सरल गृह वास्तु

सरल गृह वास्तु  

व्यूस : 60 |
गृह रचना के योग्य अविछिन्न भूमि को वास्तु कहते हैं। वास्तु वह स्थान कहलाता हैं। जिसपर कोई इमारत खड़ी हो अथवा घर बनाने लायक जगह को वास्तु कहते हैं। इसे इस प्रकार भी कहा जा सकता हैं। वास्तु वस्तु से सम्बन्धित वह विज्ञान है।

grih rachna ke yogya avichinn bhumi ko vastu kahte hain. vastu vah sthan kahlata hain. jisapar koi imarat khadi ho athva ghar banane layak jagah ko vastu kahte hain. ise is prakar bhi kaha ja sakta hain. vastu vastu se sambandhit vah vigyan hai.

सरल गृह वास्तु

आगामी पत्रिका पढ़ें

अप्रकाशित पत्रिका पढ़ने के लिए, फ्यूचर समाचार के ऑनलाइन सदस्य बने



सरल गृह वास्तु  अकतूबर 2020

गृह रचना के योग्य अविछिन्न भूमि को वास्तु कहते हैं। वास्तु वह स्थान कहलाता हैं। जिसपर कोई इमारत खड़ी हो अथवा घर बनाने लायक जगह को वास्तु कहते हैं। इसे इस प्रकार भी कहा जा सकता हैं। वास्तु वस्तु से सम्बन्धित वह विज्ञान है।

सब्सक्राइब

.