ईशान का बंद होना हर क्षेत्र में विकास को अवरूद्ध करता है

ईशान का बंद होना हर क्षेत्र में विकास को अवरूद्ध करता है  

पं0 गोपाल शर्मा जी के अमरीका दौरे में उनके सेमिनार में आए एक गुजराती प्रवासी भारतीय श्री खमीर पटेल ने अपने घर का वास्तु देखने का आग्रह किया तो पंडित जी उनके कोरी लेक (फ्लोरिडा) स्थित घर में वास्तु परीक्षण करने के लिए गए। उन्होंने बताया कि पिछले कई सालों पूर्व जब से इस घर में आए हैं अनचाहे खर्चे, कार्यों में रुकावटें, बच्चों के स्वास्थ्य में गिरावट, वैचारिक मतभेद तथा मानसिक तनाव बना रहता है। उन्होंने एक प्लाॅट खरीदा हुआ है जो कि वहां के सबसे प्रतिष्ठित स्थान पर है पर वह न तो घर बनवा पा रहे हैं और न ही वहां जा पाते हैं। उनका अचल संपदा व भवन निर्माण के क्षेत्र में काफी नाम है तथा उनके बहुत अच्छे अच्छे क्लाइन्टस हैं पर कई बार उनसे न चाहते हुए भी मन मुटाव हो जाता है। वास्तु परीक्षण करने पर पाए गए वास्तु दोष: Û उत्तर-पूर्व के कोने में उन्होंने पालतू कुत्तों के रहने का कमरा बनाया था। इस कोने के बंद होने से सभी ओर से बाधाओं का सामना करना पड़ता है। बच्चों के विकास एवं उनके स्वास्थ्य में हानि के साथ आर्थिक व मानसिक समस्याओं के उत्पन्न होने की वजह से जीवन में सुख शांति का अभाव हो जाता है। Û दक्षिण-पश्चिम में गैराज आगे की ओर बढ़ा हुआ था जिससे बिल्डिंग अनियमित आकार की हो रही थी। इस दिशा के बढ़ने से घर में अनचाहे खर्चों के अलावा घर के मालिक के जीवन में भी संकट बना रहता है। उत्तर पश्चिम का कोना भी बढ़ा हुआ था जो कि योजनाओं को कार्यान्वित होने में विलम्ब तथा अनावश्यक मन मुटाव का कारण होता है। - रसोई में गैस एवं सिंक (आग व पानी) भी आमने-सामने थे जो कि परिवार में वैचारिक मतभेद का कारण होते हैं। दक्षिण में मुख करके खाना बनाने से खाना बनाने वाले की स्वास्थ्य हानि होती है। कमर व कंधों में दर्द रहता है। सुझाव: - उत्तर-पूर्व का कोना खुलवाया गया। कुत्तों के रहने के लिए दक्षिण की दीवार के साथ छोटा सा कमरा बनवाया गया। - बैठक की दीवार को आगे की ओर बढ़ाकर तथा मुख्य द्वार के ऊपर प्लास्टिक की शीट लगाकर उसे गैराज की छत से जोड़ने की सलाह दी गई ताकि घर आयताकार हो सके। - रसोई में गैस को दक्षिण-पूर्व में स्थानांतरित करवाया गया। पंडित जी ने उन्हें आश्वासन दिया कि सभी सुझावों को कार्यान्वित करने के पश्चात उन्हें जल्दी ही अवश्य लाभ मिलेगा तथा सभी रुके हुए काम बनकर जीवन में सुख, शांति व समृद्धि की वृद्धि होगी। ्रश्न: पंडित जी, सादर प्रणाम मैं एक साधारण परिवार से हूं और जीवन में आई समस्याओं से काफी परेशान हूं। घर में आर्थिक समस्या बनी रहती है तथा कोई न कोई अवश्य ही बीमार रहता है। आपस में मतभेद रहने से मानसिक तनाव बना रहता है। कृपया हमारे घर का नक्शा देखकर अपना परामर्श देकर हमें कृतार्थ करें। राकेश कुमार, छपरा (बिहार) उत्तर: आपके घर के दक्षिण-पश्चिम की आ ेर टी. प्वाइन्ट तथा क ुआ ं, उत्तर-पश्चिम में हैंडपम्प तथा उत्तर-पूर्व में रसोई होना ही आपकी सभी समस्याओं का कारण है। उत्तर-पूर्व में रसोई भारी खर्च व वैचारिक मतभेद का कारण होती है। रसोई को पूर्व में बने कमरे के स्थान पर स्थानांतरित करें। उत्तर-पश्चिम में लगे हैंडपम्प को तुरंत बंद कराके गड्ढे को अच्छे से भरवाएं तथा बोरिंग या हैंडपम्प को उत्तर में लगवायें जिससे आपकी आर्थिक समस्याएं बिल्कुल खत्म हो जाएंगी तथा घर में प्रेम एवं सामंजस्य बढे़गा क्योंकि दक्षिण-पश्चिम में बने कुएं व टी प्वाइन्ट को बदलना हमारे हाथ में नहीं है, पीछे की दीवार पर कन्वैक्स पाकुआ शीशा लगाने से तथा पीछे की दीवार पर लाल तथा सफेद लाईन का पेंट कराने से इनके नकारात्मक प्रभाव को कुछ कम किया जा सकता है। उत्तर की ओर से चढ़ रही सीढ़ी को भी पश्चिम की दीवार से चढ़ाना उत्तम होगा।


विवाह विशेषांक  नवेम्बर 2016

ज्योतिषीय पत्रिका फ्यूचर समाचार के इस विवाह विशेषांक में बहुत अच्छे विवाह से सम्बन्धित लेखों जैसे विवाह मिलान, प्रेम विवाह, विवाह में बाधा व देरी का ज्योतिषीय कारण व निवारण, विवाह की तारीख का निकालना, दशा और विवाह, अंकशास्त्र द्वारा विवाह मिलान, विवाह मिलान और मांगलिक दोष निवारण आदि पर परिचर्चा की गई है। अन्य महत्वपूर्ण लेखों में अमेरिका में राट्रपति चुनाव, वाट्सऐप ज्योतिष, भारत के जैम्स बाॅन्ड अजीत डोभाल, ओशो की कुण्डली का ज्योतिषीय आकलन, वास्तु में उत्तर-पूर्व में घर/प्लाॅट आदि। इसके अतिरिक् प्रत्येक माह का राशिफल, वास्तु फाॅल्ट, टोटके, विचार गोष्ठी आदि भी पत्रिका का आकर्षण बढ़ा रहे हैं।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.