ब्रजकिशोर शर्मा ‘ब्रजवासी’


(53 लेख)
नाड़़ी दोष विचार

जनवरी 2011

व्यूस: 8047

नाडि शब्द नाडि मंडल से संबंधित है, जिसका अर्थ है कि आकाशीय विषुवत् सेवा। नाडी कूटं तं संग्राह्यं, कूटानां तु शिरोमणिम्। ब्रह्मणा कन्यका कण्ठ सूत्रत्वेन विनिर्मितम्॥ (अर्थात् जिस प्रकार विवाहित कन्या के लिए मंगल सूत्र आवश्यक है, उस... और पढ़ें

ज्योतिषकुंडली व्याख्याघरविवाहग्रहभविष्यवाणी तकनीक

शाबर मंत्र: परिचय

जुलाई 2014

व्यूस: 7530

शाबर मंत्र आम ग्रामीण बोल-चाल की भाषा में ऐसे अचूक एवं स्वयंसिद्ध मंत्र हैं जिनका प्रभाव अचूक होता है। शाबर मंत्र शास्त्रीय मंत्रों की भांति कठिन नहीं होते तथा ये हर वर्ग एवं हर व्यक्ति के लिए प्रभावशाली हैं जो भी इन... और पढ़ें

ज्योतिषदेवी और देवमंत्र

सुख-समृद्धि हेतु शाबर मंत्र प्रयोग

सितम्बर 2014

व्यूस: 7474

वर्तमान में ज्यादातर मनुष्य रोजगार से चिंतित रहते हैं। उच्च शिक्षा प्राप्त करने पर भी कार्य नहीं मिल पाता। क्या करें? क्या न करें? यही विचार मस्तिष्क में चलता रहता है। लोग व्यापार करते हैं, लाभ प्राप्त नहीं हो पाता, हो... और पढ़ें

ज्योतिषउपायअध्यात्म, धर्म आदिमंत्र

शाबर-मेरू-तंत्र

आगस्त 2014

व्यूस: 7157

शाबर मंत्र साधना प्रारंभ करने से पूर्व ‘शाबर-मेरू-तंत्र’ का या ‘सर्वार्थ साधक मंत्र’ या सुमेरू मंत्र का जप अत्यंत आवश्यक है; क्योंकि यह मंत्र उच्च कोटि के गुरुओं के अभाव व साधक की आवश्यक योग्यता की पूर्णता का प्रतीक है... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिमंत्र

मौन व्रत

आगस्त 2010

व्यूस: 5899

मौन व्रत अपने आप में अनूठा व्रत है। इस व्रत का प्रभावी दीर्घगामी होता है। प्राचीन समय में हमारे ऋषि-मुनि मौन व्रत तथा सत्य भाषण के कारण ही वाक् सिद्ध थे। वाणी की कर्कशता दूर करने का सरल उपाय... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

शारदीय नवरात्र व्रत

अकतूबर 2010

व्यूस: 4701

त्रिगुणात्मक मां जगदंबा की अर्चना, आराधना शारदीय नवरात्रों में अद्भुत फल प्रदान करती है। भगवान श्री राम ने आद्या शक्ति की विशेष कृपा हेतु सर्वप्रथम शारदीय नवरात्र पूजन प्रारंभ किया एवं परमशक्ति की प्रेरणा से रावण पर विजय प्राप्त क... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

शनिवार व्रत

जून 2010

व्यूस: 4672

आध्यात्मिक ज्योतिष में शनि को पूर्वजन्म के संचित कर्मों का अधिष्ठाता बताया गया है। शनि को साढ़ेसाती, ढैय्या अथवा शनि की महादशा से पीड़ित जातकों को शनिवार व्रत हितकारी होता है। प्रस्तुत है शनिवार व्रत कथा एवं पूजन की संपूर्ण जानकारी।... और पढ़ें

उपायपर्व/व्रत

प्रणाम या अभिवादन व्रत

फ़रवरी 2010

व्यूस: 4601

अभिवादन सदाचार का मुख्य अंग है। इससे न केवल लौकिक लाभ ही प्राप्त होता है अपितु आध्यात्मिक पथ भी प्रशस्त हो जाता है। पुराणों में प्रणाम के बल पर दिव्य लाभों को प्राप्त करने के अनेक दृष्टांत प्राप्त होते हैं।... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

महाकालेश्वर व्रत

मई 2011

व्यूस: 4463

द्वादश ज्योतिलिंगों में से एक ज्योतिलिंग महाकालेश्वर है, जो उज्जैन में स्थित है। महाकालेश्वर व्रत में भगवान शिव की पूजा अर्चना का विधान है। इस व्रत का नियम किसी भी शिवरात्रि में लेना चाहिए।... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

भागवत कथा

मार्च 2014

व्यूस: 4045

सनकादि ने नारद जी से कहा- देवर्षि पापियों के पाप का नाष करने हेतु एक प्राचीन इतिहास श्रवण करो। पूर्वकाल में तुंगभद्रा नदी के तटपर अनुपम नगर में समस्त वेदों का विषेषज्ञ श्रोत-स्मार्त कर्म में निपुण आत्मदेव ब्राह्मण अपनी प्यारी कुली... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदि

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)