आप और वर्ष २०१३

आप और वर्ष २०१३  

वर्ष 2013 के प्रारंभ में शनि अपने उच्च स्थान में बैठे हैं जो कि 30 वर्ष बाद इस स्थिति में आते हैं। गुरु एवं केतु वृष राशि में व राहु वृश्चिक राशि में स्थित हैं। राहु 15 जनवरी को तुला में प्रवेश कर जाएंगे जबकि गुरु 31/5 को वृष से मिथुन राशि में गोचर कर जाएंगे। मंगल इस वर्ष मार्गी ही रहेंगे। 2013 विश्व में शांति का पैगाम लेकर आएगा। प्राकृतिक आपदाएं बहुत कम होंगी। इस ग्रह स्थिति के कारण 2013 का भविष्य फल निम्न रहेगा- सोना: इस वर्ष सोना नई ऊंचाइयां पार करेगा, जनवरी में सोने के रेट ऊपर नीचे होते रहेंगे पर फरवरी में एक उछाल आएगा। मार्च में फिर रेट कम होंगे लेकिन लगभग 15 अप्रैल के बाद सोने की चमक बढ़ेगी और सितंबर तक यह चमक बरकरार रहेगी। अक्तूबर में सोना थोड़ा फीका रहेगा और दीवाली के आस-पास रेट में उतार ही रहेगा। इसके बाद ही पुनः सोना अपनी चमक को प्राप्त करेगा। अतः जनवरी, मार्च व अप्रैल का प्रथम पखवाड़ा सोने की खरीद के लिए काफी अच्छा है अन्यथा दीवाली के आस-पास में सोना खरीदें। वर्षा: इस वर्ष 2013 से वर्षा का स्वरूप भिन्न होगा। लगभग अप्रैल के अंतिम सप्ताह में कुछ बंूदा-बांदी होगी, उसके बाद मई सूखा जाएगा, जून मध्य में पुनः वर्षा होगी लेकिन मानसून कुछ देरी से मध्य जुलाई तक ही आएगा जो कि मध्य अगस्त तक बरसेगा। इसके बाद सितंबर के अंत में वर्षा होने के आसार हैं जो कि अक्तूबर के मध्य तक चल सकते हैं। कुल मिलाकर वर्षा अच्छी रहेगी व विस्तृत स्वरूप में होगी किंतु बाढ़ की संभावना कम रहेगी। कुल वर्षा साधारण से अधिक होगी। डाॅलर: 2013 में रुपया सुदृढ़ रहेगा, जनवरी में डालर कुछ ऊंचाई प्राप्त करके कमजोर होता जाएगा व मार्च-अप्रैल में न्यूनतम स्तर पर आ जाएगा। उम्मीद है डाॅलर पचास रूपये के रेट तक भी आ सकता है। उसके बाद डालर के रेट में कुछ बढ़ोत्तरी होगी लेकिन केवल उतार-चढ़ाव ही होता रहेगा। सेंसेक्स: जनवरी के अंत में सेंसेक्स में कुछ सुधार रहेगा पर उसके बाद यह धीरे-धीरे लुढ़कता रहेगा और मार्च के अंत तक निम्न स्तर पर आ जाएगा। उसके बाद अप्रैल-मई में ऊंचाइयां प्राप्त करके फिर वर्षान्त तक ऊपर नीचे होता रहेगा। जून में कुछ ऊपर रहेगा तो जुलाई-अगस्त में नीचे, सितंबर में फिर ऊपर तो अक्तबूर के अंत में फिर नीचे, नवंबर-दिसंबर में ऊपर होता रहेगा। 2013 के वर्ष में सेंसेक्स न तो बहुत ऊपर जाएगा न ही नीचे। भारत: भारत के लिए वर्ष 2013 बहुत अच्छा रहेगा। भारत की प्रतिष्ठा बढ़ेगी। लग्न में गुरु का गोचर विश्व में भारत के गौरव को बढ़ाएगा। शनि का छठे भाव से गोचर शत्रुओं पर अंकुश रखेगा और उन पर विजय दिलाएगा। राहु-केतु का गोचर भी भारत को विश्वव्यापी बनाएगा और एफ. डी. आई का पूर्णरूप से प्रसार होगा। आंतरिक राजनीति में बी. जे. पी. का वर्चस्व बढ़ेगा। मेष: मेष राशि के लिए वर्ष 2013 अत्यंत फलदायी रहेगा। नाम के साथ धन भी मिलेगा। लेकिन पत्नी से झगड़ा बढ़ सकता है। कुटुंब में बढ़ोत्तरी होगी। यदि घर या वाहन परिवर्तन की आशा है तो इस वर्ष अवश्य होगा। वृष: सभी शत्रुओं पर विजय प्राप्त होगी। प्रतियोगी परीक्षा के परिणाम सुखद रहेंगे। ख्याति प्राप्त होगी। दूर क्षेत्र में भ्रमण के भी आसार बनेंगे। नौकरी में उन्नति मिलेगी। व्यवसाय में बढ़ोत्तरी होगी। मिथुन: विदेश यात्रा के योग बनेंगे। संतान सुख प्राप्त होगा। किसी की बीमारी पर भी