दीपावली पर लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय

दीपावली का पर्व प्राचीन काल से हमारे देश में मनाया जाता है। लक्ष्मी की उत्पत्ति के संबंध में वेदों, उपनिषदों, पुराणों और संहिताओं में उल्लेख होता है। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार लक्ष्मी की उत्पत्ति समुद्र से हुई है। देवों और दानवों ... और पढ़ें

घटनाएँदेवी और देवउपाय

नवेम्बर 2013

व्यूस: 48085

दीपावली पर लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय

दीपावली का पर्व प्राचीन काल से हमारे देश में मनाया जाता है। लक्ष्मी की उत्पत्ति के संबंध में वेदों, उपनिषदों, पुराणों और संहिताओं में उल्लेख होता है।पौराणिक ग्रंथों के अनुसार लक्ष्मी की उत्पत्ति समुद्र से हुई है।... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतसंपत्ति

अकतूबर 2014

व्यूस: 5756

दीपावली पर लक्ष्मी प्राप्ति के सरल उपाय

दीपावली का पर्व प्राचीन काल से हमारे देश में मनाया जाता है और दीपावली का मतलब लक्ष्मी का दिन, मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिये पूजा पाठ, उपाय, तंत्र मंत्र, धन प्राप्ति के लिये मां लक्ष्मी की स्तुति इत्यादि अनेकों कार्यों को करन... और पढ़ें

देवी और देवउपायपर्व/व्रत

अकतूबर 2015

व्यूस: 4629

दीपावली एवं पंचपर्व

दीपावली एवं पंचपर्व

अंजना अग्रवाल

दीपावली महापर्व को ज्योतिपर्व के रूप में भी जाना जाता है जो कि दषहरा के 20 दिन के बाद अमावस अर्थात, कार्तिक मास की काली अंधेरी रात को अक्टूबर या नवंबर में आता है। हिन्दू धर्मग्रंथों के अनुसार इस दिन की विषेष महत्ता है ... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

अकतूबर 2014

व्यूस: 5111

लक्ष्मी प्राप्त करने के ५१ अचूक उपाय

लक्ष्मी प्राप्त करने के 51 अचूक उपाय आज के अर्थप्रधान युग में व्यक्ति को अथक परिश्रम करने के बाद भी धन का अभाव बना रहता है। हर व्यक्ति की चाहत होती है कि उसके जीवन में सुख-समृद्धि एवं ऐश्वर्य सदा बना रहे और लक्ष्मी की उसके पास कोई... और पढ़ें

देवी और देवउपायपर्व/व्रत

नवेम्बर 2012

व्यूस: 193377

गणेश जी का जन्म और उनकी महिमा

भगवान श्री गणेश का व्यक्तित्व अपने आप में अनूठा है। हाथी के मस्तक वाले ज्ञानी और विध्नहर्ता श्री गणेश काआहन मूषक है। इनकी दो पत्नियां ऋद्धि-सिद्धि है। इनकी पुत्री कलयुग में पूजनीय संतोषी माता है। किसी भी कार्य को करने के पूर्व... और पढ़ें

देवी और देव

जनवरी 2007

व्यूस: 23715

श्रीगणेश एक परिचय

श्रीगणेश एक परिचय

फ्यूचर समाचार

गणेश परमात्मा का विध्ननाशक स्वरूप है। तैतीस करोड देवताओं में श्रीगणेश का महत्व सबसे विलक्षण है। अत: प्रत्येक कार्य के आरंभ में, किसी भी देवता की आराधना के पूर्व किसी भी सत्याकर्मानुष्ठान में,किसी भी उत्कृष्ट से उत्कृष्ट एवं साधारण... और पढ़ें

देवी और देवअन्य पराविद्याएंउपाय

जनवरी 2007

व्यूस: 8924

श्रीगणेश के प्रमुख आठ अवतार

मुद्गल पुराण में कहा गया है की विध्नविनाशन गणेश के अनेक अवतार है। उनका वर्णन सौ वर्षों में भी संभव नहीं है। उनमें कुछ मुख्य है। उन मुख्य अवतारों में भी ब्रह्माधारक आठ मुख्य अवतार है। उन आठ अवतारों की अत्यंत संक्षिप्त कथा इस प्रकार... और पढ़ें

देवी और देवउपाय

जनवरी 2007

व्यूस: 8577

गणेश प्रथम पूजनीय क्यों

किसी भी कार्य का प्रारंभ भगवान गणेश जी की पूजा से किया जाता है। उन्हें विध्नहर्ता के नाम से जाना जाता है। उनका नाम स्मरण करने से अभिप्राय है काय का निर्विध्न संपन्न होना। गणेश जी में ऐसी क्या विशेषताएं है। कि उनकी पूजा समस्त देवों... और पढ़ें

देवी और देवअन्य पराविद्याएंउपाय

जनवरी 2007

व्यूस: 18749

गणपति एवं अन्य देवों की पूजन विधि

श्रीगणेश भगवान भाद्रमास की चतुर्थी तिथि और ग्रह नक्षत्रों के मंगलमय योग में आदि देव शिव के यहाँ विराट रूप में पार्वती जी के सम्मुख अवतरित हुए। तब माता पार्वती बोलीं- प्रभु अपने पुत्र रूप का दर्शन कराएं। तब भगवान श्री गणेश जी अपना ... और पढ़ें

देवी और देवअन्य पराविद्याएंउपाय

जनवरी 2007

व्यूस: 16280

सर्वव्यापी गणपति

सर्वव्यापी गणपति

फ्यूचर समाचार

ईश्वर की प्राप्ति के लिए उसकी भक्ति और उपासना जरुरी है। गणेश जी का प्रथम रूप ओंकार है। ओंकार ही विश्व बीज, वेद बीज, मंत्रबीज परब्रह्मा से प्रकट हुआ प्रथम अंकुर है। श्री गणेश जी देवता सृष्टि के आध्या तत्व है। उन्हीं को प्रथम वंदन... और पढ़ें

देवी और देवअन्य पराविद्याएंउपाय

जनवरी 2007

व्यूस: 6829

श्रीगणेश के प्रमुख स्थल एवं उनका महत्व

पंचदेवों में से एक, पार्वती – शिव के आत्मज, समस्त देवी-देवताओं में सर्वाग्रपूज्य और सनातन हिंदू धर्म –शास्त्रों एवं हिंदुओं के जन-जीवन में अत्यधिक परिव्याप्त भगवान श्री गणेश के सभी तीर्थ-स्थलों, मूर्तियों और क्षेत्रों आदि का पूर्ण... और पढ़ें

देवी और देवस्थानउपाय

जनवरी 2007

व्यूस: 12333

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)