कच्चा तेल व सोने में तेजी व बजट 2016

कच्चा तेल व सोने में तेजी व बजट 2016  

संपूर्ण वर्ष का आय व व्यय एवं प्रस्तावित आय व्यय का विस्तृत विवरण सरकार के वित्त मंत्री करते हैं। फरवरी माह में राहु व गुरु, शनि व मंगल, सूर्य व केतु, शुक्र व बुध की युति बन रही है। यह एक महत्वपूर्ण ग्रह स्थिति बन रही है। यह भी ध्यान रखना चाहिए कि सभी ग्रह चंद्रमा को छोड़ कर अग्नि, पृथ्वी, वायु व जल की राशियों में युति बना रहे हैं। अग्नि कारक राशि सिंह में राहु व गुरु होंगे, गुरु वक्री होंगे जबकि राहु सदैव वक्र गति से ही विचरण करते हैं। पृथ्वी तत्व की राशि में शुक्र व बुध होंगे, वायु तत्व की राशि में सूर्य व केतु होंगे। जल राशि मे शनि व मंगल की युति बन रही है। यह ज्योतिषीय समीक्षा कच्चे तेल में तेजी का गति बना सकता है। ज्ञात रहे कि कच्चे तेल की कीमत राष्ट्रीय व अंतर्राष्ट्रीय कमोडिटी बाजारों में फिसलकर 2015 में न्यूनतम स्तर पर दिखाई दी और ब्रेन्ट क्रूड आॅयल का भी न्यूनतम स्तर देखा गया किंतु फरवरी माह में कच्चा तेल भारतीय व अन्तर्राष्ट्रीय बाजारों में तेजी का रूख दिखा सकता है। बजट 2016 ज्योतिषीय दृष्टि से महत्वपूर्ण सिद्ध हो सकता है। निम्नलिखित महत्वपूर्ण बिंदुओं का प्रावधान बजट में अपेक्षित है: -ƒ शिक्षा, उचच शिक्षा पर विशिष्ट व्यय आदि। -ƒ चिकित्सा, नये अस्पताल, गाँवों में अनिवार्य चिकित्सा का प्रावधान ƒ- दवाईयों में अनुसंधान पर विशेष छूट -ƒ नेशनल हाईवे व गांव-गांव तक पक्की सड़क का प्रावधान ƒ- नदियों को आपस में जोड़ कर परिवहन के लिए प्रयोग ƒ- विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी पर विशिष्ट ध्यान ƒ- अर्द्ध सैन्य बल के आधुनिकीकरण पर ध्यान -ƒ सोने में आयात पर कड़े नियम ƒ- खाद्य एवं बीज व कृषि उपकरणों पर विशिष्ट ध्यान -ƒ सस्ते मकान पर विशिष्ट छूट -ƒ आयकर में विशेष छूट नहीं मिलने के असर -ƒ युवाओं के लिए रोजगार के अवसर -ƒ सरकारी कंपनियों में विनिवेश के जरिये धन प्राप्त करना ƒ- उच्च तकनीक हेतु विदेशी कंपनियों के लिए भारत में निवेश के अवसर ƒ- विदेशी, वित्तीय संस्थाओं व बैंकों के लिए भारत में अवसर प्रदान करने की सुविधा। -ƒ भारतीय उद्योगपतियों को विदेशी निवेश में प्रोत्साहन -ƒ विशेश छूट, नये तेल एवं खनन नीति -ƒ नये करों का प्रावधान ƒ भारतीय सेना के आधुनिकीकरण पर विशेष ध्यान व बजट ƒ- भारतीय व्यापार व उद्योगों को विशेष रियायत की संभावना नहीं है। -ƒ वरिष्ठ नागरिकों के लिए विशिष्ट प्रावधान। ƒ- महिलाओं के लिए रोजगार व बीमा में विशिष्ट छूट की संभावना। ƒ- जहाजरानी के आधुनिकीकरण की योजनाएं। उपर्युक्त प्रावधान बजट में अपेक्षित हैं। सारांश में बजट में नये कर सम्मिलित है। आयकर मे नरमी अपेक्षित नहीं है। वरिष्ठ नागरिकों, महिलाओं व युवा वर्ग से संबंधित प्रावधान आदि प्रमुख बिंदु बजट में रह सकते हैं।


मुद्रा और शेयर मार्केट  जनवरी 2016

रिसर्च जर्नल का यह वर्तमान अंक 24 जनवरी 2016 को मुम्बई में आयोजित ज्योतिषीय संगोष्ठी पर आधारित है जिसका विषय था मुद्रा एवं शेयर बाजार। इस अंक का प्रमुख विषय मुद्रा, वायदा एवं शेयर बाजार से सम्बन्धित ज्योतिषीय सिद्धान्त हैं। इस विषय पर अनेक उल्लेखनीय आलेख समाविष्ट किये गये हैं जिनके लेखक प्रख्यात ज्योतिर्विद हैं। चूंकि रिसर्च जर्नल द्विभाषीय है इसलिए इस अंक में भी उपर्युक्त विषय पर अंग्रेजी एवं हिन्दी दोनों के आलेखों को सम्मिलित किया गया है। महत्वपूर्ण आलेखों में शामिल हैंः शेयर बाजार और आपकी कुंडली, 2016 में गोचर, बाजार एवं भारतीय अर्थ व्यवस्था, प्रत्येक ग्रह से उद्योगों के बारे में जानकारी, अंकों से जानिए शेयर में निवेश का शुभ समय, शेयर बाजार में उन्नति-अवनति के ज्योतिषीय योग।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.