Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

घर में पौधे लगाएं, वास्तु दोष दूर भगाएं

दिसम्बर 2015

व्यूस: 26190

पेड़-पौधे हमारे जीवन के उपयोगी अंग हैं। पौधे न केवल घर का सौंदर्य बढ़ाते हैं बल्कि इनसे अनजाने में ही सही घर में बन रहे वास्तुदोषों का भी निवारण हो जाता है। हरा-भरा वातावरण आस-पास होने पर प्रत्येक व्यक्ति को स्फूर्ति एवं ताज... और पढ़ें

वास्तुभविष्यवाणी तकनीकवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु के शुभ अशुभ शकुन

दिसम्बर 2006

व्यूस: 25148

- भूमि की खुदाई में जीवित सर्प निकले तो दुर्घटना का सूचक होता हैं। ऐसे में सर्प शांति कराकर कार्य आगे बढ़ाएं। - भूमि खोदते समय हड्डी या राख निकले, तो वहां शांति पाठ व पूजा कराएं।... और पढ़ें

वास्तुशकुनवास्तु परामर्शवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु एवं फेंगसुई के कुछ मुख्य उपाय

जून 2013

व्यूस: 21688

यदि तीन दरवाजे घर, या किसी वास्तु में एक कतार में हों, तो बीच के दरवाजे पर स्फटिक गोला टांग दें, दोष दूर हो जाएगा। Û सुनहरी मछलियों वाला लघु मछली घर अपने घर में रखना सौभाग्य में वृ़िद्ध करने का एक कारगार उपाय है। इसका उपयोग पूर्व ... और पढ़ें

फेंग शुईउपायवास्तुवास्तु के सुझाव

जन्म दिनांक से जानें गृह वास्तु दोष

जुलाई 2013

व्यूस: 19380

जन्म होते ही हमारे साथ कुछ अंक जुड़ जाते हैं। जैसे कि जन्म तिथि का अंक, जन्म समय की होरा व जन्म स्थान आदि। इन सब के आधार पर ज्योतिष व अंक ज्योतिष की गणनायें की जा सकती है। अगर हम ‘गीता में श्री कृष्ण द्वारा बताये गये कर्म-सिद्धांत... और पढ़ें

अंक ज्योतिषवास्तुभविष्यवाणी तकनीक

भूमि चयन

फ़रवरी 2010

व्यूस: 18811

वास्तु विज्ञान एक विस्तृत विषय है। प्रस्तुत है भवन निर्माण करते समय भूमि आकृति, भूमि के कोण व कटाव, भूमि का विस्तार, आसपास का वातावरण व भूमि दिशा विचार पर वास्तु शोध ........ और पढ़ें

वास्तुभूमि चयनवास्तु के सुझाव

वास्तु विद्या एवं कला की प्राचीनता एवं आधुनिक काल में उपयोगिता

अकतूबर 2013

व्यूस: 17709

मानव की भवन सम्बन्धी आवष्यकता मानव सभ्यता जितनी ही प्राचीन है। वास्तु कला का विकास मानव सभ्यता के विकास का इतिहास है। वास्तु षब्द का अर्थ मात्र भवन निर्माण नहीं है इसका क्षेत्र बहुत व्यापक है। वास्तु षब्द ग्रामों, पुरों, दुर्गों, ... और पढ़ें

स्वास्थ्यउपायवास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारसंपत्ति

गृह निर्माण और वास्तु

दिसम्बर 2010

व्यूस: 17323

घर के वास्तु का प्रभाव उसमें रहने वाले सभी सदस्यों पर पड़ता है। इस तरह, मनुष्य के जीवन में वास्तु का महत्व अहम होत है। इसके अनुरूप घर का निर्माण करने से उसमें सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है।... और पढ़ें

वास्तुभूमि चयनमुहूर्तवास्तु पुरुष एवं दिशाएं

ब्रह्म स्थान का दोष ब्रह्मा जी का प्रकोप (स्वास्थ्य, वंश व आर्थिक हानि)

मई 2011

व्यूस: 16335

ब्रह्मस्थान में ही सीढ़ियों के नीचे भूमिगत जल स्रोत था जिससे घर में गंभीर स्वास्थ्य परेशानियां होती हंै, विशेषतः पेट संबंधी (आप्रेशन तक हो सकते हैं), घर में अनचाहे खर्चे होते रहते हैं अथवा दिवालियापन तक भी हो सकता है।... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

पिरामिड द्वारा वास्तु दोष निवारण

दिसम्बर 2010

व्यूस: 15379

पिरामिड एक विषेष प्रकार की आकृति है जिसके मध्य में अग्नि का वास है। किसी दिषा विषेष में दोष होने पर उस दिषा में ऊर्जा को बढ़ाने के लिए इनका प्रयोग किस प्रकार से किया जाए आइए जानें-... और पढ़ें

उपायवास्तुवास्तु दोष निवारण

दक्षिण-पश्चिम का दोष प्रगति में बाधक

जुलाई 2013

व्यूस: 14139

चुम्बकीय कंपास के अनुसार 202 डिग्री से लेकर 247 डिग्री के मध्य के क्षेत्र को नैर्ऋत्य (दक्षिण-पश्चिम) दिशा कहते हैं। दक्षिण-पश्चिम का क्षेत्र पृथ्वी तत्व के लिए निर्धारित है। यह सभी तत्वों से स्थिर है। यह दिशा सभी प्रकार की विषमता... और पढ़ें

स्वास्थ्यउपायवास्तुसुखगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारसंपत्ति

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)