हस्तरेखा शास्र


शनि ग्रह से ही नहीं है भाग्य रेखा का संबंध

आगस्त 2006

व्यूस: 2267

भाग्य रेखा जातक के जीवन की महत्वपूर्ण घटनाओं जैसे जीवनचर्या, धन-दौलत, संतान, स्वास्थ्य सभी के बारे में बतलाती है। हथेली में शनि पर्वत पर जाने वाली रेखा को भाग्य रेखा कहा जाता है। इसे हस्तरेखा शास्त्र की भाषा में शनि रेखा भी... और पढ़ें

ज्योतिषहस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीकहस्तरेखा सिद्धान्त

हस्तरेखाओं के माध्यम से जन्मतारीख व जन्मसमय निकालना

अप्रैल 2011

व्यूस: 2198

सामुद्रिक में आयु रेखा से आयु का परिमाण ज्ञात होता है लेकिन हस्त रेखाओं से जन्म तारीख आदि संपूर्ण विवरण का ज्ञान एक नवीन धारणा और उद्भावना है।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीकहस्तरेखा सिद्धान्त

मणिबंध रेखाओं का विचार

अप्रैल 2017

व्यूस: 2195

मणिबंध हाथ का प्रारंभिक हिस्सा है। इसे केतु ग्रह का स्थान भी कहते हैं। वस्तुतः हाथ में मणिबंध ही मूल स्थान है, जो 3 अथवा 3 से अधिक रेखाओं से सुशोभित हो। ‘कलाई’ के नाम से भी यह प्रसिद्ध है।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

भाग्य रेखा

अप्रैल 2017

व्यूस: 2155

‘‘त्यक्त्वाऽधो मणिबन्धं या रेखा स्यात् कर गामिनी। सुवर्ण रत्न राज्यश्री दायिका सा न संशयः।। ‘‘स्कन्ध शारीरिक’’ ग्रंथों के अनुसार मणिबंध से यदि भाग्य रेखा का प्रारंभ हो और जीवन रेखा से मिलती हुई आगे बढ़ती जाय और शनि पर्वत के... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

हस्तरेखा से कैसे जानें कि जातक नौकरी करेगा या व्यवसाय?

अप्रैल 2017

व्यूस: 2052

जीवन में एक ऐसा पड़ाव भी आता है कि हमंे अपने करियर का या व्यवसाय का चुनाव करना पडता है। करियर का चुनाव करते समय अपनी रूचि को अधिक प्राथमिकता दी जाती है। हस्त रेखाओं व ग्रहांे की सहायता लेना व्यक्ति को कार्यक्षेत्र में सफल बनाने म... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीकव्यवसाय

जब हथेली में शनि बैठा हो

नवेम्बर 2006

व्यूस: 2021

शनि आपका मित्र है या शत्रु ! यदि आप यह बात नहीं जानते, तो अपनी हथेलियों का परीक्षण कीजिए। शनि आपके अनुकूल नहीं है, तो उसके लक्षणों को पहचान कर उपाय कीजिए। हाथ की रेखाओं में शनि की उपस्थिति का परिचय पाने के लिए पढ़िए यह आलेख...... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंग्रहभविष्यवाणी तकनीक

पांच मिनट में पढ़िए हाथ की रेखाएं

आगस्त 2006

व्यूस: 1957

कल्पना कीजिए यदि आप हाथ देखना जान जाएं तो अपने संपर्क में आने वाले व्यक्तियों के स्वभाव को आसानी से पहचान सकते हैं और उस व्यक्ति के गुणों, चरित्र आदि की जानकारी पाकर उससे मित्रता का हाथ बढ़ा सकते हैं या फिर सावधान हो सकते हैं। इ... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंहस्तरेखा सिद्धान्त

विवाह रेखा एवं उसके फल

आगस्त 2006

व्यूस: 1946

विवाह तय करते समय जन्मपत्री मिलान के अतिरिक्त हस्त रेखाओं का अध्ययन भी सावधानीपूर्वक करना चाहिए, क्योंकि जन्मपत्री जन्म समय का ठीक ठीक पता नहीं होने से गलत हो सकती है परंतु हस्त रेखा सही होती है। विवाह रेखा के अलावा भाग्य, ... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रविवाहग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

हथेली में विभिन्न रोगों के लक्षण

अप्रैल 2017

व्यूस: 1924

मनुष्य की प्रगति के साथ-साथ उसके खान-पान और दिनचर्या में अनियमितताओं के कारण होने वाली विकृतियां उसे रोगग्रस्त बनाती हैं। प्रकृति इन संभावनाओं को प्रत्येक मनुष्य की हथेली में समय से पहले चेतावनी स्वरूप अंकित कर देती है। इसक... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

धन आगमन में रुकावट क्यों?

मार्च 2006

व्यूस: 1906

धन आगमन में रुकावटों का कारण होता है मनुष्य का हाथ अर्थात हाथों की लकीरें और हाथांे में स्थित निर्धनता के योग। आइये जानें इन रुकावटों का क्या संबंध है हाथों से:... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)