जानें कब होगा विवाह

जानें कब होगा विवाह  

जानें कब होगा विवाह पं. सूर्य प्रकाश गोस्वामी सर्व प्रथम विवाह योग्य लड़के लड़की की जन्म तारीख के आधार पर उनका मूलांक ज्ञात कर लेते हैं। तदुपरांत तालिका संखया 1 से उस मूलांक की किस वर्ष के मूलांक के साथ समानता है, को देखकर विवाह का वर्ष सहज ही जाना जा सकता है। समस्त मूलांकों में से मूलांक 8 सबसे अधिक विवाह आदि में अड़चन अथवा विलंब का कारण बनता है। जो युवक अथवा युवती इससे प्रभावित होते हैं, उनके विवाह में रूकावटें अथवा अड़चने अधिक आती हैं और विवाह में विलंब अवश्य होता है। जब जन्म माह और वर्ष का 8-3-4-6-9 अंकों के साथ संयोग होता है, तब विवाह में विलंब तथा अड़चने आती हैं। साथ ही विवाह के बाद पारिवारिक अशांति भी बनी रहती हैं। जब 8-3-6-9 अंकों में से दो अथवा तीन अंकों का सुयोग होता है, तो विवाह विलंब से होता है।


डिप्रेशन रोग एवं ज्योतिष विशेषांक  September 2017

डिप्रेशन रोग एवं ज्योतिष विशेषांक में डिप्रेशन रोग के ज्योतिषीय योगों व कारणों की चर्चा करने हेतु विभिन्न ज्ञानवर्धक लेख व विचार गोष्ठी को सम्मिलित किया गया है। इस अंक की सत्य कथा विशेष रोचक है। वास्तु परिचर्चा और पावन तीर्थ स्थल यात्रा वर्णन सभी को पसंद आएगा। टैरो स्तम्भ में माइनर अर्कानाफाइव आॅफ वांड्स 64 की चर्चा की गई है। महिलाओं के पसंदीदा स्तम्भ ज्योतिष एवं महिलाएं में इस बार भी रोचक लेख सम्मिलित किया गया है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.