झूठ में जीते हैं लोग

झूठ में जीते हैं लोग

फ्यूचर पाॅइन्ट

जब कोई तुम्हें तुम्हारी आदतों से जगाता है तो और पीड़ा होती है। सुबह तुम बड़ी गहरी नींद में सो रहे हो, बड़े मजे के सपने देख रहे हो- और कोई हिलाने लगता है कि उठो! और यह भी हो सकता है कि रात तुम कहकर सोए होगे कि मुझे उठा देना, कि... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

नवेम्बर 2006

व्यूस: 2145

नवरात्र में क्यों किया जाता है कुमारी पूजन

हिंदू धर्म में नवरात्रियों में कन्या जिमाने का विशेष महत्व है, नौ दिन तक फलाहार रह कर लोग श्रद्धा एवं भक्ति के साथ छोटी कन्याओं को अपने घर आमंत्रित करते हैं, इन्हें साक्षात देवी का रूप मान उनकी पूजा अर्चना कर उन्हें भोग लगाते है... और पढ़ें

देवी और देवपर्व/व्रत

अकतूबर 2006

व्यूस: 2290

प्रभु मिलन की आकांक्षा

प्रभु मिलन की आकांक्षा

फ्यूचर पाॅइन्ट

मीरा कहै प्रभु हरि अविनासी, तन मन ताहि पटै रे।’ मीरा कहती है कि मैं तुम्हें यह कह दूं कि मुझे जबसे यह अविनाशी मिला है, जबसे यह शाश्वत मिला है, तब से मेरा तन-मन, आत्मा सब एक हो गए हैं। वे द्वंद्व भीतर के गए; मैं निद्र्वंद्व ह... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

आगस्त 2006

व्यूस: 2207

शारदीय नवरात्र एवं पंच पर्व दीपावली के शुभ मुहूर्त

स वर्ष शारदीय नवरात्र का आरंभ दिनांक 23 सितंबर 2006, शनिवार से हो रहा है। भारतवर्ष में नवरात्रों का बड़ा महत्व है। शक्ति की उपासना करने वाले शाक्तों के लिए तो यह अवधि बहुत महत्वपूर्ण होती है। जनसामान्य के लिए भी नवरात्र में ... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतमुहूर्त

अकतूबर 2006

व्यूस: 2283

बिना सुरति राम नहीं मिलते

मीरा भी लोगों को गुमराही मालूम होती थी। जिन्होंने भी पाया है परमात्मा को, उनकी राह सभी को गुमराह मालूम होती है। स्वाभाविक यहां करोड़ों लोग धन के पीछे दौड़ रहे हैं। जब कोई एकाध व्यक्ति परम धन के पीछे दौड़ता है तो निश्चित उसकी र... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

जून 2006

व्यूस: 2322

श्री हरिहर क्षेत्र

श्री हरिहर क्षेत्र

राकेश कुमार सिन्हा ‘रवि’

असंख्य देवी देवताओं को समर्पित और सनातन धर्म के दीपक को जलाने वाले सैकड़ों ऋषि-मुनियों से सेवित ब्रह्म स्वरूप भारतवर्ष में देव श्री विष्णु और देवाधिदेव श्री महादेव द्वय प्रकाशवान चक्षु के समान हैं जिनके पूजन-अर्चन व लीलाव... और पढ़ें

देवी और देवमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

अप्रैल 2017

व्यूस: 2415

कर्म का धर्म

कर्म का धर्म

आलोक त्रिपाठी

यदि हम अपने आस-पास देखें तो प्रतिपल प्रत्येक व्यक्ति, पशु-पक्षीे व जीव-जन्तु को कोई न कोई कार्य करते हुए अथवा उसको करने की योजना बनाते हुये देखते हैं। वास्तव में ये सभी प्रक्रियाएं कर्म कहलाती हैं जो शारीरिक, वाचिक व मानसि... और पढ़ें

देवी और देवविविध

आगस्त 2016

व्यूस: 2449

लक्ष्मी को प्रसन्न करने के अद्वितीय सूत्र

मान्यता है कि धनतेरस से लेकर भैयादूज के पांच दिनों में जो लोग लक्ष्मी मां की निष्ठापूर्वक पूजा करते हैं, मां लक्ष्मी की कृपा उन पर जन्मजन्मांतर तक बनी रहती है।... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतसुखविविध

नवेम्बर 2009

व्यूस: 2035

अति सुंदर प्रख्यात वैष्णव देवालय

अति सुंदर प्रख्यात वैष्णव देवालय

राकेश कुमार सिन्हा ‘रवि’

भारत देश मंदिरों की प्रख्यात धरती है जहां उŸार से लेकर दक्षिण तक और पूरब से लेकर पश्चिम तक मंदिरों का समृद्ध साम्राज्य कायम है। इन्हीं में सुदूर केरल राज्य की राजधानी त्रिरुअनन्तपुरम में विराजमान पùनाभ स्वामी मंदिर का अपना व... और पढ़ें

देवी और देवमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

नवेम्बर 2015

व्यूस: 2255

महाशिवरात्रि व्रत का आध्यात्मिक महत्व

महाशिवरात्रि व्रत प्रतिवर्ष भूतभावन सदाशिव महाकालेश्वर भगवान शंकर के प्रसन्नार्थ और स्वलाभार्थ फाल्गुन, कृष्ण पक्ष चतुर्दशी को किया जाता है। इसको प्रतिवर्ष ‘नित्य’ और कामना से करने से यह ‘काम्य’ होता है। फाल्गुन कृष्ण चतुर्दशी क... और पढ़ें

देवी और देवमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

फ़रवरी 2017

व्यूस: 2423

आदतों का पुतला है आदमी

आदतों का पुतला है आदमी

फ्यूचर पाॅइन्ट

मीरा कहती है - मैं चकित हूं कि परमात्मा सोने के प्याले में अमृत भरे लिए बैठा है ! मैं चकित हूं। होना तो यही चाहिए कि कोई भी इसे इनकार न करे। कौन इसे नटे ! लेकिन लोग नट रहे हैं। लोग अपनी-अपनी नालियों की तरफ सरक रहे हैं। वे क... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

जुलाई 2006

व्यूस: 2294

भीड़ का सच

भीड़ का सच

फ्यूचर पाॅइन्ट

एक बात सदा ध्यान में रखना- जो आमतौर से समझा जाता है, वह आमतौर से गलत होता है। भीड़ के पास सत्य नहीं है - कभी नहीं रहा। सत्य सदा व्यक्तियों में घटता है- और उनमें ही घटता है, जो अपूर्व रूप से अपनी पात्रता निर्मित करते हैं। विर... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिविविध

सितम्बर 2006

व्यूस: 2318

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)
horoscope