Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

अन्य पराविद्याएं


शारीरिक लक्षण देखकर भविष्यवाणी

आगस्त 2014

व्यूस: 104566

इस संसार में भिन्न-भिन्न शारीरिक लक्षणों से युक्त मनुष्य पाये जाते हैं जिनका भविष्य भी शारीरिक लक्षणों के अनुसार भिन्न-भिन्न होता है। प्रत्येक मनुष्य के मस्तक, भौंहें, नाक, आंख, गाल, होठ, दांत, जीभ, कान, बाल को देखकर भ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंमुखाकृति विज्ञानभविष्यवाणी तकनीक

सन्निकट भविष्य के संकेतक हैं शुभाशुभ शकुन

जून 2012

व्यूस: 99671

जन्म हम शकुन पर विचार करते है तो कई प्रकार के विचार मस्तिष्क में आते हैं, शरीर के अंगों के फडकने के बारें, छींक के बारे में और अन्यान्य जंतुओं के बारे में। प्राचीन काल में हमारे परम्परागत ऋषि वनों में रहते थे. वे अपनी जीवन शैली के... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंशकुन

विविध तंत्र प्रयोग

आगस्त 2010

व्यूस: 93179

प्राचीन शास्त्रों में तंत्र विद्या को गुप्त रखने का निर्देश दिया गया है। शास्त्र कहते हैं यह विद्या उसी को देनी चाहिए जो गुरु भक्त है। यहां तंत्र के कुछ प्रयोग प्रस्तुत है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंकाला जादूविविध

भविष्य का आभास कराते शकुन-अपशकुन

जून 2010

व्यूस: 92130

गृहस्थी में रोजाना काम में आने वाली चीजों से भी शकुन-अपशकुन जुड़े होते हैं। जो जीवन में कई महत्वपूर्ण मोड़ लाते हैं। प्रस्तुत लेख में घर से जुड़ी वस्तुओं के शकुनों के बारे में उल्लेख किया गया है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंशकुनभविष्यवाणी तकनीक

दत्तात्रेय तंत्र में वशीकरण प्रयोग

आगस्त 2010

व्यूस: 87274

दत्तात्रेय तंत्र देवाधिदेव महादेव शंकर के साथ महर्षि दत्तात्रेय का एक संवाद पत्र है। इसकी उपासना से शीघ्र कामना की सिद्धि होती है। प्रस्तुत है दत्तात्रेय तंत्र एवं मंत्र उपासना की विधि।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंमंत्रविविध

शकुन-अपशकुन क्या है?

जून 2014

व्यूस: 84711

शकुन-अपशकुन कुछ ऐसी मान्यताएं, जिन्हें आप मानते भी हैं और नहीं भी। लोक व्यवहार में ये बातें जुड़ती चली जाती हैं। समय और परिस्थितियां कई बार आपको ऐसी बातों को मानने को मजबूर कर देती हैं। आइए जानें क्या हैं शकुन-अपशकुन ...... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंशकुन

सम्मोहन

आगस्त 2010

व्यूस: 57539

सम्मोहन विद्या मन की एकाग्रता और ध्यान, धारणा एवं समाधिक का मिला जुला रूप है। सम्मोहन विद्या द्वारा जहां जातक की एक ओर आत्मिक शक्ति प्रबल होती है वही उनके आत्मविश्वास में वृद्धि व इच्छा शक्ति में दृढ़ता आती है। प्रस्तुत है सम्मोहन ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंआकर्षणविविध

शारीरिक लक्षणों व राजचिन्हों से जाने राजयोग

अप्रैल 2011

व्यूस: 56273

सामुद्रिक शास्त्र से हाथ पैर व मस्तिष्क की रेखाओं, विषेष चिन्हों तथा शारीरिक अंगों की वनावट और चेष्टाओं से मनुष्य के व्यक्तित्व और भविष्य को जानने का सही तरीका इस लेख में बताया गया है। विषेष रूप से पंच महापुरूष योग वाले व्यक्तियों... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंमुखाकृति विज्ञानभविष्यवाणी तकनीक

बंधन दोष: प्रभाव और निवारण के उपाय

मार्च 2010

व्यूस: 47230

जिस प्रकार देवता हैं, तो दानव भी हंै, अच्छाई है, तो बुराई भी है, मनुष्य हंै, तो राक्षस भी हंै, प्रत्यक्ष है, तो अप्रत्यक्ष भी है, उसी प्रकार षटकर्मों अर्थात आकर्षण, वशीकरण, उच्चाटन, स्तंभन, विद्वेषण और मारण आदि में अच्छे कर्म भी ह... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायविविध

शारीरिक बाधाएं हरने वाली वनस्पतियां

सितम्बर 2006

व्यूस: 44779

हमारे देश में अनेक प्रकार की वनस्पतियां पाई जाती है। हम पूरी तरह से वनस्पतियों पर ही निर्भर है। इसका प्रभाव पोषक, प्राणदायक और विष दायक भी होता है। आयुर्वेद और तंत्र शास्त्र में इनके असंख्य प्रयोग बतलाए गए है। संबधित वनस्पति लाने ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंकाला जादू

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)