Congratulations!

You just unlocked 13 pages Janam Kundali absolutely FREE

I agree to recieve Free report, Exclusive offers, and discounts on email.

पीपल पूज्य एवं गुणों की खान

सितम्बर 2013

व्यूस: 45090

पीपल हिन्दू धर्म का पूज्य वृ़क्ष माना जाता है। जैसे देवताओं में अनेक गुण होते हैं वैसे ही पीपल का वृक्ष भी गुणों की खान है इसलिए पीपल वृक्ष की पूजा वैसे ही होती है जैसे किसी देवता की। पीपल के पत्तों, शाखाओं, छाल एवं जड़ में तीव्र ... और पढ़ें

स्वास्थ्यविविध

पेप्टिक अल्सर : क्यों और कैसे

जून 2006

व्यूस: 39826

आज के आधुनिक एवं मशीनी युग में व्यक्ति को न तो खाने – पीने की वस्तुओं की सुध है और न ही व्यायाम का कोई नियम। परिणाम स्वरूप पेप्टिक अल्सर रोग का प्रसार हो रहा है। पेप्टिक अल्सर अर्थात पेट, दर्द और अफारा... और पढ़ें

स्वास्थ्यविविध

हिस्टीरिया

अप्रैल 2010

व्यूस: 33971

‘हिस्टीरिया' रोग एक मनोरोग है। इस रोग का मूल कारण होता है रोगी किसी अतृप्त इच्छा को अपने अंतर्मन में दबाए रखता है। आइए, इस रोग के लक्षण व विभिन्न लग्नों में ज्योतिषीय कारणों का पता लगाएं।... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यउपायराशि

राशि के अनुसार रुद्राक्ष धारण करने से आयु-आरोग्य तथा धन, यश की प्राप्ति

मई 2010

व्यूस: 32934

एक मुखी रुद्राक्ष: इस रुद्राक्ष को कोई भी व्यक्ति धारण कर सकता है यह साक्षात् भगवान शिव का स्वरूप माना गया है। इसे धारण करने से यश, मान, प्रतिष्ठा, धन, ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यउपाययशरूद्राक्षसंपत्तिराशि

कुछ अनुभूत टोटके

जून 2014

व्यूस: 29899

ससुराल में सुखी रहने के लिये - यदि कन्या 7 साबुत हल्दी की गांठें, पीतल का एक टुकड़ा, थोड़ा सा गुड़ लेकर ससुराल की ओर फेंक दे तो वह कन्या ससुराल में सुखी रहती है।... और पढ़ें

स्वास्थ्यउपायविवाहसफलताटोटकेसंपत्ति

खाने में किसके साथ क्या खाएं क्या न खाएं

जनवरी 2015

व्यूस: 29681

अक्सर संतुलित आहार की बात होती है लेकिन इसके अतिरिक्त यह जानना भी आवश्यक है कि किस चीज को किसके साथ खाएं या किसको किसके साथ न खाएं। हम खाने में एक साथ कई चीजें खाना पसंद करते हैं। लेकिन एक ही समय कुछ चीजों को एक साथ खान... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यभविष्यवाणी तकनीक

पथरी: कारण और निवारण

अप्रैल 2014

व्यूस: 29099

पेशाब के साथ निकलने वाले भिन्न-भिन्न प्रकार के क्षारीय तत्व जब किन्हीं कारणवश नहीं निकल पाते और मूत्राशय, गुर्दे अथवा मूत्र नलिका में एकत्र होकर कंकड़ का रूप ले लेते हैं तो इसे पथरी कहा जाता है। पथरी रोग मूत्र संस्थान से संबंधित है... और पढ़ें

स्वास्थ्यविविध

क्यों जरूरी है गृहप्रवेश से पहले वास्तु शांति करवाना

जुलाई 2013

व्यूस: 28400

नए घर में प्रवेश से पूर्व वास्तु शांति अर्थात यज्ञादि धार्मिक कार्य अवश्य करवाने चाहिए। वास्तु शांति कराने से भवन की नकारात्मक ऊर्जा समाप्त हो जाती है तभी घर शुभ प्रभाव देता है जिससे जीवन में खुशी व सुख-समृद्धि आती है। वास्तु शास्... और पढ़ें

स्वास्थ्यउपायवास्तुसुखगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारसंपत्ति

सौंफ - मसालों की रानी और आषधीय गुणकारी

जनवरी 2014

व्यूस: 26532

शायद ही कोई व्यक्ति हो जो ‘सौंफ’ से परिचित न हो। सौंफ को मसालों की रानी और पान की जान भी कहा जाता है। सौंफ का पौधा झाड़ के समान पतली-पतली कोमल पत्तियों वाला होता है। यह बहुत अधिक ऊंचा नहीं होता। इसके फूल पीले होते हैं। इस पौधे पर ... और पढ़ें

स्वास्थ्यविविध

लहसुन

सितम्बर 2014

व्यूस: 26423

लहसुन रोगनाशक, बल एवं स्वास्थ्य वर्द्धक है। इसके खाने से भूख अच्छी लगती है और शरीर में गर्मी और चेहरे की चमक बनी रहती है। आयुर्वेद में लहसुन को रसायन कहा गया है। आयुर्वेद के अतिरिक्त अन्य चिकित्सा पद्धतियों ने ... और पढ़ें

स्वास्थ्यविविध

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)