पंच पक्षी की विशेषतायें एवं स्वभावगत लक्षण-1

पंच पक्षी की विशेषतायें एवं स्वभावगत लक्षण-1  

गिद्ध आपका व्यक्तित्व आपका जन्म पक्षी गिद्ध है अतः आपके व्यवहार में सदैव बचपना परिलक्षित होता है। आपके व्यवहार से निष्कपटता एवं भोलापन झलकता है तथा कभी-कभी आप बच्चों की तरह जिद्दी भी हो जाते हैं तथा अनावश्यक हठ करने लगते हैं। आप नटखट स्वभाव के हैं तथा आप में हास्य-व्यंग्य का पुट भरा हुआ है। आपको शरारत एवं मजाक करना अच्छा लगता है। आपको घूमना एवं सैर-सपाटे करना पसंद है खासकर हिल स्टेशन तथा पर्वतीय क्षेत्रों की सैर करना। आपको मीठा पसंद है। आप रोमांटिक स्वभाव के हैं तथा विपरीत लिंग की तरफ आसानी से आकर्षित हो जाते हैं। यद्यपि कि आप थोड़े लापरवाह हैं किंतु माता-पिता, परिवार तथा संबंधों के प्रति अपना उत्तरदायित्व बखूबी निभाते हैं। आपका दिमाग तेज है तथा आप पढ़ने-लिखने में होशियार हैं। जिस डाॅ. मनोज कुमार विषय में आपकी रूचि होती है उसे सीखने में आपको देर नहीं लगती। आप सृजनशील हैं तथा रचनात्मकता आप में प्रकृति प्रदत्त है। संगीत में आपकी काफी अभिरूचि है तथा इसकी आपको अच्छी परख है। अतः यदि आप इस दिशा में प्रयास करें तो आपको जीवन में अच्छी सफलता प्राप्त हो सकती है। आपका स्वास्थ्य आपको नसों एवं हड्डियों से संबंधित बीमारियां हो सकती हैं। त्वचा संबंधी रोग भी आपको कष्ट एवं पीड़ा दे सकते हैं। आप अपने स्वास्थ्य के प्रति हमेशा सचेत रहें तथा ऐसी लापरवाही न बरतें जिससे कि आप बीमार हो जायें। आपकी भाग्यशाली दिशा आपके लिए सबसे भाग्यशाली दिशा पूर्व है। इस दिशा में आपको शीघ्र सफलता प्राप्त होगी। किसी महत्वपूर्ण दस्तावेज पर हस्ताक्षर करने हेतु भी आपके लिए यह दिशा सफलतादायक होगी। आपके व्यवसाय अथवा कार्य की दिशा पूर्व ही होनी चाहिए। इस दिशा में की गई व्यावसायिक यात्रा के पूर्ण सफल होने की संभावना है। यदि पूर्व दिशा में आपकी कोई महत्वपूर्ण चीज खो गई हो तो उसके मिलने की संभावना शत-प्रतिशत है। आपका भाग्यशाली रंग आपका भाग्यशाली रंग सफेद है। अतः आप यथा संभव सफेद वस्त्र ही धारण करें तो अच्छा रहे। इस रंग के प्रयोग से आपकी सफलता में आने वाली अड़चनें दूर होंगी। महत्वपूर्ण व्यावसायिक यात्राओं एवं मीटिंग में इस रंग का अधिकाधिक इस्तेमाल करें, यह आपको अपने लक्ष्य की प्राप्ति में सहायक होगा। आपके शुभ देवता आपके लिए भगवान शिव की आराधना करना अति शुभ है। इनकी आराधना से आपकी इच्छाशक्ति दृढ़ होगी तथा आप में साहस तथा आत्मविश्वास का संचार होगा जिससे आप जीवन में आने वाली बाधाओं तथा समस्याओं का सामना एवं निबटारा आसानी से कर पाएंगे। इनकी आराधना से आपके कष्ट दूर होंगे, समस्याओं का निदान होगा तथा आपके प्रयासों का उचित पारितोषिक आपको प्राप्त होगा। साथ ही भगवान शिव की आराधना से आप में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा तथा जीवन में तरक्की एवं समृद्धि का मार्ग प्रशस्त होगा। उल्लू आपका व्यक्तित्व आपका जन्म पक्षी यह निर्दिष्ट करता है कि आप अति ऊर्जावान एवं आत्म विश्वासी व्यक्तित्व के धनी हैं। आप अत्यधिक महत्त्वाकांक्षी हैं। कठिन परिश्रम एवं जीवन के प्रति पूर्ण समर्पण आपका ध्येय है तथा यही आपकी सबसे बड़ी पूंजी है। आपके व्यक्तित्व