Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

उद्धव जी की ब्रज यात्रा

मार्च 2013

व्यूस: 4024

उद्धवजी वृष्णिवंशियों में एक प्रधान पुरुष थे। वे साक्षात बृहस्पति जी के शिष्य और परम बुद्धिमान थे। वे भगवान् श्री कृष्ण के प्यारे सखा तथा मंत्री भी थे। एक दिन भगवान् श्रीकृष्ण ने अपने प्रिय भक्त और एकांतप्रेमी उद्धवजी का हाथ अपने ... और पढ़ें

स्थानअध्यात्म, धर्म आदिमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

भगवान श्रीराम की गया यात्रा एवं गया श्राद्ध

अकतूबर 2008

व्यूस: 3967

राज्याभिषेक होने के बाद राजतंत्र को सृदृढ़ कर प्रजा की रक्षा के लिए विधि व्यवस्था कर भगवान श्रीराम ने तीर्थों की यात्रा की थी। अयोध्या से चलकर पूर्व दिशा के शोराभद्रादि तीर्थों में अवगाहन एवं अपने पितरों का तर्पण पिंड दान करते हुए ... और पढ़ें

देवी और देवस्थानउपायअध्यात्म, धर्म आदिसुखमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

ऐतिहासिक देवी तीर्थ माई पद्मावती मंदिर

अप्रैल 2014

व्यूस: 3665

भारतवर्ष के मध्यकालीन ख्यातनाम नगरों में शेरघाटी अपनी भौगोलिक बनावट और शौर्य शक्ति के कारण दूर-दूर तक प्रसिद्ध है। शेरशाह के जमाने में ‘सड़क-ए-आजम’ और आज का जी. टी. रोड (राष्ट्रीय राजमार्ग-2) के किनारे और मगध की प्रसिद्ध तोया मोरहर... और पढ़ें

देवी और देवस्थानमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

वास्तु की नजर में गया एवं बोध् गया

जनवरी 2004

व्यूस: 3476

किसी भी शहर के सुव्यवस्थित वास्तु पर उस शहर का समृद्धि एवं विकास निर्भर करता है। अतः शहर वास्तु के अनुरूप हो, तो उस शहर का विकास चरमोत्कर्ष पर होता है। जहां तक बोध गया एवं गया का सवाल है, यह एक प्राचीन, धार्मिक एवं ऐतिहासिक शहर है... और पढ़ें

स्थानअध्यात्म, धर्म आदिवास्तुमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

मुक्तिदायक हैं गया श्राद्ध के त्रिप्रमुख स्थल

सितम्बर 2014

व्यूस: 3311

आदि अनादि काल से धर्म सम्मत रहे भारतवर्ष में गया की भूमि मोक्ष धाम है। इस पुण्य धरा पर प्रकारान्तर से ही श्राद्ध, पिंडदान और तर्पण की निर्बाध परंपरा रही है और इस घोर कलियुग में भी यहां की महिमा अक्षुण्ण है। हजारों ... और पढ़ें

स्थानमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

सीतामढ़ी

जुलाई 2014

व्यूस: 3279

संसार भर के ऐतिहासिक, पुरातात्विक और सांस्कृतिक प्रदेश में जम्बूद्वीप के धराधाम पर अवस्थित मगध की महिमा अक्षुण्ण है। मगध की पवित्र भूमि न सिर्फ विपुल नैसर्गिक सौंदर्य व गौरवमय ऐतिहासिक पृष्ठभूमि के लिए प्रसिद्ध है वरन् इस देवभ... और पढ़ें

देवी और देवस्थानविविधमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

खरगोन - नवग्रह कृत अरिष्टों के निवारण के लिए जहाँ पूजी जाती हैं. माता बगलामुखी

मार्च 2009

व्यूस: 3255

खरगोन का भी श्री नवग्रह मंदिर संपूर्ण भारतवर्ष में अपना एतिहासिक महत्व रखता हैं. इस मंदिर में माता बगलामुखी देवी स्थापित हैं. यहाँ नवग्रहों की शान्ति के लिए माता पीताम्बरा की पूजा अर्चना एवं आराधना की जाती हैं.... और पढ़ें

देवी और देवस्थानमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

पितृभक्तों का पुण्यमय तीर्थ: गया

सितम्बर 2010

व्यूस: 2664

धरती पर कुछ ऐसे विशिष्ट तीर्थ स्थल भी हैं, जहां परमपिता परमात्मा ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराकर लोककल्याणार्थ न सिर्फ अपनी लीलाओं का संचालन किया वरन् अपने भक्तों को दर्शन-उपदेश से चमत्कृत भी किया।... और पढ़ें

देवी और देवस्थानमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

अनूठा है जलमंदिर

फ़रवरी 2015

व्यूस: 2571

आदि अनादि काल से धर्म सम्मत रहे भारतवर्ष में गया की भूमि मोक्ष धाम है। इस पुण्य धरा पर प्रकारान्तर से ही श्राद्ध, पिंडदान और तर्पण की निर्बाध परंपरा रही है और इस घोर कलियुग में भी यहां की महिमा अक्षुण्ण है। हजारों बर्षों ... और पढ़ें

देवी और देवस्थानमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

आस्था और विश्वास का महातीर्थ श्री वासुकीधाम

जुलाई 2015

व्यूस: 2493

ऐतिहासिक और पौराणिक गाथाओं से अलंकृत पुरातन प्रज्ञा का प्रदेश बिहार भले ही 15 नवंबर सन् 2000 को विभक्त होकर झारखंड राज्य बन गया पर यहां के कंकड़-कंकड़ में शंकर विराजमान हैं जहां का चप्पा-चप्पा शिव विभूति से संपृक्त है। प्राची... और पढ़ें

देवी और देवस्थानमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)