अगला राष्ट्रपति कौन?

अगला राष्ट्रपति कौन?

उमाधर बहुगुणा

भारत का राष्ट्रपति कौन नहीं बनना चाहता है? यह भारत का सर्वोच्च पद है। अब यह पद खाली होने जा रहा है, महामहिम माननीय प्रणब मुखर्जी के कार्यकाल के आखिरी डेढ़ दो महीने ही बचे हैं। 26 जुलाई 2017 तक अगले राष्ट्रपति, देश के प्रथम नागरिक 2... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणग्रहभविष्यवाणी तकनीक

जुलाई 2017

व्यूस: 3405

BCCI के नए ठाकुर: अनुराग

महज 21 साल की उम्र में हिमाचल प्रदेश किक्रेट ऐसोसिएशन का अध्यक्ष बनना, साल 2011 में बी. सी. सी. आई का संयुक्त सचिव बनना, चार साल बाद 2015 में बोर्ड का सचिव पद और साल भर के भीतर ही बी. सी. सी. आई अध्यक्ष की गद्दी पर काबिज होना 16 स... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणदशाग्रहभविष्यवाणी तकनीकगोचर

आगस्त 2016

व्यूस: 4123

एक आॅल राउंडर व्यक्तित्व- नवजोत सिंह सिद्धू

अपने कहकहों एवं जानदार शेरों से पूरे भारत व विदेशी भारतीयों का मनोरंजन करने में चुस्त-दुरूस्त सिद्धू पाजी, शेरी पाजी अथवा नवजोत सिंह सिद्धू को कौन नहीं जानता। ये अपनी वाक्पटुता एवं अनोखी शैली से सभी का मन मोह लेते हैं। सिद्धू जी क... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय विश्लेषणकुंडली व्याख्याग्रहभविष्यवाणी तकनीक

सितम्बर 2016

व्यूस: 4657

पृथकताजनक दृष्टिकारी ग्रह और उनके प्रभाव

जन्म कुंडली या प्रश्न कुंडली के अध्ययन के लिए प्रयोग में लाए जाने वाले महत्वपूर्ण सिद्धांतों में से एक हैं, ग्रहों की पृथकताजनक दृष्टि का सिद्धांत। छायात्मजः पंगुदिवाकरेषु खेटद्धयों दिशति यत्र निज प्रभावम्। नुनं पृथकता विषयाद्धि त... और पढ़ें

ज्योतिषप्रसिद्ध लोगज्योतिषीय योगघरग्रहभविष्यवाणी तकनीक

जुलाई 2008

व्यूस: 5485

ग्रहों एवं दिशाओं से संबंधित व्यवसाय

वास्तु में प्रत्येक दिशा किसी न किसी ग्रह द्वारा शासित होता है। अतः किसी भी व्यवसाय को तत्संबंधी दिशाओं एवं ग्रहों के अनुकूल रहने पर विशेष लाभ मिलता है। प्रश्न: पूर्व दिशा में किस तरह का व्यवसाय करना चाहिए? उत्तर: ग्रहों में सूर्य... और पढ़ें

ज्योतिषग्रहभविष्यवाणी तकनीकगोचर

जुलाई 2014

व्यूस: 6473

जन्मकुंडली से वास्तु दोष निवारण

हम हमेशा कोशिश करते हैं कि हमारा घर या भवन शत-प्रतिशत वास्तुशास्त्र के अनुसार बने और इसके लिए हम भरपूर प्रयत्न भी करते हं, लेकिन देखने में आता है कि इतनी सारी कोशिश करने के बावजूद घर के सभी भाग समान रूप से सुन्दर या वास्तु के अनुर... और पढ़ें

ज्योतिषउपायवास्तुगृह वास्तुव्यवसायिक सुधारग्रहवास्तु दोष निवारणवास्तु पुरुष एवं दिशाएं

अप्रैल 2014

व्यूस: 18031

वास्तु और ज्योतिष

वास्तु और ज्योतिष

पं. जय प्रकाश शर्मा

वास्तु और ज्योतिष एक दूसरे के पूरक होते हैं। जीवन के घटनाक्रम में आने वाले संकटों के निवारण के लिए ज्योतिषीय पहलू के साथ वास्तु दृष्टिकोण से विचार किस प्रकार से करें।... और पढ़ें

ज्योतिषवास्तुग्रह

मई 2010

व्यूस: 10094

देश के प्रमुख शनि धाम

देश के प्रमुख शनि धाम

फ्यूचर पाॅइन्ट

शनि का नाम जपने से अनेक कष्टों का शमन होता है। शनि शांति का अनुष्ठान यदि शनि मंदिरों में जाकर किया जाए तो उसका प्रभाव शीघ्र होता है। शनि के सिद्ध स्थलों की जानकारी प्रायः कम ही लोगों को होती है। इस आलेख में कुछ प्रसिद्ध शनि धामों ... और पढ़ें

देवी और देवस्थानग्रहमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

जून 2016

व्यूस: 4341

कालसर्प एवं द्वादश ज्योतिर्लिंग

कालसर्प योग की जन्मांग में उपस्थिति मात्र से जनसामान्य के मन में आतंक और भय की भावना उदित हो जाती हैं। कालसर्प योग से पीड़ित जन्मांग वाले जातकों का संपूर्ण जीवन अभाव अनवरत अवरोध, निरंतर असफलता, संतानहीनता, वैवाहिक जीवन में अनेक कष... और पढ़ें

ज्योतिषदेवी और देवस्थानउपायज्योतिषीय योगरत्नघरलाल किताबमंत्रग्रहमन्दिर एवं तीर्थ स्थल

मार्च 2013

व्यूस: 17321

तलाक क्यों?

तलाक क्यों?

बालकिशन भारद्वाज

रागुआज लगभग प्रत्येक इंसान अपने पुत्र व पुत्री के विवाह में लाखों, करोड़ों रुपये खर्च कर देते हैं, उसके बावजूद भी विवाह के कुछ माह के उपरांत शादीशुदा जोड़ा कोर्ट में होता है तलाक की अर्जी लिए। आखिर क्या वजह है कि इतनी संपन्नता के वि... और पढ़ें

ज्योतिषघटनाएँज्योतिषीय योगविवाहग्रह

मार्च 2014

व्यूस: 8829

अंक व आकसिमक दुर्घटनायें

अंक व आकसिमक दुर्घटनायें

संजय बुद्धिराजा

जीवन में कभी दुर्घटनाओं का सामना न करना पड़ें ऐसी अभिलाषा सभी जनमानस ज्योतिष से रखते हैं। अंक शास्त्र इस विषय में हमारी सहायता कर सकता है।... और पढ़ें

घटनाएँअंक ज्योतिषग्रहभविष्यवाणी तकनीक

जुलाई 2010

व्यूस: 6350

श्री शनि जयंती 8 जून 2013

श्री शनि जयंती 8 जून 2013

लोकेश डी. जागीदार

इस संसार में कोई भी ऐसा व्यक्ति नहीं है जो शनि के प्रभाव से अछूता हो। शनिदेव का नाम सुनते ही जनता में भय उत्पन्न हो जाता है। शनि ग्रह उतने अशुभ नहीं जितना इन्हें समझा जाता है। व्यक्ति को अध्यात्म और मोक्ष दिलाने वाले केवल शनि ग्रह... और पढ़ें

घटनाएँदेवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतग्रह

जून 2013

व्यूस: 6911

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)