brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer
नववर्ष की शुभकामनाएं

नववर्ष की शुभकामनाएं  

2016 में पूरे वर्ष शनि वृश्चिक राशि में रहेंगे। गुरु 14 जुलाई को सिंह से कन्या में आएंगे एवं राहु 9 जनवरी को सिंह राशि में प्रवेश करेंगे। सभी महत्वपूर्ण ग्रहों का प्रभाव सिंह राशि में होने से राजनीतिज्ञ दूरदर्शिता से कार्य करेंगे तथा प्रगतिवाद की राजनीति करेंगे। शनि मंगल की वृश्चिक राशि में युति के फलस्वरूप आतंकवाद शिखर पर रहेगा। राहु, शनि व गुरु इन तीनों के सिंह राशि पर प्रभाव के चलते सभी राष्ट्रों के राजनयिक आतंकवाद से लड़ने के लिए एकजुटता भी दिखाएंगे। इस वर्ष 17 सितंबर को इक्वेटर अर्थात् इंडोनेशिया के आस-पास भूकंप आने की संभावना है। इसके अतिरिक्त 17 अक्तूबर को उत्तर दिशा यानी नेपाल, उत्तराखंड व उत्तरी पाकिस्तान में भी भूकंप के झटके महसूस किए जाएंगे। वर्ष 2016 में जनवरी से दिसंबर माह तक माॅनसून, सेंसेक्स एवं सोने व डाॅलर के भाव का ग्रह, नक्षत्र, राशि एवं योग के आधार पर कैसी चाल रहेगी इसका ज्योतिषीय आधार पर विश्लेषण करके पूर्वानुमान दिया जा रहा है:- सोने का भाव: 2016 में सोने के भाव नीचे ही जाएंगे। सोने में जनवरी, अप्रैल, जुलाई, और दिसंबर में विशेष गिरावट आयेगी। थोड़ा बहुत सुधार मार्च, मई, अगस्त व सितंबर में आ सकता है। इसलिए इस वर्ष अग्रिम बेचकर चलने में ही लाभ होगा। जो लोग बुलिश मार्केट में सट्टा करते हैं वे इससे दूर रहंेगे तो अच्छा रहेगा। सेंसेक्स: इस वर्ष शेयर मार्केट बहुत ऊँचा नहीं जायेगा। अधिकांश समय मार्केट का रुख नीचे की ओर ही रहेगा। जनवरी में मार्केट ऊँचाई लेकर शुरु होगा लेकिन शीघ्र ही सप्ताह भर में इसका रुख नीचे की ओर हो जायेगा। कभी-कभी थोड़ी रिकवरी करेगा लेकिन अधिकतर फरवरी के अंत से जून तक रुख नरम रहेगा। जून के अंत में व जुलाई में अच्छी रिकवरी होगी। इसके बाद वर्षांत तक उतार-चढ़ाव चलेंगे। हर मास सेंसेक्स कुछ नीचे जाएगा किंतु और पुनः रिकवर कर लेगा। इस प्रकार सेंसेक्स एक मान पर बना रहेगा। डाॅलर: इस वर्ष शुरु में डाॅलर नरम ही रहेेगा लेकिन जनवरी के मध्य तक कुछ मजबूत होगा। रुपया फिर डाॅलर पर जोर बनायेगा और फरवरी में डाॅलर कमजोर होगा। मार्च में डाॅलर पुनः अपनी पकड़ बनाएगा और मार्च के मध्य तक रुपये को काफी पीछे छोड़ देगा। मार्च के अंत में रुपया पुनः जोर पकड़ेगा तथा मई तक रुपया मजबूत हो जायेगा। मई के मध्य से पुनः डाॅलर ऊपर की ओर रुख करेगा और जून तक रुपया नीचे आ जायेगा। जुलाई में रुपया पुनः रिकवरी करेगा। लेकिन जुलाई के बाद डाॅलर की ही जीत होगी और वर्षांत तक रुपया काफी कमजोर हो जायेगा। बीच-बीच में रुपया थोड़ी बहुत रिकवरी करेगा लेकिन कुल मिलाकर डाॅलर अपनी पकड़ बनाए रखेगा। केवल नवंबर व दिसंबर में रुपया थोड़ी रिकवरी कर पायेगा। वर्षा: वर्ष 2016 वर्षा के लिए अच्छा संदेश लेकर नहीं आ रहा है। इस वर्ष वर्षा सामान्य से काफी कम रहने के आसार हैं। कई जगहों पर सूखा पड़ सकता है। मार्च, अप्रैल लगभग सूखे ही जायेंगे। मई, जून में भी कहीं-कहीं पर छिटपुट वर्षा हो सकती है। केवल जुलाई के दूसरे सप्ताह से ही माॅनसून आने की संभावना है जो सितंबर के मध्य में समाप्त हो जायेगा। अक्तूबर व उसके बाद बिल्कुल वृष्टि योग नहीं है। इस वर्ष कई वर्षों के पश्चात् अति सूखे के योग बन रहे हैं अतः सरकार को ध्यान देना चाहिए। 2016 की सारी वृष्टि की कमी 2017 में पूरी होने वाली है। 2017 में अति वृष्टि के आसार रहेंगे। मेष: यह वर्ष आपकी शिक्षा, संतान आदि के लिए शुभ रहेगा। यदि आप किसी प्रकार के परामर्श कार्य से जुड़े हैं तो आपको नई पहचान मिलेगी। तकनीकी शिक्षा में विशेष उन्नति के योग हैं। सट्टा कार्यों में रूचि लेंगे। