ज्योतिष-ज्योति आद्य शंकर परिव्राजक स्वामी ज्ञानानन्द सरस्वती

सत् स्वरूप ब्रह्म एक है, किंतु वेदज्ञ पुरुष उसको अनेक प्रकार का बतलाते हैं। ‘अयमात्मा ब्रह्म’ श्रुति बतलाती है कि यह आत्मा ब्रह्म है। ‘अहं ब्रह्मास्मि’ श्रुति बतलाती है कि ब्रह्मज्ञानी पुरुष इस बात का अपरोक्ष करता है कि मैं ब्र... और पढ़ें

ज्योतिषमंत्र

अप्रैल 2006

व्यूस: 2564

ज्योतिष-ज्योति आद्य शंकर परिव्राजक स्वामी ज्ञानानन्द सरस्वती

ैदिक सनातन धर्म के उद्धारक, शंकरावतार श्री आद्य शंकराचार्य जी ने आज से 2496 वर्ष पूर्व ही अवैदिक दुर्मतों का खंडन करते हुए ज्योतिष शास्त्र की प्रामाणिकता का जो डिम-डिम घोष किया था उसका पूरा ज्योतिष समाज ऋणी है। इस स्तंभ में हम ... और पढ़ें

ज्योतिषअध्यात्म, धर्म आदिमंत्रविविध

जनवरी 2006

व्यूस: 3022

ज्ञान विद्या प्रदायक सरस्वती लाॅकेट

ज्योतिषीय दृष्टिकोण से सरस्वती यंत्र का लाॅकेट बहुत महत्वपूर्ण, प्रभावशाली एवं कल्याणकारी है। कलयुग के श्री सरस्वती ही हैं। जहां गति अवरोध होता है वही अंधकार और संकोच आ जाते हैं।... और पढ़ें

उपायशिक्षारत्नसुखमंत्रविविधरूद्राक्षयंत्र

फ़रवरी 2010

व्यूस: 3095

सर्वकार्य सिद्धि हेतु शुद्ध कड़ा

फ्यूचर समाचार पत्रिका के सभी पाठकों को अप्रैल 2010 अंक के साथ सर्वकार्य सिद्धि हेतु ऊर्जादायक कड़ा दिया जा रहा है जिसके स्पर्श मात्र से शरीर में स्फूर्ति एवं ऊर्जा का प्रवाह होने लगता है।... और पढ़ें

उपायमंत्रविविध

अप्रैल 2010

व्यूस: 2854

हृदय रोग से बचाव के उपाय

हृदय रोग से बचाव के उपाय

संजय बुद्धिराजा

मानव चाहे कितना भी प्रयास कर ले, चाहे अच्छे से अच्छे वातावरण में रह ले, चाहे अच्छे से अच्छा भोजन कर ले, अच्छे से अच्छा वस्त्र पहन ले, फिर भी जीवन में कभी न कभी, किसी न किसी रोग से ग्रसित हो ही जाता है। अब चाहे रोग अल्पकालिक ... और पढ़ें

ज्योतिषस्वास्थ्यमंत्र

जुलाई 2017

व्यूस: 2063

मलमास एवं क्षयमास

मलमास एवं क्षयमास

फ्यूचर पाॅइन्ट

प्रश्न: मलमास एवं क्षयमास क्या होते हैं? ऐसे मास कब-कब आते हैं और इनमें क्या करना और क्या नहीं करना चाहिए?... और पढ़ें

ज्योतिषउपायज्योतिषीय विश्लेषणमंत्रभविष्यवाणी तकनीक

फ़रवरी 2015

व्यूस: 4330

रत्न विज्ञान

रत्न विज्ञान

अर्जुन कुमार गर्ग

इस लेख में रत्नों की पहचान, रत्न धारण के लाभ, विधि तथा उन ज्योतिषीय नियमों की समीक्षा की गई है जिनके आधार पर रत्न धारण किया जाना चाहिए।... और पढ़ें

ज्योतिषउपायरत्नमंत्र

जुलाई 2008

व्यूस: 4656

दीपावली की शुभकामनाएं

दीपावली पूजन स्थिर लग्न में ही करना चाहिए, ताकि लक्ष्मी जी घर में स्थिरता से वास करें। दीपावली के दिन स्थिर लग्न संध्या काल में वृष एवं सिंह लग्न होते हैं। दिल्ली में वृष लग्न 17रू44 . 19रू39 तक रहेगा एवं सिंह लग्न मध्य रात्रि उपर... और पढ़ें

ज्योतिषदेवी और देवउपायपर्व/व्रतमंत्रभविष्यवाणी तकनीक

नवेम्बर 2015

व्यूस: 2313

ज्योतिष में विभिन्न उपायों का फल

सर्व ग्रहों की शांति हेतु सर्वग्रह निवारण तंत्र की स्थापना यदि घर या कार्यस्थल में कर ली जाए तो व्यक्ति को ग्रह जनित पीड़ा से मुक्ति व मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। सर्वग्रह तंत्र साधना का विधि विधान इस लेख द्वारा प्रस्तुत है।... और पढ़ें

ज्योतिषउपायरत्नमंत्रभविष्यवाणी तकनीकयंत्र

सितम्बर 2010

व्यूस: 8685

प्राण रक्षा हेतु उपाय

प्राण रक्षा हेतु उपाय

फ्यूचर पाॅइन्ट

क्या किसी व्यक्ति की प्राण रक्षा की जा सकती है ? या सिर्फ उसके बुरे वक्त को टाला जा सकता है। व्यक्ति की प्राण रक्षा हेतु क्या-क्या पूजा, अनुष्ठान, मंत्र पाठ, हवन, दान व उपाय किए जाने चाहिए । इन सभी का विस्तार एवं विधि विधान पूर्ण ... और पढ़ें

स्वास्थ्यउपायमंत्रयंत्र

मार्च 2010

व्यूस: 56167

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)
horoscope