brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer
वास्तु शास्त्र - दाम्पत्य जीवन

दिसम्बर 2014

व्यूस: 5372

आज का मानव अर्थ के पीछे दौड़ रहा है एवं भौतिक सुखों की प्राप्ति के लिए प्रयत्नशील है। पाश्चात्य संस्कृति अनुसार संस्कारों में परिवर्तन के साथ-साथ निवास/व्यवसाय/स्थल में भी वास्तु नियमों की अवहेलना की जा रही है जिससे परिवार सीमित... और पढ़ें

वास्तुविवाहवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएं

विवादित वास्तु

मई 2013

व्यूस: 5283

्रश्न: ब्रह्म स्थान ऊंचा अथवा नीचा, कैसा होना चाहिए? यहां क्या बनाया जा सकता है? क्या यहां मंदिर बनाया जा सकता है? ब्रह्म स्थान बंद होने से क्या समस्याएं हो सकती हैं? इसका दोष-निवारण कैसे हो सकता है?... और पढ़ें

उपायवास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारवास्तु के सुझाव

प्राकृतिक ऊर्जा संतुलन

जून 2013

व्यूस: 5222

हमने आपको अपने पिछले अंकों में रंगांे के महत्व के बारे में बताया था तथा यूनीवर्सल थर्माे स्कैनर की सहायता से हम किन क्षेत्रों में कार्य कर सकते हैं, से भी अवगत कराया था। इस अंक से हम ऊर्जा के विषय में थोड़ी सी जानकारी देना चाहेंगे।... और पढ़ें

उपायवास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधार

दिशा का ग्रहों से संबंध एवं दोष निवारण के उपाय

जून 2014

व्यूस: 5159

प्रश्न: किसी भी भवन में दक्षिण दिषा का क्या महत्व है? इस दिषा में दोष होने पर क्या प्रभाव पडता है? उत्तर: दक्षिण दिषा का स्वामी यम, आयुध दंड एवं प्रतिनिधि ग्रह मंगल है। मंगल सांसारिक कार्यक्रम को संचालित करने वाली विष... और पढ़ें

वास्तुवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु दोषों के कारण लोग करते हैं आत्महत्या

जुलाई 2013

व्यूस: 5100

आए दिन हम समाचार पत्रों, टीवी चैनलों, पत्रिकाओं आदि में आत्महत्या की दिल दहलाने वाली खबरें पढ़ते एवं देखते हैं। हाल ही में बाॅलीवुड के बड़े सितारों के साथ काम कर चुकी 25 वर्षीय फिल्म अभिनेत्री जिया खान ने प्यार में नाकामी और भविष्... और पढ़ें

वास्तुवास्तु दोष निवारण

विभिन्न दिशाओं में रसोई घर

दिसम्बर 2014

व्यूस: 5009

रसोई घर यानि भारतीय गृहिणी का हृदय, क्योंकि भारतीय गृहिणी का सबसे ज्यादा समय जिस स्थान पर व्यतीत होता है वह है उसका रसोई घर। उसकी दिनचर्या रसोईघर से ही प्रारंभ और रसोईघर में ही समाप्त होती है। अतः एक तरह से रसोईघर पूरे घर क... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

दिशा का ग्रहों से संबंध एवं दोष निवारण के उपाय

मई 2014

व्यूस: 5004

वास्तु शास्त्र का मुख्य आधार ज्योतिष शास्त्र है। जिस प्रकार ग्रहों के अनुकूल और प्रतिकूल प्रभाव मानव जीवन पर पड़ते हंै उसी प्रकार ग्रह अपने शुभ और अशुभ प्रभाव से वास्तु की दिशाओं को प्रभावित कर उस मकान में रहने वाले के ... और पढ़ें

ज्योतिषउपायवास्तुवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

पिरामिड

जुलाई 2013

व्यूस: 5004

प्रश्न- पिरामिड किसे कहते हैं? उत्तर- पिरामिड का षाब्दिक अर्थ होता है सूच्याकार पत्थर का खंभा। मिश्रवासियों के अनुसार पिरामिड दो षब्दों से बना है। पिरा ;च्लतंद्ध एवं मिड ;डपकद्ध। दोनों का सम्मिलित अर्थ होता है त्रिकोणाकार ऐसी वस्त... और पढ़ें

उपायवास्तुभूमि चयन

उत्तर के दोष धन हानि व् तनाव के कारण

मार्च 2013

व्यूस: 4988

रसोई के लिए कहा गया की यह दक्षिण पूर्व, दक्षिण या पूर्व या उतर पश्चिम में बनाना ही उतम हैं. परन्तु क्योंकि सीढ़ी या रसोई में से एक को ही अभी वह दक्षिण की ओर कर सकते थे तो उनको रसोई के अन्दर गैस को दक्षिण पूर्व, पूर्व मुखी तथा उतर ... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)