लग्न कुंडली देखे या चलित कुंडली

जब भविष्यवाणी करने की बात आती है तो भाव चलित कुंडली बहुत महत्वपूर्ण होती है। लोग प्रायः भ्रमित रहते हैं की किस कुंडली का प्रयोग किया जाए क्योंकि कभी कभार दोनों कुंडलियों में ग्रह स्थितियाँ अलग-अलग होती है।... और पढ़ें

ज्योतिषटैरोभविष्यवाणी तकनीक

जनवरी 2006

व्यूस: 84783

उपरत्न : गुण एवं पहचान

रत्न न केवल आभूषणों की ही शोभा बढाते है। बल्कि इनमे दैविक शक्ति भी विद्यमान होती है। रत्नों की संख्या काफी बड़ी है। परंतु ८४ रत्नों को ही मान्यता प्राप्त है। ९ मुख्य रत्न क्रमश: माणिक्य, मोती, मूंगा, पन्ना, पुखराज, हीरा, नीलम, गोमे... और पढ़ें

ज्योतिषटैरोरत्न

अकतूबर 2007

व्यूस: 54857

कैसे करे पुखराज रत्न की पहचान

इस अंक में हम आपको पुखराज के बारे में कुछ खास बातों से अवगत कराएंगे। पुखराज जिसे अंग्रेजी में yellow sapphire corundum कहते है देखने में हल्के पीले या गहरे पीले रंग का होता है। यह चमकीला और पारदर्शी होता है। यह सफेद रंग का भी होता... और पढ़ें

ज्योतिषटैरोरत्न

अप्रैल 2006

व्यूस: 49564

अंक शास्त्र के सूत्र व मैत्री

विश्व के प्राचीन साहित्य, पूर्व व वर्तमान की परंपराओं के इतिहास की ओर देखें तो पता चलता है कि अंक शास्त्र की विद्या पूरे विश्व तक फैली ही नहीं बल्कि इसमें आपसी तौर पर परंपरागत समानताएं भी पाई गई है। प्रस्तुत है अंक शास्त्र के सूत्... और पढ़ें

अंक ज्योतिषटैरोभविष्यवाणी तकनीक

जुलाई 2010

व्यूस: 13682

अंकों की उत्पत्ति

अंकों की उत्पत्ति

फ्यूचर पाॅइन्ट

अंक या संख्या का शब्द एवं क्रिया से घनिष्ठ संबंध है। (0) शून्य निराकार ब्रह्म या अनन्त का प्रतीक है। शून्य से सृष्टि की उत्पत्ति हुई है एवं शून्य में ही सब कुछ विलीन हो जाता है। यह शून्य सूक्ष्म से सूक्ष्मतर एवं बृहद से बृहदाकार ह... और पढ़ें

अंक ज्योतिषटैरो

मई 2013

व्यूस: 8636

कैसे करें रत्नों की पहचान

रत्नों का रहस्यमय संसार आदिकाल से ही मानव के आकर्षण का विषय रहा है। विश्व के सभी देशों में रत्न अपने विशिष्ट सुंदर रंगों, आंतरिक प्रभाव, तथा दुर्लभता के कारण प्राचीनकाल से ही अनमोल समझे जाते हैं। इनका वर्णन वेदों एवं पुराणों... और पढ़ें

ज्योतिषटैरोरत्न

जनवरी 2006

व्यूस: 7690

चैरासी रत्न एवं उनका प्रभाव

पृथ्वी में रत्नों का भंडार भरा हुआ है। समुद्र मंथन के समय कई प्रकार के रत्न निकले थे लेकिन सभी को उनकी जानकारी नहीं होती। प्रस्तुत आलेख में नौ रत्नों एवं 75 उपरत्नों की विस्तृत जानकारी दी जा रही है...... और पढ़ें

ज्योतिषउपायटैरोरत्न

फ़रवरी 2015

व्यूस: 7380

वास्तु शास्त्र के मूलभूत शास्त्रीय सिद्धांत

वास्तु के कुछ मूलभूत वैज्ञानिक सिद्धांत हैं। इन सिद्धांतों के आधार पर ही कोई निर्माण कार्य किया जाना चाहिए - चाहे वह किसी भवन का निर्माण हो, किसी प्रासाद का निर्माण हो या फिर किसी पुर का निर्माण हो। इनके प्रतिकूल निर्माण कार्य करन... और पढ़ें

वास्तुटैरो

अकतूबर 2007

व्यूस: 7204

ज्ञान की कुंजी - अंक विज्ञान

यूनानी दार्द्गानिक पाइथागोरस का कथन है कि ''अंकों में ब्रह्मांड का रहस्य छिपा है'\'। इन्होंने ईद्गवर को एक वास्तुविद, अभियंता, आर्किटेक्ट, महान ज्यामितिज्ञ एवं गणितज्ञ कहा है। दैवी इच्छा, ब्रह्मांड में होनेवाली उथल-पुथल अंकों के द... और पढ़ें

अंक ज्योतिषटैरोभविष्यवाणी तकनीक

अकतूबर 2010

व्यूस: 6967

लाल किताब	पाठ-4

लाल किताब पाठ-4

उमेश शर्मा

लाल किताब पर प्रस्तुत पाठ श्रृंखला के चौथे पाठ में नाबालिग ग्रहों वाली कुंडली के बारे में उदाहरण कुंडली के विष्लेषण के माध्यम से जानकारी दी गई है।... और पढ़ें

ज्योतिषटैरोकुंडली व्याख्यालाल किताबभविष्यवाणी तकनीक

अप्रैल 2011

व्यूस: 6520

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)