दैनिक जीवन के महत्वपूर्ण टोटके

दैनिक जीवन के महत्वपूर्ण टोटके  

- किसी कार्य में बार-बार बाधाएं या रूकावट आ रही हंै, विफलता या विलंब हो रही है तो बुधवार से 21 दुर्बा पीले चंदन में लगा कर गणेश जी पर ‘‘ऊँ गं गणपतये नमः’’ मंत्र के साथ अर्पित करें। प्रत्येक दुर्बा के साथ मंत्र बोलें तथा इक्कीस दिन रोज चढ़ायें, फिर 21 बुध चढ़ायंे। चमत्कारी सफलता सामने होगी। - अगर शनि ग्रह की दशा अशुभ चल रही है जो काफी मानसिक, शारीरिक एवं कार्य व्यवसाय में बाधा की स्थिति आ रही है तो एक गमले में एक छोटा सा पीपल का पौधा, एक तुलसी का पौधा, एक ही गमले में लगा कर प्रत्येक दिन मीठा जल ‘‘ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय’’ मंत्र के साथ शनिवार से रोज चढ़ायें (रविवार छोड़कर)। तीन महीना जल दें एक आश्चर्य चकित परिणाम सामने देखें। इसमंे पीपल का पेड़ खोजने एवं बाहर जाने की जरूरत नहीं रहती है। - अगर आपके घर में वास्तुदोष लगा है जिससे आप सही नहीं कर पा रहे हों एवं परेशनियां चल रही हों तो लकड़ी का गणेश जी एवं दो तरफ से स्वास्तिक बना कर उसे मुख्य दरवाजा में अंदर से ऊपर की ओर बीच में गणेश जी एवं दो तरफ से स्वास्तिक बनाकर उसके मुख्य दरवाजा में अंदर से ऊपर की ओर बीच में गणेशजी दोनों तरफ से दो स्वास्तिक लटका कर टांग दें। घर में सुख शांति नजर आयेगी। वास्तु दोष दूर करने का महत्वपूर्ण उपाय है। इसे आजमा कर देखें। - रात्रि में बच्चा रोए, चिल्लाये या डरे तो बच्चे के सिरहाने में सफेद फिटकरी का टुकड़ा सादे कपड़े में बांधकर रखें। बच्चे का डर समाप्त हो जाएगा। असर देखें। - यदि परिवार के लोगों के बीच आपसी मनमुटाव हो तो अकवन (फूल) के पौधे के गणेश जी एवं स्वास्तिक मुख्य द्वार में अंदर से एवं बाहर से ऊपर की ओर बीच में गणेश जी दोनों तरफ स्वास्तिक लगा दें। तीन महीने के अंदर लोगों के विचार परिवार में एक होते नजर आएंगे। - किसी व्यक्ति को पुत्र संतान नहीं हो रहा हो तो सोमवार को शिवजी के मंदिर में जाकर कच्चा दूध, फल फूल एवं पांच बेल पत्र जिसमें प्रत्येक पत्र पर चंदन से ‘पुत्र संतान’ लिखा हो शिवजी के लिंग पर 21 सोमवार या एक साल हर सोमवार पत्नी या पति चढ़ायें, निश्चित रूप से पुत्र की प्राप्ति होगी। - अगर खूब पैसा कमाते हों परंतु हाथ में पैसा टिकता नहीं है, तुरंत खर्च हो जाता है तो दाहिने हाथ की छोटी अंगुली में हरा जेड या पन्ना या ओनेक्स पांच से सात रत्ती का सोने या ब्राँज धातु में बनाकर बुधवार को लक्ष्मी जी पर स्पर्श कर पहनें। आपको लाभ होगा। - पूजा के समय या गुरु मंत्र के ध्यान के समय या पूजा करने के समय मन में बेचैनी या मन नहीं लगता, विचलित लगता है तो हर बृहस्पतिवार को पीला वस्तु, केला, गुड़, चने की दाल गाय को खिलायें। 21 बृहस्पतिवार या एक साल तक ऐसा करें आपको अवश्य ही लाभ होगा। - किसी को मानसिक परेशानी, रोग या स्मरण शक्ति कमजोर हो तो हर बुधवार या बीच-बीच में बुधवार को हरा चारा, साग, केला, मूंग आदि सुबह उठते ही जानवर को खिलायें, स्मरण शक्ति ठीक हो जायेगी। - यदि घर में पिता-पुत्र में मेल नहीं हो या परिवार में आपसी मेल में तनाव, झंझट, अशांति हो, झगड़े होते हों तो कोई भी व्यक्ति जो रोटी बनाये, तवा गर्म होने पर जल का छींटा मार दे। फिर सभी रोटी बन जाने के बाद जल का छींटा मार दें तभी तवा चूल्हे से नीचे उतारें। इसी प्रकार बने रोटी को परिवार के सभी सदस्य खाएं यह उपाय छः बार करें, आपसी मेल होगा घर में शांति बनी रहेगी। - यदि लड़की की शादी होते-होते टूट जाती है तो 9 बृहस्पतिवार को 108 तुलसी के पत्ते की माला लाल धागा में बनाकर हनुमान जी के मंदिर में चढ़ायें। तुंरत शादी होने का शुभ समाचार मिलेगा। - यदि लड़के की शादी में विलंब हो रहा हो और लड़की नहीं मिल रही हो तो हर शुक्रवार स्नान के जल में दो चम्मच कच्चा दूध डालकर उसी जल से स्नान करें। यह क्रिया 21 शुक्रवार करें शीघ्र ही विवाह होगा। - यदि आपके बच्चे जन्म से ही बराबर सर्दी जुकाम ठंड से बीमार पड़ जाते हैं, इस रोग से बार-बार परेशान हो जाते हैं तो एक चांदी का उल्टा चंद्रमा जिसमें चंद्रमा के अंदर मोती$मूंगा - 5$7 रत्ती का लगा हो काले धागे में सोमवार को बच्चे को पहनायें। चमत्कारी प्रभाव देखें, बच्चे को ठंड की समस्या धीरे-धीरे समाप्त हो जायेगी। - कभी-कभी देखने को मिलता है कि महिलाएं जरूरत से ज्यादा घर की सफाई एवं पानी का खर्च अधिक से अधिक एवं हाथ पैर धोना बार-बार करती हैं। इससे जल देवी दोष लगता है। अतः किसी भी फलदार वृक्ष के नीचे शुक्रवार को रात्रि में स्नान करें एवं उतारे कपड़े को डोम (भंगी) को सुबह में दान दंे। 5 शुक्रवार करें चमत्कारी प्रभाव पायें। - कभी-कभी देखने में आता है कि किसी व्यक्ति के वहम एवं अविश्वास, जीने में संदेह, बचेंगे या नहीं बचेंगे आदि को लेकर पूरा परिवार परेशान हो रहा है तो व्यक्ति को मूंगा दाहिने हाथ की अनामिका अंगुली में मंगलवार को पहनायें। हनुमानजी के 12 नाम का पाठ 5 बार या 12 बार करें। कुछ ही दिनों में व्यक्ति स्वस्थ एवं निडर तथा मजबूत नजर आयेगा।