कुछ खर्चा हो सकता है। यदि आप घर बनाना चाहते हैं तो उसमें निवेश करने के लिए यह उत्तम वर्ष है। विद्यार्थियों के लिए यह वर्ष विशेष लाभदायक रहेगा। कर्क: जिनकी शादी नहीं हुई है उनकी शादी होगी। वर्ष लाभ की दृष्टि से उत्तम रहेगा। घर परिवर्तन हो सकता है। कर्क राशि पर शनि की ढैय्या के कारण घर में कुछ तनाव रह सकता है। इसको दूर करने के लिए हनुमान जी व शनि देव की आराधना शांति दायक रहेगी। सिंह: इस वर्ष व्यवसाय में बढ़ोत्तरी व नौकरी में प्रोन्नति प्राप्त होगी। दूरगामी यात्राएं हांेगी। यात्राएं व्यवसाय व धर्म दोनों प्रकार की होंगी। वर्ष भर आप सक्रिय रहेंगे। अनेक महत्वपूर्ण कार्यों में सफलता प्राप्त होगी। वृश्चिक: शनि की साढ़ेसाती प्रारंभ हुई है अतः कोई बड़ा निवेश न करें। कुछ लंबी दूरी की यात्राएं हो सकती हैं। यदि संपत्ति में निवेश करेंगे तो ठीक रहेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। विशेष तौर पर हड्डी व पैर संबंधित रोग का उपचार पूर्णरूप से करें। शनि व हनुमत आराधना विशेष फलदायी रहंेगे। धनु: वर्ष आपके लिए अनेक प्रकार के लाभों का टोकरा लेकर आएगा। जिनकी शादी नहीं हुई है उनकी शादी होगी या संतान इच्छुक को संतान प्राप्त होगी। यदि आप बड़े निवेश करना चाहते हैं तो अवश्य करिए, फल अनुकूल ही प्राप्त होंगे। विद्यार्थियों के लिए भी यह वर्ष अच्छे परिणाम दर्शाएगा। अचानक लाभ प्राप्त होंगे। मकर: व्यवसाय की दृष्टि से यह वर्ष विशेष फलदायी रहेगा। संतान से शुभ समाचार प्राप्त होंगे। नौकरी में उन्नति मिल सकती है या किसी अच्छे पद पर काम करने को मिलेगा। आर्थिक दृष्टि से भी वर्ष उत्तम है। समय का सदुपयोग करें। कुंभ: यदि आप घर या वाहन बदलना चाहते हैं तो पूर्वार्ध में ही समय उत्तम है। पिछले वर्ष जो काम नहीं बन पाए या जो परेशानियां रहीं, इस वर्ष सभी परेशानियां समाप्त हो जाएंगी तथा आप प्रगति की ओर अग्रसर होंगे। अचानक अनेक बातंे आपके पक्ष में होंगी और इस वर्ष बहुत सुखद अनुभूति होगी। बिना फल की चिंता किए, मन लगाकर कार्य करें, शुभ होगा। मीन: अपने वरिष्ठ अधिकारी का कहना मानें व कनिष्ठ सहयोगियों से उलझे नहीं, उसी से शांति रहेगी। कार्य करते रहें लेकिन उसके फल की अपेक्षा न करें क्योंकि फल कार्य अनुरूप प्राप्त नहीं होंगे। उत्तरार्द्ध में नवगृह/वाहन प्राप्ति के योगहैं। धन प्राप्ति अच्छी रहेगी। यदि व्यवसाय में कष्ट हैं तो हनुमत पूजन व शनि शांति के उपाय करें। आने वाले वर्ष शुभ रहेंगे।


नववर्ष विशेषांक  जनवरी 2013

फ्यूचर समाचार पत्रिका के नववर्ष विशेषांक में नववर्ष की भविष्यवाणियों में आपकी राशि तथा भारत व विश्व के आर्थिक, राजनैतिक व सामाजिक हालात के अतिरिक्त शेयर बाजार, सोना, डालर, सेंसेक्स व वर्षा आदि शामिल हैं। इसके अतिरिक्त कैसे रहेगा वर्ष 2013 आपके लिए अंकशास्त्र के माध्यम से, क्या करें कि नववर्ष मंगलमय हो, आदि आलेख भी शामिल हैं। रोचक आलेख जैसे वैज्ञानिकों का नया अनुसंधान, वास्तु परामर्श, वास्तु प्रश्नोतरी, विवादित वास्तु, यंत्र समीक्षा/मंत्र ज्ञान, महाविनाश का दिन, लालकिताब के टोटके, अधम अश्वथामां, एक था टाइगर नामक सत्यकथा, अंक ज्योतिष के रहस्य, फर्श से अर्श की उड़ान का मार्मिक अंत व जन्मविवरण ना रहने की स्थिति में भविष्य जानने के तरीके आदि विषयों पर गहन चर्चा की गई है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.