ग्रह स्थिति एवं व्यापार

ग्रह स्थिति एवं व्यापार  

गोचर फल विचार मासारंभ में 1 नवंबर को मंगल ग्रह मकर राशि में प्रवेश करेगा तथा मंगल व शनि ग्रह की राहु पर दृष्टि होगी जिससे देश के विभिन्न क्षेत्रों में राजनीतिक दलों और शासकीय नीतियों को लेकर आम जनता में रोष की भावना बढ़ेगी और उपद्रवकारी घटनाओं से जन-धन हानि का योग बनता है। किसी प्रमुख क्षेत्र में देश की शांति के लिए सैन्य शक्ति का प्रयोग करना पड़ेगा। 15 नवंबर से सूर्य व शनि में राशि संबंध बनने से शासकीय वर्ग को विशेष चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। इस मास दैनिक उपयोगी वस्तुओं में महंगाई के कारण भी आम जनता में सरकार के प्रति असंतोष बना रहेगा। 23 नवंबर को शनि का वृश्चिक राशि में अस्त होना भी खड़ी फसलों को नुकसान दर्शाता है जिससे किसान वर्ग के लिए परेशानी बढ़ेगी। इस मास में खंड वर्षा और तेज हवाओं का योग बनेगा तथा शीत लहर का आगमन होगा। गोचर ग्रह परिवर्तन व नक्षत्र वेध 1 नवंबर को चंद्र दर्शन मंगलवार के दिन 30 मुहूर्ती में होगा तथा इसी दिन मंगल मकर राशि में प्रवेश करेगा। 2 नवंबर को बुध विशाखा नक्षत्र में आकर सर्वतोभद्रचक्र में धनिष्ठा नक्षत्र का वेध करेगा। 6 नवंबर को सूर्य भी विशाखा नक्षत्र में आकर धनिष्ठा नक्षत्र का वेध करेगा। 7 नवंबर को शुक्र मूल, नक्षत्र में आकर पुनर्वसु नक्षत्र का वेध करेगा। 8 नवंबर को बुध वृश्चिक राशि में प्रवेश करेगा तथा शनि से राशि संबंध बनाएगा। 10 नवंबर को बुध अनुराधा नक्षत्र में आकर अश्लेषा नक्षत्र का वेध करेगा। 14 नवंबर को मंगल श्रवण नक्षत्र में आकर कृतिका नक्षत्र का वेध करेगा। 15 नवंबर को सूर्य वृश्चिक राशि में आएगा। मार्गशीर्ष संक्रांति 45 मुहूर्ती में होगी। 18 नवंबर को शुक्र पू. षानक्षत्र में आकर आद्र्रा नक्षत्र का वेध करेगा। 19 नवंबर को सूर्य अनुराधा नक्षत्र में प्रवेश कर अश्लेषा नक्षत्र का वेध करेगा तथा इसी दिन बुध ज्येष्ठा नक्षत्र में प्रवेश कर पुष्य नक्षत्र का वेध करेगा। 23 नवंबर को शनि ग्रह अस्त होगा। 28 नवंबर को बुध मूल नक्षत्र में प्रवेश कर पुनर्वसु नक्षत्र का वेध करेगा तथा धनु राशि में आकर शुक्र के साथ राशि संबंध बनाएगा। 29 नवंबर को भौमवती अमावस्या होगी तथा इसी दिन शुक्र उ. षानक्षत्र में आकर मृगशिरा नक्षत्र का वेध करेगा। सोना व चांदी 1 नवंबर को सोना व चांदी के बाजारों में तेजी का रूझान बनाएगा। 2 नवंबर को बाजारों में उतार-चढ़ाव की स्थिति को ही बनाएगा। 6 नवंबर को बाजारों में तेजी का योग दर्शाता है। 7 नवंबर को बाजारों में तेजी का वातावरण बनाएगा। 8 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख के चलते तेजी का ही रूख बरकरार रखेगा। 10 नवंबर को बाजारों में तेजी में वृद्धि का दायक ही होगा। 14 नवंबर को बाजारों में तेजी का योग ही बनाता है। 15 नवंबर को बाजारों में तेजी के बाद कुछ मंदी का माहौल रहेगा। 18 नवंबर को बाजारों में तेजी की लहर को चलाएगा। 19 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख की स्थिति को बनाएगा। 23 नवंबर को बाजारों में बदलाव देकर मंदी का वातावरण बनाएगा। 28 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख बरकरार रखेगा। 29 नवंबर को बाजारों में उतार-चढ़ाव के चलते सोने व चांदी में कुछ तेजी का रूख ही बनाएगा। गुड़ व खांड़ 1 नवंबर को गुड़ व खांड के बाजारों में तेजी का ही योग दर्शाता है। 2 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख की स्थिति बनाएगा। 6 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख के चलते तेजी का ही रूख बरकरार रखेगा। 