लक्ष्मी विशेषांक  नवेम्बर 2015

देवी लक्ष्मी को हर प्रकार का धन एवं समृद्धि प्रदायक माना जाता है। आधुनिक विश्व में सबकी इच्छा आरामदेह एवं विलासितापूर्ण जीवन जीने की होती है। प्रत्येक व्यक्ति कम से कम मेहनत में अधिक से अधिक धन कमाने की अभिलाषा रखता है इसके लिए देवी लक्ष्मी की कृपा एवं इनका आशीर्वाद आवश्यक है। दीपावली ऐसा त्यौहार है जिसमें देवी लक्ष्मी की पूजा अनेक तरीकों से इन्हें खुश करने के उद्देश्य से की जाती है ताकि इनका आशीर्वाद प्राप्त किया जा सके। फ्यूचर समाचार के वर्तमान अंक में प्रबुद्ध लेखकों ने अपने सारगर्भित लेखों के द्वारा देवी लक्ष्मी को खुश करने के अलग अलग उपाय बताए हैं जिससे कि देवी उनके घर में धन-धान्य की वर्षा कर सकें, अच्छा स्वास्थ्य प्रदान करें तथा पदोन्नति दें। बहुआयामी महत्वपूर्ण लेखों में सम्मिलित हैं: पंच पर्व दीपावली, लक्ष्मी प्राप्ति के अचूक एवं अखंड उपाय, दोष तंत्र- निरंजनी कल्प, लक्ष्मी को खुश करने के उपाय, दीपावली पर धन प्राप्त करने के अचूक उपाय, श्री वैभव समृद्धिदायिनी महालक्ष्मी अर्चना योग, क्यों नहीं रुकती मां लक्ष्मी, लक्ष्मी प्राप्ति के लिए विभिन्न प्रयोग, दीपावली के 21 उपाय एवं 21 चमत्कार आदि। इसके अतिक्ति कुछ स्थायी काॅलम के लेख भी उपलब्ध कराए गये हैं।

सब्सक्राइब

.