Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

वास्तु के दृष्टिकोण से वैष्णो देवी मंदिर

अप्रैल 2014

व्यूस: 6276

पवित्र भारत भूमि का कण कण देवी-देवताओं के चरण रज से पवित्र है। इसलिए भारत में हर जगह तीर्थ है। परन्तु कुछ तीर्थ ऐसे भी हैं जो भारत ही नहीं पूरे विष्व की धर्मपरायण जनता को अपनी ओर आकर्षित करते हंै। इन तीर्थों के दर्षन हर वर... और पढ़ें

फेंग शुईदेवी और देवस्थानअध्यात्म, धर्म आदिवास्तुभवनमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

लोशु ग्रिड

जुलाई 2010

व्यूस: 5692

लोशु चक्र अंक ज्योतिष का चक्र है, जिससे जातक के जीवन में वांछनीय बदलाव कर लाभ प्राप्त किए जा सकते हैं। आइए जानें लोशु ग्रिड क्या है और उसका उपयोग कैसे करें ?... और पढ़ें

अंक ज्योतिषवास्तुचाइनीज ज्योतिषवास्तु के सुझाव

वास्तु में दिशा ज्ञान

अप्रैल 2015

व्यूस: 5657

प्र.: भवन में पूर्व दिशा का क्या महत्व है ? उ.: वास्तु शास्त्र का मुख्य आधार ज्योतिष शास्त्र है। जिस प्रकार ग्रहों के अनुकूल और प्रतिकूल प्रभाव मानव जीवन पर पड़ते हंै उसी प्रकार ग्रह अपने शुभ और अशुभ प्रभाव से वास्तु की दिशा... और पढ़ें

वास्तुभविष्यवाणी तकनीकवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु से संवारे अपना कैरियर

अप्रैल 2010

व्यूस: 5639

आजकल की तेज तर्रार जिंदगी में प्रत्येक माता-पिता अपने बच्चों के कैरियर के प्रति इतने सजग हो गए हैं कि, जैसे ही उनका लड़का या लड़की 10 वीं पास करते हैं वह उसके कैरियर के लिए ऐसी राहें तलाद्गाने लगते हैं कि, जिससे की उनके बच्चे को अच्... और पढ़ें

स्वास्थ्यवास्तुसुखगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारव्यवसायसंपत्ति

वास्तु शास्त्र का महत्व एवं उपयोगिता

फ़रवरी 2011

व्यूस: 5628

प्रकृति की अनंत शक्तियां इस ब्रह्मांड में सृष्टि, विकास और प्रलय की प्रक्रिया को संचालित करती रहती है। इस दृष्टि से पंच महाभूत किस प्रकार प्रकृति की अनंत शक्तियों को नियंत्रित करते हैं, आइए, जानें वास्तु शास्त्र का महत्व और उपयोगि... और पढ़ें

वास्तुवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएंवास्तु के सुझाव

वास्तु शास्त्र के मूलभूत शास्त्रीय सिद्धांत

अकतूबर 2007

व्यूस: 5606

वास्तु के कुछ मूलभूत वैज्ञानिक सिद्धांत हैं। इन सिद्धांतों के आधार पर ही कोई निर्माण कार्य किया जाना चाहिए - चाहे वह किसी भवन का निर्माण हो, किसी प्रासाद का निर्माण हो या फिर किसी पुर का निर्माण हो। इनके प्रतिकूल निर्माण कार्य करन... और पढ़ें

वास्तुटैरो

विवादित वास्तु

अप्रैल 2013

व्यूस: 5481

घर अथवा व्यावसायिक प्रतिष्ठान का दक्षिण -पश्चिम भाग यदि नीचा अथवा दबा हुआ हो तो यह किस प्रकार की परेशानियां पैदा कर सकता है। इन परेशानियों से बिना तोड़-फोड़ किये कैसे निजत पायी जा सकती हैं।... और पढ़ें

उपायवास्तुभवनगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारवास्तु के सुझाव

राहु-केतु फैलाते है रेडिएशन

अप्रैल 2011

व्यूस: 5474

होरा शास्त्र में राहु केतु की युति जातक के जीवन में जिस प्रकार अनेक विकट स्थितियों को पैदा करती है उसी प्रकार मेदिनी संहिता के अनुसार इसकी परिधि में आने वाले देश भी ज्योतिषीय तथ्यों के आधार पर उद्घोष कर रहे हैं कि सूर्य से इन दोनो... और पढ़ें

उपायवास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधार

वास्तु और पर्यावरण

जून 2010

व्यूस: 5347

वृक्षों और पौधों को वास्तु में उचित महत्व देने से हमें प्रकृति के साथ रहने का आनंद प्राप्त होता है। प्रत्येक व्यक्ति को अपनी राशि व नक्षत्र के अनुसार वृक्षारोपण करना चाहिए। प्रस्तुत है नक्षत्र राशि व ग्रह और वृक्षों से संबंधित जान... और पढ़ें

उपायवास्तुगृह वास्तुवास्तु के सुझाव

वास्तु शास्त्र - दाम्पत्य जीवन

दिसम्बर 2014

व्यूस: 5305

आज का मानव अर्थ के पीछे दौड़ रहा है एवं भौतिक सुखों की प्राप्ति के लिए प्रयत्नशील है। पाश्चात्य संस्कृति अनुसार संस्कारों में परिवर्तन के साथ-साथ निवास/व्यवसाय/स्थल में भी वास्तु नियमों की अवहेलना की जा रही है जिससे परिवार सीमित... और पढ़ें

वास्तुविवाहवास्तु परामर्शवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएं

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)