Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

श्रीदुर्गासप्तशती महायज्ञ/अनुष्ठान

अकतूबर 2010

व्यूस: 9109

भगवती मां दुर्गा की प्रसन्नता के लिए जो अनुष्ठान किए जाते हैं उनमें दुर्गा सप्तशती का अनुष्ठान विशेष कल्याणकारी माना गया है। इस अनुष्ठान को ही शक्ति साधना भी कहा गया है। श्री दुर्गा सप्तशती का अनुष्ठान कैसे करें आइए जानें इस लेख द... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

भगवान श्री गणेश और उनका मूलमंत्र

जुलाई 2013

व्यूस: 9007

हिंदुओं के सभी कार्यों का श्रीगणेश अर्थात शुभारंभ भगवान गणपति के स्मरण एवं पूजन से किया जाता है। भगवान श्री गणेश की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि उनके पूजन एवं स्मरण का यह क्रम जीवन भर लगातार चलता रहता है। चाहे कोई व्रत, पर्व, उत्सव,... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिमंत्रयंत्र

श्री कृष्ण जन्मांग

अकतूबर 2004

व्यूस: 8990

श्री कृष्ण का जन्म भाद्र कृष्ण अष्टमी को मथुरा में 21 जुलाई, 3228 ई. पू. हुआ। 125 वर्ष 7 माह के पश्चात वे चैत्र शुक्ल प्रतिपदा शुक्रवार तद्नुसार 18 फरवरी, 3102 ई. पू. को ब्रह्मस्वरूप विष्णु भगवान में लीन हो गये। उसी दिन कलियुग ... और पढ़ें

ज्योतिषदेवी और देवज्योतिषीय विश्लेषणज्योतिषीय योगकुंडली व्याख्याभविष्यवाणी तकनीक

51 शक्ति पीठ

अकतूबर 2010

व्यूस: 8921

सती का शरीर 51 खंडों में विभक्त होकर जिस स्थान पर गिरे वे हिन्दुओं के प्रमुख तीर्थ स्थल माने जाते हैं। ऐसा माना जाता है कि जहां शक्ति पीठ स्थापित है, वे स्थल ब्रह्मांड की ऊर्जा के असीम भंडार है। ये शक्तिपीठ भारत, पाकिस्तान, श्रीलं... और पढ़ें

देवी और देवमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

भगवद् प्राप्ति के सरल उपाय

फ़रवरी 2011

व्यूस: 8859

भगवान को पाने के सरल-सुगम लेकिन उतने ही कठिन मार्ग पर चलने के लिए क्या व्यवहारिक कार्य होने चाहिए और किन किन बाधाओं को पार करना आवश्यक है, आइए, उसे सहज रूप में जानने का प्रयास करें।... और पढ़ें

देवी और देवउपायविविध

सती चरित्र व दक्ष यज्ञ विध्वंस-पूर्णत्व कथा

नवेम्बर 2014

व्यूस: 8803

शुकदेव बाबा ने महाराज परीक्षित को भागवत कथा श्रवण कराते हुए बताया कि राजन् ! मनु-शतरूपा की कन्या आकूति का विवाह पुत्रिका धर्म के अनुसार रूचि प्रजापति से तथा प्रसूति कन्या का विवाह ब्रह्माजी के पुत्र दक्ष प्रजापति से किया। उ... और पढ़ें

देवी और देवविविध

शीघ्र विवाहार्थ व क्रोध शमन हेतु शावर मंत्र

अकतूबर 2014

व्यूस: 8691

भारतीय संस्कृति अनुसार जो विवाहादि कार्य सोलह वर्ष की अवस्था तक निश्चित रूप से संपन्न कर दिए जाते थे, आज भारत, भारत सरकार व स्व विचारधारा के अनुसार वह शुभ कार्य विलंब से पूर्ण किए जाते हैं। ऐसी स्थिति में वर व कन्या में हठधर्म... और पढ़ें

देवी और देवअन्य पराविद्याएंअध्यात्म, धर्म आदिमंत्र

शक्ति का संचरण और शक्ति आराधना

अकतूबर 2010

व्यूस: 8648

आद्याशक्ति की उपासना ग्रहों के अनिष्ट परिणामों से रक्षा कर सकती है। सभी लोगों विशेषकर ज्योतिष फलादेश देने वालों को तो शक्ति उपासना बहुत शक्ति प्रदान करती है। महाकाली, महासरस्वती, महालक्ष्मी, नवदुर्गा, दशविद्या, गायत्री अनेक रूपों ... और पढ़ें

देवी और देवविविध

लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लाभकारी सूत्र

अकतूबर 2008

व्यूस: 8645

दीपावली महापर्व है-अनेक संप्रदायों के लोग इस पर्व पर धन प्राप्ति हेतु लक्ष्मी की साधना करते है। धन त्रयोदशी से लेकर भैया दूज तक पांच दिन चलने वाला यह पर्व मां लक्ष्मी की शाश्वत कृपा प्राप्ति के लिए मनाया जाता है।... और पढ़ें

देवी और देवउपायसंपत्ति

ध्रुव-चरित्र

दिसम्बर 2014

व्यूस: 8137

कर्मयोगी चक्रवर्ती सम्राट महाराज परीक्षित ने पूज्य गुरुदेव श्री शुकदेव जी से पूछा- मुनिवर ! ध्रुव के वनगमन का क्या कारण था? किस प्रकार ध्रुव भगवान की कृपा हुई और अविचल धाम की प्राप्ति हुई? श्री शुकदेवजी कहते हैं - राजन्। प्... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)