होली पर किए जाने वाले विशेष टोटके

होली पर किए जाने वाले विशेष टोटके  

होली का पर्व उपाय की दृष्टि से अत्यधिक फल देने वाला होता है इस दिन किए गए टोटके शीघ्र फल देते हैं, अतः इस दिन उपाय करना श्रेयस्कर है....

नींव रखने से पहले आप जिस जगह अपना व्यापार शुरू करना चाहते हैं या भवन बनाना चाहते हैं वह स्थान आपको पूरी अनुकूलता दे इसके लिए आप होली के दिन वास्तु यंत्र को पीले रंग के वस्त्र पर स्थापित कर लें। उसका पहले धूप, दीप, नैवेद्य अर्पित कर पूजन करें और निम्न मंत्र को 75 बार जप कर नींव में ही दबा दें। भवन हो या व्यापार स्थल, आपके अनुकूल बना रहेगा। व्यापार में वृद्धि होगी, भवन में रहने वाले सुखी रहेंगे। मंत्र- ऊँ नमो वैश्वानर वास्तु रुपाय, भूपति त्वं मे देहि दापय स्वाहा।

वास्तु दोष निवारण

अपने घर की सुरक्षा के लिए वास्तु यंत्र को ऊपर लिखे मंत्र का 51 बार जप कर आंगन में दबा दें। यह संभव न हो तो घर से बाहर जहां पौधे लगे हों, वहां दबा दें। ऐसा करने से हर प्रकार से आपका घर सुरक्षित रहेगा। इसमें श्रद्धा का होना आवश्यक है।

गृह क्लेश एवं दरिद्रता निवारण

घर के क्लेश, दुख, दरिद्रता आदि समाप्त हांे, इसके लिए शुद्ध वास्तु यंत्र लेकर केसर से सभी सदस्यों का नाम लिख लें और ऊपर दिए गए मंत्र का ग्यारह बार जप करें। यह उपाय होली से पहले पांच दिन तक करें। इसके पश्चात यंत्र को होली की अग्नि में डाल दें- क्लेश, दुख, दरिद्रता आदि का नाश हो जाएगा।

शत्रु पर विजय

मुकदमे में सफलता प्राप्त करने के लिए, शत्रु पक्ष को निर्बल करने के लिए एक कागज पर हल्दी से नीचे लिखा मंत्र लिख लें। फिर बगलामुखी का ध्यान करते हुए उसे उसी कागज में मौली से बांध दें। नीचे लिखे मंत्र का 41 बार जप करें। ऐसा पांच दिन तक करें और होली के दिन यंत्र को दुर्गा मंदिर में चढ़ा दें। मंत्र- ऊँ ह्रीं बगलामुखी सर्वदुष्टानां वाचं मुखं पदं स्तम्भय जिह्नां कीलय बुद्धिं नाशय ह्रीं ऊँ स्वाहा । नियम व श्रद्धा का होना आवश्यक है।

नजर दोष

भोजन को बुरी नजर से बचाने के लिए उसमें से प्रत्येक पदार्थ थोड़ा थोड़ा लेकर एक पत्ते पर रखें और उस पर गुलाल बिखेरें। बाद में उसे रास्ते में रख दें। बुरी नजर का प्रभाव जाएगा, फिर सभी सदस्य आराम से भोजन कर सकते हैं।

आर्थिक स्थिति में सुधार

यदि आर्थिक स्थिति खराब हो, तो शुक्रवार (शुक्ल पक्ष) को एकाक्षी नारियल पर सिंदूर, धूप, दीप, नैवेद्य चढ़ा कर लाल वस्त्र में बांधकर माता लक्ष्मी से प्रार्थना करें, लक्ष्मी चालीसा का पाठ करें व एकाक्षी नारियल को अपने व्यवसाय स्थल पर रखें। यदि होली के दिन यह उपाय कर लें, तो सोने पर सुहागा।

परीक्षा में सफलता

यदि परीक्षा में अंक अच्छे नहीं आते, बार बार असफलता मिलती हो तो गुरु-पुष्य योग का शुक्ल पक्ष के बुधवार को गणपति के मंदिर में सिंदूर का दान करें। यह निश्चित है कि श्रद्धा विश्वास के साथ ऐसा उपाय करने से परीक्षा में परिश्रम से अधिक सफलता प्राप्त होगी। जिन्हें यह समस्या है वह यह उपाय निर्देशानुसार अवश्य करें व लाभ उठाएं। परीक्षाएं आने वाली भी हैं। साथ साथ पढ़ाई करना तो आवश्यक है, भगवान उसमें सहायता करेंगे।

कर्ज मुक्ति

यदि आप लगातार कर्जों से परेशान हों या व्यवसाय में बाधा आ रही हो, या किसी भी प्रकार आय में वृद्धि नहीं हो पा रही हो तो एक सियार सिंगी होली के दिन एक चांदी की डिब्बी में रख लें व प्रत्येक पुष्य नक्षत्र में सिंदूर चढ़ाते रहें। ऐसा करने से आप की उपर्युक्त सभी समस्याएं दूर हो जाएंगी व शीघ्र ही फल की प्राप्ति होगी



वैकल्पिक चिकित्सा विशेषांक   मार्च 2007

तनाव दूर भागने में सहायक वैकल्पिक चिकित्सा, एक्यूप्रेशर कैसे काम करता है? स्पर्श चिकित्सा का जादुई प्रभाव, जड़ी बूटियां के अमृतदायी गुण, उपचार के समय सावधानियां, रेकी एक्यूप्रेशर एवं प्राणिक हीलिंग उपचार पदवियों पर विस्तार से चर्चा की गई है

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.