अन्य पराविद्याएं


सपनों का सच

जून 2010

व्यूस: 13303

स्वप्न और शकुन क्या वास्तव में किसी तथ्य को उजागर करते हैं या यह हमारे मन का भ्रम मात्र है? इस संसार में कुछ भी अचानक नहीं होता। ईश्वर ने हर होने वाले कर्म व फल बताने के लिए भी स्वप्न व शकुन के रूप में व्यवस्था कर रखी है प्रस्तुत ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंसपनेशकुनभविष्यवाणी तकनीक

भूत-प्रेत बाधा: पहचान और निदान शाबर मंत्र अनुष्ठान

मार्च 2010

व्यूस: 12862

भूत-प्रेतों की गति एवं शक्ति अपार होती है। इनकी विभिन्न जातियां होती हैं और उन्हें भूत, प्रेत, राक्षस, पिशाच, यम, शाकिनी, डाकिनी, चुड़ैल, गंधर्व आदि विभिन्न नामों से पुकारा जाता है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायमंत्रविविध

शुभाशुभ स्वप्नों के पुराणोक्त फल

जून 2010

व्यूस: 12836

सतयुग में जब भगवान विष्णु ने मत्स्यावतार लिया था, तो मनु महाराज ने उनसे मनुष्य द्वारा देखे गए शुभाशुभ स्वप्न फल का वृतांत बताने का आग्रह किया था। मत्स्य भगवान ने विभिन्न फलों की ओर इंगित करते हुए जिसका वर्णन किया उसकी प्रस्तुति इस... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंअध्यात्म, धर्म आदिसपनेभविष्यवाणी तकनीक

शकुन विचार

जून 2014

व्यूस: 12560

शकुन के विषय में गोस्वामी तुलसीदास जी ने अपने विचार ‘दोहावली’ (460, 461) मंे इस प्रकार व्यक्त किये हैंः- ‘‘नेवला, मछली, दर्पण, क्षेमकरी चिड़िया (सफेद मुंहवाली चील), चकवा और नीलकंठ- इन्हें दश दिशाओं में कहीं भी देखना शुभ शकु... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंशकुन

धन-संपत्ति प्राप्त करने के स्वप्न

जून 2014

व्यूस: 12004

प्रसिद्ध मनोवैज्ञानिक फ्रायड का कहना है कि बहुत से स्वप्न केवल मनुष्य की इच्छापूर्ति की ओर संकेत करते हैं और ऐसे स्वप्नों को समझने के लिए किसी मनोवैज्ञानिक के पास जाने की आवश्यकता नहीं है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंसपनेसंपत्ति

संतान, स्वास्थ्य, आजीविका एवं वैवाहिक सुख के लिए टोटक

फ़रवरी 2015

व्यूस: 11909

संतान प्राप्ति के उत्तम उपाय: - परिजात का एक कोमल पत्ता व श्वेत पुष्पी कटकारी का मूल लेकर बकरी के दूध में पीसकर माहवारी के बाद स्त्री को लगातार सात दिन तक खिलायें।... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपायबाल-बच्चेभविष्यवाणी तकनीकटोटकेसंपत्ति

ग्रह दोष निवारण तंत्र साधना

सितम्बर 2010

व्यूस: 11088

सर्व ग्रहों की शांति हेतु सर्वग्रह निवारण तंत्र की स्थापना यदि घर या कार्यस्थल में कर ली जाए तो व्यक्ति को ग्रह जनित पीड़ा से मुक्ति व मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंमंत्रभविष्यवाणी तकनीक

स्वप्नोत्पत्ति विषयक विभिन्न सिद्धांत एक अध्ययन

जून 2014

व्यूस: 11065

भारतीय मनीषियों ने विष्व में उपलब्ध समस्त विषयों का दार्षनिक पृष्ठभूमि में विष्लेषण करने की परम्परा का सूत्रपात अत्यन्त प्राचीन काल से ही कर दिया था। भौतिक पदार्थों से लेकर, मोक्षादि दृष्टातीत व अलौकिक विषय भी इससे अछूते नहीं ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंसपने

शारीरिक हाव-भाव द्वारा पुरूष व्यक्तित्व की पहचान

आगस्त 2014

व्यूस: 10957

उदर (पेट) जिस व्यक्ति का पेट आगे को निकला हुआ हो, यह शुभ लक्षण नहीं है। जबकि ऐसा व्यक्ति जिसका उदर बराबर सा हो, वह धन ऐश्वर्य संपन्न होता है। जिसका पेट घड़े के समान हो, यह निशानी दरिद्रता की है। जिसका पेट व्याघ्र या सि... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंविविधभविष्यवाणी तकनीक

क्या है स्वप्न का विज्ञान?

जून 2010

व्यूस: 10703

हमारे मस्तिष्क को दिन भर जो सिगनल मिलते हैं और भावनाएं जागृत होती है जिन्हें हम चाह कर के भी नहीं प्रकट कर पाते वह हमारे अवचेतन मन में दर्ज होते जाते हैं रात को जब शरीर आराम कर रहा होता है तब यह स्वप्न रूप में प्रकट होते हैं। जानि... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंसपने

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)