Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

सितंबर 2019 विशेषांक

सितंबर 2019 विशेषांक

फ्यूचर समाचार के इस विशेषांक में - देश-काल-पात्र का ज्योतिषीय महत्व, जन्म नक्षत्र का फल, शीला दीक्षित: दिल्ली की हैट्रिक मुख्यमंत्री का सफर, मधुमेह रोग और ज्योतिष आदि सम्मिलित हैं ।

ऑनलाइन पढ़ें
लाइक करें

लेख

यहां सबकी भरती है झोली

नवेम्बर 2017

व्यूस: 1644

पवित्र, पुनीत और ऐतिहासिक मगध की धरती प्रारंभ काल से ही ऋषि-मुनि, साधक-संत, दरवेश, सूफी संत और फकीरों की साधना स्थली से भरा-पूरा है। आज भी इस पूरे क्षेत्र में एक से बढ़कर एक ऐसे-ऐसे स्थान हैं जहा...और पढ़ें

घर का वास्तु

नवेम्बर 2017

व्यूस: 2162

प्रश्नः- पंडित जी प्रणाम ! हमें बहुत दिनों के प्रयास के बाद यह फ्लैट हमारे बजट में मिल रहा है। यह सोसाइटी भी अच्छी है, हमारे दफ्तर की बस भी आती है तथा यह घर हमारी सब जरूरतों को भी पूरा करता है। कृ...और पढ़ें

शेयर बाजार में मंदी-तेजी

नवेम्बर 2017

व्यूस: 2365

ग्रहों की गोचर स्थिति सूर्य 16 नवंबर को 12 बजकर 22 मिनट पर तुला राशि से वृश्चिक राशि में प्रवेश करेगा। मंगल 30 नवंबर को 5 बजकर 21 मिनट पर कन्या राशि से तुला राशि में प्रवेश करेगा। बुध 2 नवंबर को...और पढ़ें

राहू कि महादशा में नवग्रहों कि अंतर्दशाओं का फल एवं उपाय

आगस्त 2008

व्यूस: 235950

राहू मूलत: छाया ग्रह है, फिर भी उसे एक पूर्ण ग्रह के समान ही माना जाता है। यह आर्द्रा, स्वाति एवं शतभिषा नक्षत्र का स्वामी है। राहू कि दृष्टि कुंडली के पंचम, सप्तम और नवम भाव पर पड़ती है। जिन भावों पर ...और पढ़ें

संतान प्राप्ति के अचूक उपाय

सितम्बर 2014

व्यूस: 246304

यदि किसी व्यक्ति को संतान प्राप्ति में समस्या आ रही हो, तो ऐसे व्यक्ति इस लेख में लिखे गये सरल उपायों को अपना कर संतान की प्राप्ति अति ही सहजता के साथ कर सकते हैं। किंतु उपायों को अति सावध...और पढ़ें

हस्तरेखा से जानें धन नौकरी से अथवा व्यवसाय से

अप्रैल 2017

व्यूस: 1525

वर्तमान समय प्रतिस्पर्धा का समय है, नौकरी व व्यवसाय दोनों ही आजीविका के माध्यम हैं। धन जीवन का एक मुख्य उद्देश्य है। धन नौकरी या व्यवसाय द्वारा हम कमाते हैं। किसी का व्यवसाय सहज ही फलित हो जाता है ...और पढ़ें

शनि ग्रह का धनु राशि से गोचर फल

नवेम्बर 2017

व्यूस: 3575

सूर्य पुत्र शनि हमारे सौर मंडल में सूर्य से सबसे दूर स्थित ग्रह है। इस कारण वह कृष्ण वर्ण, ऊर्जा रहित और शीत प्रकृति ग्रह है। उसकी दृष्टि अशुभ फलदायी होती है। इस बारे में पौराणिक कथा के अनुसार प...और पढ़ें

और लेख पढ़ें