वास्तु के कुछ उलझे नियम

दिसम्बर 2009

व्यूस: 9405

किसी भी घर, आफिस या व्यापार को वास्तु सम्मत बनाने में ऐसे अनेकानेक बिंदु एवं नियम आते है. जब की एक नियम मानें तो दूसरे नियम की उपेक्षा होती है. किसी भी घर या आफिस को पूर्णता वास्तु सम्मत बनाना तो संभव ही नहीं हो पाता....... और पढ़ें

ज्योतिषवास्तुभविष्यवाणी तकनीकवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु के सुझाव

वृक्ष का वास्तु में महत्व

मार्च 2014

व्यूस: 9311

पर्यावरण को ठीक रखने के लिए घर के आस पास पेड़-पौधांे का होना आवष्यक है क्योंकि पेड़-पौधे ध्रुवीय आकर्षण से प्रभावित होकर हमारे पर्यावरण को शुद्ध एवं परिष्कृत करतेे हैं।... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु के सुझाव

आपके तत्व का खुशहाली में योगदान

मार्च 2014

व्यूस: 9111

पर्यावरण को ठीक रखने के लिए घर के आस पास पेड़-पौधांे का होना आवष्यक है क्योंकि पेड़-पौधे ध्रुवीय आकर्षण से प्रभावित होकर हमारे पर्यावरण को शुद्ध एवं परिष्कृत करते हैं। कौन सा पौधा हमारे जीवन के लिए उपयोगी है और कौन सा पौधा लगाने से ... और पढ़ें

फेंग शुईवास्तुकृष्णामूर्ति ज्योतिषवास्तु परामर्श

ईशान कोण का कटना, घर से सुख एवं समृद्धि का हटना

जून 2011

व्यूस: 8982

यदि घर में ईशान कोण का कोना कटा हुआ है तो यह एक गंभीर वास्तु दोष है। इस दोष को दूर करने के लिए कुछ सुझाव इस लेख में दिए गए हैं... और पढ़ें

उपायवास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

पर्यावरण वास्तु

अप्रैल 2013

व्यूस: 8417

पर्यावरण को ठीक रखने के लिए घर के आस-पास पेड़ पौधों का होना आवश्यक है। कौन सा पौधा हमारे जीवन के लिए उपयोगी है और कौन सा पौधा लगाने से वास्तु दोष ठीक किया जा सकता है। इसकी जानकारी के लिए कुछ तथ्य यहाँ प्रस्तुत है-... और पढ़ें

उपायवास्तुगृह वास्तुवास्तु के सुझाव

कारखाने या उद्योग में वास्तु का महत्व

अकतूबर 2014

व्यूस: 8383

प्र. कारखाने या उद्योग का निर्माण वास्तु के नियमों के अनुरूप क्यों करना चाहिए ? उ.-कारखाने या उद्योग का निर्माण वास्तु के अनुसार रखने पर, लम्बे समय तक लाभदायक फल देता है जिसके फलस्वरूप समय-समय पर आने वाली कठिनाइयों का... और पढ़ें

वास्तुवास्तु दोष निवारणवास्तु के सुझाव

वास्तु संबंधित प्रश्न

अकतूबर 2010

व्यूस: 8098

प्रद्गन : पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमती हुई सूर्य की परिक्रमा करती है। अर्थात् पृथ्वी स्थिर नहीं है। ऐसे में वास्तु की प्रासंगिकता क्या है? उत्तर : यह सही है कि पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमती हुई सूर्य की परिक्रमा करती है, साथ ही हमारा पूर... और पढ़ें

स्वास्थ्यवास्तुसुखगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारसंपत्ति

दिशाओं में छिपी समृद्धि: पंचतत्व व इष्टदेव

अप्रैल 2012

व्यूस: 7962

व्याधिं मृत्यं भय चैव पूजिता नाशयिष्यसि। सोऽह राज्यात् परिभृष्टः शरणं त्वां प्रपन्नवान।। प्रण्तश्च यथा मूर्धा तव देवि सुरेश्वरि। त्राहि मां पùपत्राक्षि सत्ये सत्या भवस्य नः।। ”तुभ पूजित होने पर व्याधि, मृत्यु और संपूर्ण भयों का ना... और पढ़ें

देवी और देववास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारसंपत्ति

सुखमय गृह वास्तु के 51 सूत्र

जनवरी 2010

व्यूस: 7875

प्रस्तुत लेख में वास्तु विशेषज्ञ पं. जय प्रकाश शर्मा द्वारा वास्तु दोष संबंधी विभिन्न समस्याओं के समाधान प्रस्तुत है जो पाठकों को विभिन्न सूत्र व उपाय बताकर उनके ज्ञान वर्धन में सहायक सिद्ध होगा।... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु एवं ज्योतिष

फ़रवरी 2013

व्यूस: 7827

वास्तु का ज्योतिष से संबंध बहुत गहरा और अटूट हैं। दोनों एक-दूसरे के पूरक शास्त्र हैं। ज्योतिष,एक वेदांग है तो वास्तु उपवेद हैं। अर्थात वास्तु, वैदिक ज्योतिष का ही एक मुख्य भाग हैं।... और पढ़ें

ज्योतिषवास्तु

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)