Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

वास्तु एवं कृषि फार्म

अकतूबर 2010

व्यूस: 5302

वास्तुशास्त्र के नियमानुसार कृषि योग्य भूमि के दक्षिण पश्चिम में भारी ऊंची वनस्पति, दक्षिण पूर्व में छोटी वनस्पति एवं उŸार पूर्व में सबसे छोटी वनस्पति लगानी चाहिए। बांस, बेंत, जलने वाली वनस्पति दक्षिण पूर्व में व केले, धान जलीय भ... और पढ़ें

वास्तु

प्राकृतिक ऊर्जा संतुलन

जून 2013

व्यूस: 5129

हमने आपको अपने पिछले अंकों में रंगांे के महत्व के बारे में बताया था तथा यूनीवर्सल थर्माे स्कैनर की सहायता से हम किन क्षेत्रों में कार्य कर सकते हैं, से भी अवगत कराया था। इस अंक से हम ऊर्जा के विषय में थोड़ी सी जानकारी देना चाहेंगे।... और पढ़ें

उपायवास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधार

विवादित वास्तु

मई 2013

व्यूस: 5122

्रश्न: ब्रह्म स्थान ऊंचा अथवा नीचा, कैसा होना चाहिए? यहां क्या बनाया जा सकता है? क्या यहां मंदिर बनाया जा सकता है? ब्रह्म स्थान बंद होने से क्या समस्याएं हो सकती हैं? इसका दोष-निवारण कैसे हो सकता है?... और पढ़ें

उपायवास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारवास्तु के सुझाव

दिशा का ग्रहों से संबंध एवं दोष निवारण के उपाय

जून 2014

व्यूस: 5094

प्रश्न: किसी भी भवन में दक्षिण दिषा का क्या महत्व है? इस दिषा में दोष होने पर क्या प्रभाव पडता है? उत्तर: दक्षिण दिषा का स्वामी यम, आयुध दंड एवं प्रतिनिधि ग्रह मंगल है। मंगल सांसारिक कार्यक्रम को संचालित करने वाली विष... और पढ़ें

वास्तुवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु दोषों के कारण लोग करते हैं आत्महत्या

जुलाई 2013

व्यूस: 5049

आए दिन हम समाचार पत्रों, टीवी चैनलों, पत्रिकाओं आदि में आत्महत्या की दिल दहलाने वाली खबरें पढ़ते एवं देखते हैं। हाल ही में बाॅलीवुड के बड़े सितारों के साथ काम कर चुकी 25 वर्षीय फिल्म अभिनेत्री जिया खान ने प्यार में नाकामी और भविष्... और पढ़ें

वास्तुवास्तु दोष निवारण

दिशा का ग्रहों से संबंध एवं दोष निवारण के उपाय

मई 2014

व्यूस: 4945

वास्तु शास्त्र का मुख्य आधार ज्योतिष शास्त्र है। जिस प्रकार ग्रहों के अनुकूल और प्रतिकूल प्रभाव मानव जीवन पर पड़ते हंै उसी प्रकार ग्रह अपने शुभ और अशुभ प्रभाव से वास्तु की दिशाओं को प्रभावित कर उस मकान में रहने वाले के ... और पढ़ें

ज्योतिषउपायवास्तुवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

विभिन्न दिशाओं में रसोई घर

दिसम्बर 2014

व्यूस: 4945

रसोई घर यानि भारतीय गृहिणी का हृदय, क्योंकि भारतीय गृहिणी का सबसे ज्यादा समय जिस स्थान पर व्यतीत होता है वह है उसका रसोई घर। उसकी दिनचर्या रसोईघर से ही प्रारंभ और रसोईघर में ही समाप्त होती है। अतः एक तरह से रसोईघर पूरे घर क... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

विवादित वास्तु

जून 2013

व्यूस: 4907

विभिन्न दिशाओं (आठों दिशाओं) में बोरवेल होने के अच्छे या बुरे क्या-क्या प्रभाव हो सकते हैं? यदि आपके अनुसार उस स्थान पर बोरवेल का होना नुकसानदायक है तो उसके दोष को ठीक करने के लिए क्या-क्या उपाय किया जाना चाहिए?... और पढ़ें

उपायवास्तुवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

उत्तर के दोष धन हानि व् तनाव के कारण

मार्च 2013

व्यूस: 4903

रसोई के लिए कहा गया की यह दक्षिण पूर्व, दक्षिण या पूर्व या उतर पश्चिम में बनाना ही उतम हैं. परन्तु क्योंकि सीढ़ी या रसोई में से एक को ही अभी वह दक्षिण की ओर कर सकते थे तो उनको रसोई के अन्दर गैस को दक्षिण पूर्व, पूर्व मुखी तथा उतर ... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)