की सबसे बड़ी कमी यह है कि आप शीघ्र ही क्रोधित हो जाने वाले हैं, अतः आपके लिए गुस्से पर नियंत्रण करना आवश्यक है। यद्यपि कि आपका स्वभाव दूसरों की सहायता करने वाली है किंतु आप दिवास्वप्न भी देखते हैं। आप नये-नये विचारों का सृजन एवं उनका प्रभावोत्पादक अनुशीलन करते हैं और यही आपकी सफलता का राज है। चाहे जैसी भी परिस्थिति हो आप धैर्य एवं आशा नहीं छोड़ते, उनका बुद्धिमत्ता से डटकर मुकाबला करते हैं। आपके व्यवहार की यह सकारात्मकता कई बार आपको अहंकारी भी बना देता है तथा आप स्वयं पर गर्व महसूस करने लगते हैं। आपको अपने मन को शांत एवं नियंत्रित करने का अभ्यास करना चाहिए। यदि आप ऐसा करने में सफल हो पाए तो हर प्रकार की सफलता आपके कदम चूमेगी। आपको अपना घर सजा-संवारकर रखना अच्छा लगता है। आपको प्राकृतिक वातावरण एवं अभ्यारण्य खुशी प्रदान करते हैं। आपको नमकीन खाद्य सामग्रियां रूचिकर लगती हैं। आपका स्वास्थ्य स्वास्थ्य के दृष्टिकोण से आपको पेट के निचले हिस्से, मुंह तथा पैरों में परेशानी हो सकती है तथा रक्त एवं रूधिर में संक्रमण हो सकता है। आपका जन्म पक्षी शरीर के इन अवयवों को प्रभावित करता है अतः आपको इस संबंध में उचित सावधानी बरतने की आवश्यकता है। यदि आपको शरीर के इन हिस्सों में किसी भी तरह की परेशानी का अनुभव हो तो तुरंत चिकित्सकीय सलाह लें। सावधानी बरतने से आपका स्वास्थ्य ठीक रहेगा तथा आप चुस्त-दुरूस्त महसूस करेंगे। आपकी भाग्यशाली दिशा दक्षिण दिशा आपके लिए सर्वाधिक शुभ है। यदि आप इस दिशा में कार्य करेंगे तो आपको सफलता प्राप्त होने की उम्मीद रहेगी। महत्वपूर्ण दस्तावेजों पर इसी दिशा में अभिमुख होकर हस्ताक्षर करें। ऐसा करने से परिणाम आपके अनुकूल रहेगा। दक्षिण दिशा में की गई यात्रायें आपके लिए लाभदायक एवं सफल साबित होंगी। अतः आप सफलता के लिए एवं लाभ प्राप्त करने के लिए अपनी व्यावसायिक गतिविधियां एवं मीटिंग इसी दिशा में संचालित करें। आपका भाग्यशाली रंग आपके लिए सर्वाधिक भाग्यशाली रंग सुनहला (गोल्डेन) है। इस रंग का अधिकतम उपयोग आपके जीवन में शुभत्व लाएगा तथा सफलता का मार्ग प्रशस्त करेगा। यदि आप किसी महत्वपूर्ण कार्य से घर के बाहर जा रहे हैं तो अवश्य ही इसी रंग के वस्त्र पहनें तथा इसी रंग का सर्वाधिक प्रयोग करें, निश्चय ही आपको कार्य में सफलता प्राप्त होगी। आपके शुभ देवता आपके लिए भगवान विष्णु की आराधना करना अति शुभ है। अतः आपको समर्पण भाव से भगवान विष्णु का ध्यान एवं पूजा करनी चाहिए। इनकी आराधना से आपके जीवन की हर समस्याओं का निदान होगा तथा हर बाधायें दूर होंगी। आपके लिए अध्यात्म की ओर अभिमुख होना श्रेयस्कर है, इससे आपके भाग्य में वृद्धि होगी तथा आप में सकारात्मक ऊर्जा का समावेश होगा। कौआ आपका व्यक्तित्व आप अति महत्वाकांक्षी हैं तथा जीवन में हर प्रकार की भौतिकवादी सुखों की प्राप्ति एवं उनके उपभोग की आपकी आकांक्षा होती है। एक इच्छा पूर्ण होते ही आपके मन में दूसरी इच्छा जन्म ले लेती है तथा आप उसे पाने को उद्यत हो जाते हैं। अपनी महत्त्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए आप किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार रहते हैं। अतः आपके लिए सलाह है कि आप अपनी इच्छा को नियंत्रित