brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer

अन्य पराविद्याएं


पति-पत्नी में आए दिन झगड़े या शक

फ़रवरी 2015

व्यूस: 25887

जरा सोचकर देखें कि जब नई-नई शादी होने वाली होती है या हो जाती है तो मन में न जाने कितने सपने होते हैं, ऐसे सपने हर कोई देखता या सोचता है, मां बाप भी अपने बहू के अरमान लिए होते हैं,... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंलाल किताबभविष्यवाणी तकनीक

षट्कर्मों की विधि,आधार एवम् वास्तविकता

आगस्त 2010

व्यूस: 22557

शांति, वश्य, स्तंभन, उच्चाटन, मारण व विद्वेषण इन छठ कर्मों को षट्कम कहा गया है परंतु कुछ मंत्र विशारद इसमें दस कर्मों का निरूपण करते हैं। इस आलेख में इनके संपादन की विधि, आधार और प्रभाव पर प्रकाश डालने का प्रयास किया गया है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायआकर्षणशत्रुसुखसंपत्ति

शरीर के सात चक्र

अकतूबर 2010

व्यूस: 21384

चक्र एक संस्कृत शब्द है जिसका अर्थ है पहिया। मानव शरीर में छोटे, मध्यम एवं प्रमख कुुल मिलाकर 41 चक्र हैं, ये चक्र लगातार चक्कर लगाते हुए ऊर्जा केंद्र हैं जो औरा (प्रभामंडल) के अत्यंत महत्वपूर्ण अंग हैं।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंविविध

तंत्र शास्त्र का कल्पतरु श्वेतार्क

आगस्त 2011

व्यूस: 20741

तांत्रिक प्रयोगों में श्वेतार्क पौधे का प्रयोग बहुतायत में किया जाता है. इस पौधे के प्रयोग से किए गये विभिन्न प्रयोगों से साधक कों विजय प्राप्त, संतान प्राप्त की जा सकती है. प्रस्तुत है मनोइच्छओं की प्राप्ति के तांत्रिक उपाय विवरण... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायविविध

आगस्त 2014

व्यूस: 20247

जिस स्त्री के पैर के तलवे चिकने, मुलायम, पुष्ट, लाल पसीने से रहित हों वह स्त्री जीवन में अत्यधिक सुख भोगती है और मान सम्मान व धन की कमी उसके जीवन में नहीं होती। पादतल रेखा जिस स्त्री के तलवे में शंख, चक्र, कमल इत्याद... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंविविध

षट्कर्म साधन

आगस्त 2010

व्यूस: 18383

शरीर एवं मन के रोगों की शांति से लेकर किसी को अपनी ओर आकर्षित करने या स्तंभन करने के लिए भारतीय वेद शास्त्रों में अनेक प्रकार के अनुष्ठानों का वर्णन है। प्रसतुत लेख में षट्कर्म साधना क्रिया की विधि व विभिन्न कार्यों के लिए कौन सा ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायबाल-बच्चेशिक्षाशत्रुमंत्रविवाहसफलतासंपत्ति

नजर दोष वैज्ञानिक आधार लक्षण और निवारण

मार्च 2010

व्यूस: 16650

भारतीय समाज में नजर लगना और लगाना एक बहु प्रचलित शब्द है। लगभग प्रत्येक परिवार में नजर दोष निवारण के उपाय किए जाते हैं। घरेलू महिलाओं का मानना है कि बच्चों को नजर अधिक लगती है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायविविधटोटके

अंग लक्षण एवं सामुद्रिक का परस्पर सम्बन्ध

अप्रैल 2011

व्यूस: 15649

हस्तरेखाषास्त्र, अंग लक्षण विद्या और सामुद्रिक क्या तीनों एक है? उनका परस्पर क्या संबंध है और हस्तरेखा को सामुद्रिक क्यों कहते हैं इन सभी का उत्तर इस लेख में दिया गया है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंहस्तरेखा शास्रमुखाकृति विज्ञानभविष्यवाणी तकनीक

पांव तले छिपा भविष्य

अप्रैल 2011

व्यूस: 14085

प्रसिद्ध आचार्य वराहमिहिर ने पांव के तलवे के रेखाओं के बारे में और उनसे पता चलने वाले बातों के बारे में जो कहा है उसकी संक्षिप्त जानकारी के लिए पढिए यह लेख।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंमुखाकृति विज्ञानभविष्यवाणी तकनीक

पंच पक्षी की विशेषतायें एवं स्वभावगत लक्षण-2

मई 2014

व्यूस: 13999

संपूर्ण मानव समुदाय के लिए पांच भिन्न पक्षियां निरूपित की गई हैं। पक्षी का निर्धारण जन्म नक्षत्र एवं शुक्ल पक्ष/कृष्ण पक्ष में जन्म के आधार पर किया जाता है। इन पांचों पक्षियों की अपनी विशेषतायें एवं स्वभावगत लक्षण होते हैं। ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंविविधपंच पक्षीभविष्यवाणी तकनीक

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)