7 नवंबर को बाजारों में तेजी का दायक बनाएगा। 8 नवंबर को बाजारों में तेजी का रूझान ही बनाएगा। 10 नवंबर को बाजारों में मंदी का माहौल ही बनाएगा। 14 नवंबर को बाजारों में तेजी का वातावरण दर्शाता है। 15 नवंबर को बाजारों में तेजी के बाद कुछ मंदी की स्थिति को बनाएगा। 19 नवंबर को गुड़ व खांड के बाजारों में पुनः तेजी का दायक बनाएगा। 23 नवंबर को बाजारों में तेजी का योग ही बनाएगा। 28 नवंबर को बाजारों में मंदी का ही रूख बनाएगा। 29 नवंबर को बाजारों में तेजी की लहर को ही आगे चलाएगा। अनाजवान एवं दलहन मासारंभ में 1 नवंबर को गेहूं, जौ, चना, ज्वार, बाजरा इत्यादि अनाजवानों के बाजारों में मंदी तथा मूंग, मौठ, मसूर, अरहर इत्यादि दलहन के बाजारों में तेजी का रूख बरकरार रखेगा। 2 नवंबर को अनाजवानों व दलहन दोनों के बाजारों में मंदी का माहौल ही बनाएगा। 6 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख का रूझान ही बनाएगा। 7 नवंबर को बाजारों में आगे तेजी की लहर को चलाएगा। 8 नवंबर को बाजारों में विशेषतया तेजी में वृद्धि का योग बनाएगा। 10 नवंबर को बाजारों में कुछ मंदी का माहौल ही बनाएगा। 15 नवंबर को बाजारों में तेजी के बाद कुछ मंदी का वातावरण बनाएगा। 18 नवंबर को बाजारों में मंदी का दायक बनाएगा। 19 नवंबर को बाजारों में तेजी का योग दर्शाता है। 23 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख का रूझान ही बनाएगा। 28 व 29 नवंबर को गेहूं, जौ, चना, ज्वार, बाजरा इत्यादि अनाजवानों तथा मूंग, मौठ, अरहर, मसूर इत्यादि दलहन के बाजारों में तेजी के रूख को ही बरकरार रखेगा। घी व तेलवान 1 नवंबर को घी व तेलवान के बाजारों में तेजी का वातावरण दर्शाता है। 2 नवंबर को बाजारों में तेजी का माहौल ही बनाएगा। 6 नवंबर को बाजारों में तेजी का रूझान बनाएगा। 7 नवंबर को बाजारों में पूर्वरूख ही बनाएगा। 10 नवंबर को बाजारों में उतार-चढ़ाव की स्थिति को बनाएगा। 15 नवंबर को बाजारों में तेजी के बाद मंदी का योग ही बनाएगा। 18 नवंबर को बाजारों में मंदी का रूझान बनाएगा। 19 नवंबर को बाजारों में तेजी की लहर को चलाएगा। 23 नवंबर को बाजारों में तेजी का दायक ही बनाएगा। 28 नवंबर को बाजारों में तेजी का रूख बरकरार रखेगा। 29 नवंबर को घी व तेलवान के बाजारों में पूर्वरूख ही दर्शाएगा। नोट: उपर्युक्त फलादेश पूरी तरह ग्रह स्थिति पर आधारित है, पाठकों का बेहतर मार्ग दर्शन ही इसका मुख्य उद्देश्य है। इसके साथ-साथ संभावित कारणों पर भी ध्यान देना चाहिए जो बाजार को प्रभावित करते हैं। कृपया याद रखें कि व्यापारी की सट्टे की प्रवृत्ति और निर्णय लेने की शक्ति में कमी तथा भाग्यहीनता के कारण होने वाले नुकसान के लिए लेखक, संपादक एवं प्रकाशक जिम्मेदार नहीं हैं।


विवाह विशेषांक  नवेम्बर 2016

ज्योतिषीय पत्रिका फ्यूचर समाचार के इस विवाह विशेषांक में बहुत अच्छे विवाह से सम्बन्धित लेखों जैसे विवाह मिलान, प्रेम विवाह, विवाह में बाधा व देरी का ज्योतिषीय कारण व निवारण, विवाह की तारीख का निकालना, दशा और विवाह, अंकशास्त्र द्वारा विवाह मिलान, विवाह मिलान और मांगलिक दोष निवारण आदि पर परिचर्चा की गई है। अन्य महत्वपूर्ण लेखों में अमेरिका में राट्रपति चुनाव, वाट्सऐप ज्योतिष, भारत के जैम्स बाॅन्ड अजीत डोभाल, ओशो की कुण्डली का ज्योतिषीय आकलन, वास्तु में उत्तर-पूर्व में घर/प्लाॅट आदि। इसके अतिरिक् प्रत्येक माह का राशिफल, वास्तु फाॅल्ट, टोटके, विचार गोष्ठी आदि भी पत्रिका का आकर्षण बढ़ा रहे हैं।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.