तुला राशि को साढेसाती का प्रभाव सुखद रहेगा

जुलाई 2011

व्यूस: 63192

शनि १५ नवंबर २०११ को तुला राशि में प्रवेश करेंगे शनि की साढेसाती कन्या, तुला, वृश्चिक राशि पर रहेगी। इन तीनों राशियों में तुला राशि के जातकों के लिए शनि की साढेसाती शुभ रहेगी।... और पढ़ें

ज्योतिषमंत्रभविष्यवाणी तकनीक

नाम बदलो भाग्य बदलेगा

जुलाई 2011

व्यूस: 31129

मूलांक एवं भाग्यांक को बदला नहीं जा सकता लेकिन योजनाबद्ध ढंग से यदि नामांक, मूलांक और मूलांक का मेल हो जाए तो व्यक्ति का भाग्य बदलने में देर नहीं लगती। आइए जानें किस प्रकार ...... और पढ़ें

अंक ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीक

विवाह रेखा एवं उसके फल

आगस्त 2006

व्यूस: 14111

विवाह तय करते समय जन्मपत्री मिलान के अतिरिक्त हस्त रेखाओं का अध्ययन भी सावधानीपूर्वक करना चाहिए। क्योंकि जन्मपत्री जन्म समय का ठीक ठाक पता नहीं होने से गलत हो सकती है। परन्तु हस्त रेखा सही होती है। विवाह रेखा के अलावा भाग्य, आयु, ... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

ज्योतिषीय उपायों की सार्थकता

अकतूबर 2012

व्यूस: 8157

ईश्वर ने प्रत्येक मनुष्य का भाग्य उसके पूर्व जन्म के कर्मों के अनुसार लिखा है जिसे कोई भी नहीं बदल सकता। खासकर मनुष्य के जीवन की निम्नांकित तीन घटनाओं को कोई नहीं बदल सकता। 1. जन्म, 2. परण (विवाह) एवं 3. मरण (मृत्यु)। मनुष्य के जी... और पढ़ें

ज्योतिषउपाय

शुभ मुहूर्त मानोगे तो भाग्य बदलेगा

मई 2013

व्यूस: 7080

मुहूर्त बताते हैं कि घड़ियों का लाभ किस तरह उठाया जा सकता है और अशुभ घड़ियों से किस तरह बचा जा सकता है। जन्मपत्रिका यदि शिक्षा में बाधा का स्पष्ट संकेत देती है, तो शुभ मुहूर्त में शिक्षारंभ उन बाधाओं का प्रभाव न्यूनतम कर सकता है।... और पढ़ें

ज्योतिषमुहूर्त

नक्षत्रों से आजीविका चयन और बीमारी का अनुमान

फ़रवरी 2013

व्यूस: 6615

आजीविका चयन का ज्योतिष में प्राचीन और सर्वमान्य नियम यह है की कर्मेश / दशमेश जिस ग्रह के नवांश घर में हो उस ग्रह के गुण धर्म के अनुसार व्यक्ति की आजीविका होगी। इसके अतिरिक्त ज्योतिष ग्रंथों और वृहत संहिता खंड एक के अनुसार १५ में उ... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यनक्षत्रभविष्यवाणी तकनीकव्यवसाय

चिकित्सा ज्योतिष का महत्व

जनवरी 2010

व्यूस: 4576

ज्योतिष एक ऐसी विद्या है जिसके द्वारा बीमारियों का पूर्वानुमान लगाकर उनसे बचने के उपाय किए जाते हैं या उसकी तीव्रता कम की जा सकती है। प्रस्तुत है इस संदर्भ में विभिन्न ग्रह व जन्मपत्री के प्रत्येक स्थान व राशि से शरीर के कौन-कौन स... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यचिकित्सा ज्योतिषभविष्यवाणी तकनीकराशि

जीवन में मुहूर्त की उपयोगिता

जून 2011

व्यूस: 4179

समय की गति को पहचाने बिना जब कोई कार्य किए जाते हैं तो उनमें निष्फलता की संभावना ज्यादा रहती है। इसलिए प्रत्येक कार्य की सहज सिद्धि के लिए शुभ मुहूर्त का उल्लेख शास्त्रों में किया गया है। आइए जानें कौन सी तिथि, वार, किस प्रकार के ... और पढ़ें

ज्योतिषमुहूर्त

डरें नहीं कालसर्प योग से

मार्च 2013

व्यूस: 3351

आधुनिक समय में ज्योतिष की मान्यताओं के अनुसार जब सारे ग्रह राहु और केतु के बीच में आ जायें तो काल सर्पयोग बनता हैं। यदि सभी ग्रह राहु-केतु के मध्य होने पर भी राहु के मुंह की और नहीं हो तो इसे अनुदित काल सर्प योग कहते हैं।... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय योगकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीक

हस्त रेखाओं से जानिए अपनी रुचि

अप्रैल 2011

व्यूस: 3315

इस लेख में विभिन्न प्रकार की बनावट वाले हाथों और उनमें विद्यमान पर्वतों के आधार पर किस विषय में रुचि हो सकती है, इसकी सटीक जानकारी दी गई है।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रउपायभविष्यवाणी तकनीक

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)