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। वृष: आपके लिए संपत्ति प्राप्ति, भवन निर्माण, माता के सुख में वृद्धि, नये वाहन के क्रय के साथ-साथ मनोनुकूल स्थान पर भ्रमण या स्थानांतरण के योग हैं। अपनी जन्मभूमि से लगाव बढ़ेगा। व्यापार के नए अवसर प्राप्त होंगे। अविवाहितों के लिए विवाह की भी संभावनाएं हैं। मिथुन: आपके सामाजिक, राजनीतिक व्यक्तिगत प्रभाव व पराक्रम में वृद्धि होगी। आपके शत्रु नष्ट होंगे तथा व्यापार में उन्नति के योग भी बनेंगे। आप खूब मेहनत करेंगे। प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता प्राप्ति के भी प्रबल योग हैं। कर्क:: धनागमन के योग प्रबल होंगे। पारिवारिक जीवन से संबंधित गतिविधियों में सक्रियता आएगी। पारिवारिक उन्नति के लिए सभी लोग मिलकर कार्य करेंगे। परिवार में संतान के जन्म का शुभ समाचार भी प्राप्त होगा। संतान से संबंधित कुछ चिंताएं भी रहेंगी। सिंह: इस वर्ष आप अपने व्यक्तित्व विकास के लिए विशेष जागरूक होंगे। आप अपनी जिम्मेदारियों के पूर्ण होने से प्रसन्न रहेंगे। आपके स्वास्थ्य, कार्यक्षमता व मान सम्मान की वृद्धि होगी। नव संपत्ति निर्माण कार्य होगा। कन्या: यह वर्ष आपके लिए भारी निवेश व यात्राओं का संकेत लेकर आ रहा है। आप खूब परिश्रम करेंगे। शत्रुओं पर नियंत्रण पाने में सफलता प्राप्त होगी। धन के व्यय पर नियंत्रण पाना कठिन होगा इसलिए कुछ आर्थिक तंगी भी रह सकती है। तुला: आपके आय के साधनांे में अचानक सुधार होगा। साढ़ेसाती के प्रभाव में भी कुछ कमी आएगी। कुल मिलाकर आपके रूके हुए कार्य सहजता से चलने आरंभ हो जाएंगे। आपकी मनोकामनाएं पूर्ण होंगी। वृश्चिक: आपको कुछ अनावश्यक मानसिक चिंताएं तो रह सकती हैं परंतु कार्य व्यवसाय में निरंतर वृद्धि होगी तथा आपको एक नई पहचान भी प्राप्त होगी। निवेश कार्यों में सावधानी बरतें। अधिक निवेश करने से बचें। भविष्य को आर्थिक रूप से सुरक्षित करने के लिए नवीन योजनाएं बनाएं। धनु: आपके भाग्योदय के कुछ योग बनेंगे और लंबी यात्राएं भी होंगी परंतु आर्थिक क्षेत्र में कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ेगा। धन से संबंधित परेशानियां बढ़ सकती हैं। अनावश्यक खर्च पर नियंत्रण करें साथ ही निवेश करने से बचें। मकर: इस वर्ष आपको अनायास धन प्राप्ति के योग तो बनेंगे परंतु स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां उठानी पड़ सकती हैं। आपकी आय में स्थिरता आएगी। आप शोध कार्य व गुप्त विद्याओं में रूचि लेंगे। रोग, मानसिक चिंता आदि के निवृत्यर्थ ‘ऊँ नमः शिवाय’’ का जप करें। कुंभ: यह वर्ष आपके विवाह का शुभ समाचार लेकर आएगा। आपको साझेदारी व्यवसाय में लाभ की प्रबल संभावनाएं हैं। आपके कार्य व्यवसाय में स्थिरता आएगी। जीवनसाथी के साथ संबंध उत्तरार्द्ध में कुछ खराब हो सकते हैं। स्वास्थ्य के मामले में ध्यान देनेे की आवश्यकता रहेगी। मीन: यह वर्ष आपके लिए भाग्योन्नति तथा प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता के योग का प्रबल संकेत दे रहा है। शत्रु पक्ष पर विजय प्राप्त होगी। रोजगार के साधन प्राप्त होंगे तथा लंबी यात्राएं भी होंगी।

नववर्ष विशेषांक  जनवरी 2016

नववर्ष 2016 का आगमन शीघ्र ही हो रहा है। हर व्यक्ति नये साल की शुरुआत शुभत्व के साथ करना चाहता है तथा उसकी यह कोशिश होती है कि आने वाला साल यादगार साबित हो। फ्यूचर समाचार के नववर्ष विशेषांक में बहुविध एवं बहुआयामी आलेखों का संग्रह है जिसमें सम्मिलित हैंः उत्तरायण और मकर संक्रान्ति की भ्रान्ति, आमिर खान के विवादित बोल, राहु-केतु का राशि परिवर्तन, 2016 में मौसम का हाल, नववर्ष 2016 मंगलकारी कैसे हो, 2016 में भारत की राजनीति, अर्थव्यवस्था और शेयर बाजार, वार्षिक राशिफल 2016 आदि। इसके अतिरिक्त इस विशेषांक में सभी स्थाई स्तम्भों का समावेश भी पूर्व की भांति किया गया है जिसमें विविध आयामी आलेख सम्मिलित हैं।

सब्सक्राइब

.