एवं सीमित करें अन्यथा सब कुछ होते हुए भी आप जीवन में असंतुष्ट रहेंगे। हालांकि आपके व्यक्तित्व में एक बात अच्छी यह है कि आप जीवन में पीछे मुड़कर नहीं देखते तथा समय के साथ आगे बढ़ते रहते हैं। आपकी अति महत्वाकांक्षा आपके वैवाहिक जीवन में कठिनाई पैदा कर सकती है। वैवाहिक जीवन में समस्या का एक कारण आपका विपरीत लिंग के प्रति आकर्षण तथा उनके बीच आपका लोकप्रिय होना है। आपको लोकप्रियता अत्यधिक पसंद है तथा आप सदैव आकर्षण का केंद्र बने रहते हैं। आपका सहयोगात्मक व्यवहार भी आपके व्यक्तित्व का एक सकारात्मक पहलू है। जीवन की विषम परिस्थितियों एवं कठिन घड़ी में भी आप शांतचित्त एवं धैर्यशील बने रहते हैं। अपने इन अंतर्निहित गुणों के कारण आप आलस्य का परित्याग करके जीवन पथ पर आगे बढ़ते रहेंगे तथा करियर में सफलता का दामन चूमते रहेंगे। आपका स्वास्थ्य आपका जन्मपक्षी यह निर्दिष्ट करता है कि आप नाना प्रकार के व्यंजनों के शौकीन हैं तथा अधिक सोना पसंद करते हैं। आपके लिए यह आवश्यक है कि आप अपने स्वास्थ्य के प्रति सावधान रहें तथा भोजन में संयम बरतें। आप नाक तथा गुप्तांगों की बीमारी से ग्रस्त हो सकते हैं क्योंकि आपका जन्मपक्षी इन अंगों का प्रतिनिधित्व करता है। आपकी भाग्यशाली दिशा आपके लिए उत्तर-पश्चिम दिशा सर्वाधिक भाग्यशाली है। इस दिशा में किया गया हर कार्य आपके लिए अनुकूल साबित होगा तथा इसके सफल होने की पूर्ण संभावना होगी। अपने आवश्यक कागजात भी आप इस दिशा में ही रखें। यदि आप किसी मुकदमे या कानूनी विवाद में फंसे हैं तो आप निश्चय ही इससे जुड़े कागजात इस दिशा में रखें, यह आपके लिए हितकारी साबित होगा। आपका भाग्यशाली रंग आपके लिए सर्वाधिक भाग्यशाली रंग लाल है। अतः यथासंभव आप लाल रंग के ही वस्त्र धारण करें। खासतौर पर विशेष अवसरों पर अथवा विशेष कार्य के लिए यदि जा रहे हों तो इस रंग के वस्त्र अवश्य पहनें तथा इस रंग का अधिकाधिक उपयोग करें। आपके शुभ देवता भगवान सूर्य की आराधना आपके लिए सर्वाधिक शुभ है। यदि आप विशुद्ध मन एवं समर्पित भाव से इनकी पूजा करें तो आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा का संचार होगा तथा आपके आत्मविश्वास एवं मनोबल में वृद्धि होगी। जीवन में कभी यदि किसी समस्या एवं अवरोध के कारण अत्यधिक तनाव एवं परेशानी महसूस करेंगे तो इस घड़ी में आप द्वारा की गई आराधना इन परेशानियों एवं अवरोध से मुक्ति दिलाने में सहायक होगा तथा आपको जीवन में गतिशील रहने की प्रेरणा देगा।


राजनीति विशेषांक  अप्रैल 2014

फ्यूचर समाचार पत्रिका के राजनीति विशेषांक में लोकसभा चुनाव 2014, विभिन्न राजनेताओं व राजनैतिक दलों के भविष्य के अतिरिक्त राजनीति में सफलता प्राप्ति के ज्योतिषीय योग, कौन बनेगा प्रधानमंत्री, गुरु करेंगे मोदी का राजतिलक, राहुल गांधी और नरेंद्र मोदी की कुंडलियों का तुलनात्मक विवेचन, वर्ष 2014 में देश के भाग्य विधाता, किसका बजेगा डंका लोकसभा 2014 के चुनाव में तथा साथ ही शासकों के शासक कौन, शुभ कार्यों में मुहूर्त की उपयोगिता, सफल व्यापारी योग, पंचपक्षी की विशेषताएं व स्वभावगत लक्षण तथा केतु ग्रह पर चर्चा आदि रोचक आलेखों को सम्मिलित किया गया है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.