Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

वास्तु सम्मत अस्पताल

अकतूबर 2010

व्यूस: 4877

अस्पताल एक ऐसा स्थल है जो समाज के लिए स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करता है। अतः ऐसे संस्थान का निर्माण वास्तु के नियमों के अनुसार होना चाहिए जिससे बीमार व्यक्ति यथाशीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्राप्त कर सकें। इससे डॉक्टर और मरीज दोनों को लाभ ह... और पढ़ें

स्वास्थ्यवास्तुभवनसुखव्यवसायिक सुधारसंपत्ति

पिरामिड

जुलाई 2013

व्यूस: 4877

प्रश्न- पिरामिड किसे कहते हैं? उत्तर- पिरामिड का षाब्दिक अर्थ होता है सूच्याकार पत्थर का खंभा। मिश्रवासियों के अनुसार पिरामिड दो षब्दों से बना है। पिरा ;च्लतंद्ध एवं मिड ;डपकद्ध। दोनों का सम्मिलित अर्थ होता है त्रिकोणाकार ऐसी वस्त... और पढ़ें

उपायवास्तुभूमि चयन

वास्तु व् मनुष्य पर रंगों का प्रभाव

अप्रैल 2013

व्यूस: 4853

वास्तु एक ऊर्जा का खेल है जो सूर्य की किरणों और पृथ्वी की चुम्बकीय तरंगों का मिश्रित खेल है। सूर्य की किरणे जो हमें सफेद दिखाई देती है वे सफेद न होकर सात रंगों का संयोजन है।... और पढ़ें

उपायवास्तु

दक्षिण पूर्व में बोरिंग परिवार के लिए घातक

फ़रवरी 2011

व्यूस: 4795

किसी भवन में पानी की दृष्टि से बोरिंग का अपना एक विशिष्ट महत्व है। लेकिन आइए, जानें किस दिशा में किया गया बोरिंग परिवार के लिए अनेक व्यवधान उत्पन्न करने वाला सिद्ध हो सकता है तथा इस दिशा में क्या उपाय कारगर सिद्ध हो सकता है।... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु दोषों से उत्पन्न कष्ट

जुलाई 2010

व्यूस: 4773

वास्तु दोषों से उत्पन्न कष्ट अक्सर मानव जीवन में उथल पुथल पैदा कर देते हैं। आवश्यकता है यह जानने की कि दोष कहां है, समाधान के लिए प्रस्तुत है यह लेख।... और पढ़ें

वास्तुभविष्यवाणी तकनीकवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु शिक्षा

फ़रवरी 2011

व्यूस: 4766

वास्तु विज्ञान में विभिन्न दिशाएं किन-किन बातों का प्रतिनिधित्व करती है। आइए, जानें, भवन निर्माण के क्षेत्र में इनका लाभ किस प्रकार लिया जा सकता है और क्या सावधानी बरती जा सकती है।... और पढ़ें

वास्तुशिक्षाभविष्यवाणी तकनीकवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

घर का हाल बताए ड्राइंग हाळ

मार्च 2008

व्यूस: 4710

यदि मुख्यद्वार के बायें हाथ की खिडकी हाळ से जुडी हो तो घर की मालकिन और उसकी कोई बेटी बहुत ही संवेदनशील और बुद्धिमान होती है। वे दूसरों को अपने स्वभाव के कारण बहुत सरलता से धोखा दे देती है।... और पढ़ें

वास्तुभवनवास्तु दोष निवारणवास्तु के सुझाव

सीढ़ियों का बंद होना- विकास में अवरोधक

जून 2013

व्यूस: 4706

पिछले सप्ताह पंडित जी का गांधी नगर दिल्ली की एक मशहूर कपड़ों के थोक की दुकान/ शो रुम पर वास्तु परीक्षण करने के लिए जाना हुआ। वहां जाने पर उन्होंने बताया कि उनकी दुकान पूरे गांधी नगर की सबसे प्रसिद्ध दुकान है, पर जितनी कमाई होनी चाह... और पढ़ें

उपायवास्तुवास्तु परामर्शवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

व्यावसायिक एवं गृह वास्तु

सितम्बर 2009

व्यूस: 4672

प्रश्नः व्यावसायिक एवं गृह वास्तु में विशेष रूप से क्या अंतर होता है। इनके वास्तु दोषों का सुधार किस प्रकार संभव है?... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

भवन और वास्तु

दिसम्बर 2014

व्यूस: 4591

वास्तु क्या है, इसकी परिभाषा क्या है, इसकी जरूरत क्यों आ पड़ी? क्या यह प्राचीन काल में भी प्रचलित था? इन सब पर हम गौर करेंगे इस लेख के द्वारा। वास्तु अर्थात व्$अस्तु यानि बसने हेतु या जिससे बसा जा सके, जिसमें निवास किया जा सके। ... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)