brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer
क्या कहती हैं मनमोहन सिंह की हस्त रेखाएं

क्या कहती हैं मनमोहन सिंह की हस्त रेखाएं  

क्या कहती हैं मनमोहन सिंह की हस्त रेखाए प्रषांत मिश्र ‘प्रियदर्शी’ प्रधान मंत्री डाॅ. मनमोहन सिंह की छवि केवल अर्थशास्त्री की ही नहीं, एक सफल प्रधान मंत्री के रूप में भी जनमानस में उभरी है। उनके सफल नेतृत्व का राज क्या है आइए, जानें उनकी हस्तरेखाओं और मुखाकृति से... म न म ा े ह न िस ं ह अपनी विनम्रता, विद्वत्ता एवं निष्कलुष छवि के लिए जाने जाते हैं। महान यूनानी दार्शनिक अरस्तू ने कहा था कि पढ़े-लिखे, अच्छे और संभ्रांत लोग अगर राजनीति से दूर रहेंगे तो उन्हें दुष्ट, अकुलीन तथा अयोग्य लोगों के द्वारा शासित होने के लिए तैयार रहना चाहिए। यह हमारा सौभ्¬ााग्य है, तथा भारतीय जनतंत्र के लिए गौरव की बात है कि डाॅ. मनमोहन सिंह सरीखे अर्थशास्त्री, विद्वान और शिक्षाविद् तथा डाॅ.ए.पी.जे. अब्दुल कलाम जैसे वैज्ञानिक राजनीति में हैं और इसी माध्यम से क्रमशः प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के पद पर सुशोभित हैं। वास्तव में, प्रधान मंत्री के पद पर श्री सिंह के आसीन होने से पद की गरिमा बढ़ी है। भारतीय अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण में श्री सिंह की अर्थनीतियों का महती योगदान रहा है। आइए, ज्योतिषीय संदर्भ में, एवं हस्तरेखा के माध्यम से यह समझने का प्रयत्न करें कि सितारे क्या कहते हैं। हस्तरेखा: डाॅ. मनमोहन सिंह की हथेली आदर्श श्रेणी की है जो वर्गाकार हथेली का ही परिषकृत रूप होती है। ऐसी हथेली वाले जातक बुद्धिमान, कर्मठ, अध्यवसायी एवं परिश्रमी होते हैं। शारीरिक एवं मानसिक दोनों ही प्रकार का श्रम यथेष्ट मात्रा में करने की इनमें क्षमता होती है। लंबी एवं कोणिक उंगलियां होने से व्यक्ति में उच्च कोटि के चिंतन एवं मनन की म न म ा े ह न िस ं ह अपनी विनम्रता, विद्वत्ता एवं निष्कलुष छवि के लिए जाने जाते हैं। महान यूनानी दार्शनिक अरस्तू ने कहा था कि पढ़े-लिखे, अच्छे और संभ्रांत लोग अगर राजनीति से दूर रहेंगे तो उन्हें दुष्ट, अकुलीन तथा अयोग्य लोगों के द्वारा शासित होने के लिए तैयार रहना चाहिए। यह हमारा सौभ्¬ााग्य है, तथा भारतीय जनतंत्र के लिए गौरव की बात है कि डाॅ. मनमोहन सिंह सरीखे अर्थशास्त्री, विद्वान और शिक्षाविद् तथा डाॅ.ए.पी.जे. अब्दुल कलाम जैसे वैज्ञानिक राजनीति में हैं और इसी माध्यम से क्रमशः प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति के पद पर सुशोभित हैं। वास्तव में, प्रधान मंत्री के पद पर श्री सिंह के आसीन होने से पद की गरिमा बढ़ी है। भारतीय अर्थव्यवस्था के सुदृढ़ीकरण में श्री सिंह की अर्थनीतियों का महती योगदान रहा है। आइए, ज्योतिषीय संदर्भ में, एवं हस्तरेखा के माध्यम से यह समझने का प्रयत्न करें कि सितारे क्या कहते हैं। हस्तरेखा: डाॅ. मनमोहन सिंह की हथेली आदर्श श्रेणी की है जो वर्गाकार हथेली का ही परिषकृत रूप होती है। ऐसी हथेली वाले जातक बुद्धिमान, कर्मठ, अध्यवसायी एवं परिश्रमी होते हैं। शारीरिक एवं मानसिक दोनों ही प्रकार का श्रम यथेष्ट मात्रा में करने की इनमें क्षमता होती है।


पराविद्याओं को समर्पित सर्वश्रेष्ठ मासिक ज्योतिष पत्रिका  आगस्त 2006

भविष्यकथन के विभिन्न पहलू सभ्यता के प्रारम्भिक काल से ही प्रचलित रहे हैं। वर्तमान परिदृश्य में ज्योतिष, अंकशास्त्र, हस्तरेखा शास्त्र एवं मुखाकृति विज्ञान सर्वाधिक लोकप्रिय हैं। प्रत्येक व्यक्ति को अपने जीवन की आगामी घटनाओं की जानकारी प्राप्त करने की इच्छा होती है। इसके लिए वह इन विधाओं के विद्वानों के पास जाकर सम्पर्क करता है। फ्यूचर समाचार के इस विशेषांक में मुख्यतः हस्तरेखा शास्त्र एवं मुखाकृति विज्ञान पर प्रकाश डाला गया है। इन विषयों से सम्बन्धित अनेक उल्लेखनीय आलेखों में शामिल हैं - हथेली में पाए जाने वाले चिह्न और उनका प्रभाव, पांच मिनट में पढ़िए हाथ की रेखाएं, विवाह रेखा एवं उसके फल, संतान पक्ष पर विचार करने वाली रेखाएं, शनि ग्रह से ही नहीं है भाग्य रेखा का संबंध, जाॅन अब्राहम और शाहरुख खान की हस्तरेखाओं का अध्ययन, कैसे करें वर-कन्या का हस्तमिलान, उपायों से बदली जा सकती है हस्तरेखाएं, चेहरे से जानिए स्वभाव आदि। इनके अतिरिक्त स्थायी स्तम्भों के अन्य महत्वपूर्ण आलेख भी शामिल हैं।

सब्सक्राइब

.