भगवान विष्णु ने मत्स्यावतार लिया था, तो मनु महाराज ने उनसे मनुष्य द्वारा देखे गए शुभाशुभ स्वप्न फल का वृतांत बताने का आग्रह किया था। मत्स्य भगवान ने विभिन्न फलों की ओर इंगित करते हुए जिसका वर्णन किया उसकी प्रस्तुति इस... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंअध्यात्म, धर्म आदिसपनेभविष्यवाणी तकनीक

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)