महेश चंद्र भट्ट


(17 लेख)
रोजगार एवं धन प्राप्ति के सरल उपाय

आगस्त 2011

व्यूस: 141700

नौकरी, व्यापार अथवा आजीविका के क्षेत्र में प्रयासरत रहने के बाद भी अनुकूल परिणाम प्राप्त न होने पर व्यक्ति के स्वभाव में निराशा का भाव आ सकता है. यही स्थिति शैक्षिक क्षेत्र में देखने में आती है. ऐसे में इस आलेख में दिए गए सरल उपाय... और पढ़ें

उपायकाला जादूमन्दिर एवं तीर्थ स्थलसंपत्ति

लाल किताब के टोटके

मार्च 2011

व्यूस: 112016

राशियों पर आधारित विभिन्न टोटके केवल लाल किताब में दिये गए हैं। आइए, इस लेख द्वारा जानें कि विभिन्न राशि वाले जातकों को सुखी जीवन के लिए क्या-क्या उपाय करने चाहिए।... और पढ़ें

ज्योतिषउपायलाल किताबसफलताटोटकेराशि

स्वप्नों का अर्थ

जून 2010

व्यूस: 34387

स्वप्न निद्रावस्था में ही नहीं देखे जाते, जागृत अवस्था में भी देखे जाते हैं। जब व्यक्ति निद्रावस्था में होता है तो सूक्ष्माकार होकर अपने भूत और भविष्य से संपर्क स्थापित करता है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंसपनेभविष्यवाणी तकनीक

षट्कर्मों की विधि,आधार एवम् वास्तविकता

आगस्त 2010

व्यूस: 14419

शांति, वश्य, स्तंभन, उच्चाटन, मारण व विद्वेषण इन छठ कर्मों को षट्कम कहा गया है परंतु कुछ मंत्र विशारद इसमें दस कर्मों का निरूपण करते हैं। इस आलेख में इनके संपादन की विधि, आधार और प्रभाव पर प्रकाश डालने का प्रयास किया गया है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायआकर्षणशत्रुसुखसंपत्ति

मंत्र से ध्यान एवं समाधि तक

फ़रवरी 2011

व्यूस: 13608

जीवन की समस्याओं को दूर करने में मंत्र की उपयोगिता और उसके सहारे समाधि तक की यात्रा का विवरण और उसके प्रत्यक्ष लाभों का विस्तृत वर्णन यहां किया गया है।... और पढ़ें

उपायमंत्र

उपायों में मंत्र व उपासना का महत्व

सितम्बर 2010

व्यूस: 9420

जन्मकुंडली के क्रूर ग्रह मनुष्य के जीवन में प्रतिकूल एवं कठिन समस्या उत्पन्न करते हैं। इन अनिष्टकारी ग्रहों की शांति पूजा पाठ व मंत्र द्वारा संभव है। प्रस्तुत है नौ ग्रहों की शांति उपाय, बीज मंत्र व दान का विवरण।... और पढ़ें

उपायमंत्र

लग्नानुसार कालसर्प योग का फलादेश

मई 2011

व्यूस: 7768

कालसर्प योग प्रत्येक लग्न में अलग-अलग प्रकार का फल देता है। विभिन्न लग्नों में काल सर्प योग होने पर किस प्रकार के फल मिलते हैं उसका विवेचन लग्नानुसार इस लेख में दिया गया है।... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय योगभविष्यवाणी तकनीक

राशियों द्वारा वास्तु भविष्य

दिसम्बर 2010

व्यूस: 7507

नक्षत्रों की भांति प्रत्येक राशि के भी चार चरण निर्धारित किए गए हैं। प्रत्येक राशि के चरणों में वास्तु का विचार एवं वास्तु के भविष्य का फलकथन किस प्रकार से किया जाए? आइए जानें-... और पढ़ें

ज्योतिषवास्तुभविष्यवाणी तकनीकराशि

स्वामी विवेकानंद, आदिशंकराचार्य

फ़रवरी 2011

व्यूस: 6061

इस पृथ्वी पर अवतरित उस भगवत तत्व की पहचान जिन संत पुरुषों ने की और संसार के सामने उस इश्वरत्व की अभिव्यक्ति की, उनमें स्वामी विवेकानंद तथा आदिशंकराचार्य का नाम प्रमुख है। आइए, उनके व्यक्तित्व तथा कृतित्व के बारे में जानें।... और पढ़ें

प्रसिद्ध लोगयशविविधसफलता

वास्तु में अकंशास्त्र का उपयोग

जुलाई 2010

व्यूस: 4875

वास्तुशास्त्र में अंकों एवं ग्रहों का महत्वपूर्ण स्थान है। कौन सा अंक किस ग्रह से जुड़ा है व आपके नाम के शब्द के साथ कौन सा अंक जुड़ा है इसके आधार पर आप अपना मकान, प्लाट, जगह का निर्धारण करें तो आपके लिए फलदायक होगा।... और पढ़ें

अंक ज्योतिषवास्तुवास्तु के सुझाव

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)