परीक्षा में सफलता: छात्र यदि निम्न उपाय करेंगे तो अवश्य ही सफलता उनके कदम चूमेगी। परीक्षा से एक महीने पूर्व प्रातः बुधवार को नित्यक्रिया से निवृत्त होकर स्वच्छ वस्त्र पहनें। पास में जहां भी गणपति या सरस्वती का मंदिर हो वहां गुलाब की अगरबत्ती, धूप-दीप जलाएं, पूर्व मुख बैठंे और मूंगे की माला पर निम्न मंत्र का जाप पांच माला करें: मंत्र: ऊँ एकदंत महाबुद्धिः सर्व सौभाग्यदायकः सर्व सिद्धिकरौ देवा, गौरीपुत्र विनायकः। परीक्षा में उत्तीर्ण होने तक नियम से करें। जिस समय प्रश्नपत्र करने बैठें, 5 बार इस मंत्र का उच्चारण कर लें। परीक्षा में निश्चित ही अच्छे अंकों से सफलता प्राप्त होगी। ग्रह कलह मिटाने के लिएः मंगलवार के दिन चितकबरी कौड़ी को पूजा में प्लेट में रखें, मनोभाव से धूपदीप जलाएं, पूजा करें, बिना गिनती के आधा घंटा निम्न मंत्र का जाप करें: मंत्र: ऊँ क्रीं क्रीं सर्वविवाद निवारणायं। इसके पश्चात चितकबरी कौड़ी को किसी कुंए, तालाब या नदी में डाल दें। बुरा स्वप्न: यदि बुरा स्वप्न दिखाई दे तो प्रातः उठ कर उसे एक कागज पर संक्षेप में लिखें, फिर उसे दिये पर पकड़ कर जला दें। साथ ही हनुमान जी के मंदिर जाकर धूप, अगरबत्ती जला कर आएं। ऐसा करने से बुरा स्वप्न निष्फल हो जाता है। पाठक इस का अवश्य लाभ उठाएं। धनागम: प्रतिदिन हरि मंदिर जाएं। सायं लक्ष्मी-विष्णु प्रतिमा के आगे घी का दीपक जलाएं व ऊँ नमो नारायणाय नमः का पांच मिनट बैठकर जाप करें। घर में बरकत होगी, धन आएगा, गृह-क्लेश का नामोनिशान नहीं रहेगा। दाम्पत्य सुख: दाम्पत्य सुख की प्राप्ति के लिए प्रत्येक शनिवार को प्रातःकाल पीपल के पास तिल्ली के तेल का दीपक जलाना चाहिए तथा शनिवार और मंगलवार को सायंकाल अपने जीवनसाथी के साथ हनुमान जी के मंदिर जाना चाहिए। प्रसाद चढ़ाएं व मनोभाव से दाम्पत्य सुख की प्रार्थना करें। धीरे-धीरे सुख का अनुभव करेंगे। आजीविका के लिए मनोकामनापूर्ति: रात्रि में शयन करते समय तांबे के बर्तन में जल भरकर अपने पास रखें। प्रातःकाल पक्षियों को पिलाना चाहिए। बहुत प्रभावशाली टोटका है। किसी से कोई जिक्र न करें। श्रद्धा अटूट होनी चाहिए। सूर्य नमस्कार करें। संतान प्राप्ति के लिए: संतान गोपाल यंत्र पूजा में शुक्ल पक्ष के प्रथम सोमवार को स्थापित करें तथा नित्य उसके सम्मुख संतान गोपाल स्तोत्र का पाठ करें। धूप-दीप जलायें। दूध से निर्मित वस्तु का भोग लगाएं। गर्मी: शहर में यदि बहुत तड़पाने वाली गर्मी पड़ रही हो तो स्नान कर, साफ वस्त्र पहन कर भगवान विष्णु की प्रतिमा के आगे धूप जलायें व प्रार्थना करें। धूप जलाते वक्त कोई आपको टोके नहीं। अपने घर के मंदिर में यह उपाय कर सकते हैं। मौसम में अवश्य बदलाव आएगा, गर्मी कम होगी व भगवान विष्णु की कृपा से राहत देने वाले बादल आ जाएंगे। श्रद्धा की आवश्यकता है। ईश्वर भक्तों का बहुत ध्यान रखते हंै। स्वास्थ्य पीड़ा: यदि नज़र दोष के कारण स्वास्थ्य पीड़ा मिल रही हो तो नीचे लिखे मंत्र का ग्यारह बार जप करते हुए मोर पंख के द्वारा ग्यारह बार सिर से पैर तक झाड़ा देना चाहिए। ऊँ किलि किलि स्वाहा। नज़र से बचाव: दो व्यक्तियों की मित्रता या आपसी संबंधों को किसी अन्य व्यक्ति की नज़र न लगे तो इस के लिए एक दूसरे के जन्म दिन पर स्फटिक से बनी कोई भी वस्तु उपहार में देनी चाहिए। संबंध कभी नहीं टूटेंगे, मधुरता बनी रहेगी।


पराविद्याओं को समर्पित सर्वश्रेष्ठ मासिक ज्योतिष पत्रिका  जुलाई 2006

पारिवारिक कलह : कारण एवं निवारण | आरक्षण पर प्रभावी है शनि |सोने-चांदी में तेजी ला रहे है गुरु और शुक्र |कलह क्यों होती है

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.