brihat_report No Thanks Get this offer
fututrepoint
futurepoint_offer Get Offer

अन्य पराविद्याएं


क्यों?

आगस्त 2014

व्यूस: 3150

अनादि काल से ही हिंदू धर्म में अनेक प्रकार की मान्यताओं का समावेश रहा है। विचारों की प्रखरता एवं विद्वानों के निरंतर चिंतन से मान्यताओं व आस्थाओं में भी परिवर्तन हुआ। क्या इन मान्यताओं व आस्थाओं का कुछ वैज्ञानिक आधार भी है? ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंविविध

कस्पल पद्धति

दिसम्बर 2015

व्यूस: 3111

कस्पल ज्योतिष का स्वर्णिम नियम यह है कि इवंेट (घटना) उस दशाकाल में फलित या घटित होती है जिस दशाकाल के ग्रह उस विशिष्ट इवेंट को देने में सक्षम हों यानि कि वह किसी विशिष्ट इवेंट/घटना का परिपूर्ण सिग्निफिकेटर बने बशर्ते गोचर ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंभविष्यवाणी तकनीक

आपकी राशि और आपका लक्की हेयरकट

मार्च 2014

व्यूस: 3106

आपने फेस कट के मुताबिक तो कई बार हेयरकट करवाया होगा, लेकिन एक बार अपनी राशि/लग्न को ध्यान में रखकर हेयरकट करवा कर देखिए... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंविविध

सपनों का सच

जून 2010

व्यूस: 3093

ह र इंसान स्वप्न देखता है। कुछ हमें याद रहते हैं अ©र कुछ भूल जाते हैं। यदि आप अपने विचारों क¨ व्यक्त कर सकते हैं, किसी कार्य क¨ कुषलता से कर सकते हैं त¨ आप स्वप्न देखते हैं।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंसपने

पंचपक्षी शास्त्र के उपयोग

अप्रैल 2015

व्यूस: 3038

प्रत्येक मनुष्य का जन्म या तो दिन अथवा रात्रि, कृष्ण पक्ष अथवा शुक्ल पक्ष एवं सप्ताह के किसी एक वार को होता है। पंच पक्षी पांच तात्त्विक स्पंदन के आधार पर पांच तरीके से शुक्ल पक्ष एवं कृष्ण पक्ष में चंद्र के बढ़ते एवं घटते कलाओं ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंपंचांग

एक्यूपंक्चर व एक्यूप्रेशर पद्धति

मई 2016

व्यूस: 2997

एक्युपंक्चर चिकित्सा पद्धति में शरीर के कुछ निश्चित बिंदुओं पर सुइयां चुभाकर विभिन्न रोगों का इलाज किया जाता है। यह प्रणाली एक्युप्रेशर चिकित्सा प्रणाली से कुछ हद तक अलग है। इसमें विभिन्न केंद्रों को दबाकर सूइयों को चुभाकर ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंएक्यूप्रेशर, एक्यूपंक्चरभविष्यवाणी तकनीक

टैरो के विभिन्न कार्ड्स

फ़रवरी 2015

व्यूस: 2977

भविष्य कथन की अनेक पद्धतियां हैं इनमें से टैरो अत्यधिक रोमांचकारी व ताकतवर तरीका है, इसके द्वारा गहरी से गहरी अंतर्मन की बात को जान जाते हैं, उसे समझते हैं तथा उस समस्या व परेशानी का सही हल ढूंढ़ते हैं जिससे कि खुशी पा सकें।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंटैरोभविष्यवाणी तकनीक

लाल किताब ज्योतिष

मार्च 2015

व्यूस: 2957

- पंचमेश (सूर्य), तृतीयेश (बुध), एवं षष्ठेश (बुध), नवमेश (गुरु) एवं दशमेश (शनि), प्रत्यक्ष या परोक्ष किसी न किसी रूप में पिता एवं पिता की संपत्ति के कारक हैं। - गुरु एवं सूर्य, गुरु एवं बुध तथा गुरु एवं शनि किसी भी भाव में ... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंभविष्यवाणी तकनीक

गतिविधि का समय एवं पक्षियों के बल

मार्च 2015

व्यूस: 2878

प्रत्येक मनुष्य का जन्म या तो दिन अथवा रात्रि, कृष्ण पक्ष अथवा शुक्ल पक्ष एवं सप्ताह के किसी एक वार को होता है। पंच पक्षी पांच तात्त्विक स्पंदन के आधार पर पांच तरीके से शुक्ल पक्ष एवं कृष्ण पक्ष में चंद्र के बढ़ते एवं घटते कलाओं ... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंपंचांगभविष्यवाणी तकनीक

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)