शनि का गोचर

शनि का गोचर

डॉ. अरुण बंसल

26 जनवरी 2017 को सायं 7ः30 बजे शनि वृश्चिक राशि से धनु राशि में प्रवेश करेंगे। लेकिन ये वक्री होकर पुनः 21 जून को वृश्चिक राशि में आ जाएंगे। तदुपरांत 26 अक्तूबर 2017 को अंतिम रूप से धनु राशि में आ जाएंगे। शनि का धनु राशि का फल त... और पढ़ें

ज्योतिषउपायग्रहभविष्यवाणी तकनीकगोचर

फ़रवरी 2017

व्यूस: 3208

शनि देव को अनुकूल करने के 17 कारगर उपाय

शनि एकमात्र ऐसे ग्रह हैं जिनकी जयंती ज्येष्ठ अमावस्या के दिन मनायी जाती है। इस वर्ष शनि जयंती 4 जून 2016 को मनायी जायेगी। इस दिन शनिवार होने से यह जयंती विशेष एवं महत्वपूर्ण हो जाती है। हर मनुष्य के जीवन में शनि देव अपना ... और पढ़ें

ज्योतिषउपायग्रहभविष्यवाणी तकनीक

जून 2016

व्यूस: 3452

नव रत्न: तत्व, गुण, परीक्षा, धारण आदि !

नव ग्रह अपनी रश्मियों द्वारा अपने-अपने रत्नों को ऊर्जा प्रवाहित करते रहते हैं जिससे मनुष्य का जीवन सुखी और आनंदमय हो जाता है। महर्षि वराहमिहिर की बृहत् संहिता के ‘रत्नाध्याय’ में रत्नों का विस्तार से महत्व प्रकट किया गया है... और पढ़ें

ज्योतिषउपायरत्नग्रहभविष्यवाणी तकनीक

जुलाई 2016

व्यूस: 3905

शनि उपाय

शनि उपाय

ओम प्रकाश दार्शनिक

शनि शुभ होने पर निम्न उपाय करें: - नीलम रत्न चांदी की अंगूठी बनवाकर मध्यमा अंगुली में शनिवार के दिन प्रातःकाल धारण करें। - नीले रंग की वस्तुओं का उपयोग करें, जैसे-नीले वस्त्र, चादर, पर्दे आदि। - शनि से संबंधित वस्तुएं जैसे... और पढ़ें

ज्योतिषदेवी और देवउपायग्रह

फ़रवरी 2017

व्यूस: 2604

ग्रह स्थिति एवं व्यापार

मासारंभ में सूर्य मिथुन में, चंद्र कन्या में, मंगल व बुध मिथुन में, गुरु कन्या में, शुक्र वृष में, शनि वृश्चिक में, राहु सिंह में, केतु कुंभ में, यूरेनस मीन में, नेप्च्यून कुंभ में और प्लूटो धनु राशि में स्थित होंगे।... और पढ़ें

ज्योतिषज्योतिषीय विश्लेषणमेदनीय ज्योतिषग्रहभविष्यवाणी तकनीकगोचर

जुलाई 2017

व्यूस: 2172

शनि अष्टकवर्ग से सटीक फलकथन

भारतीय ज्योतिष में फलकथन हेतु अष्टकवर्ग विद्या की अचूकता व सटीकता का प्रतिशत सबसे अधिक है। अष्टकवर्ग विद्या में लग्न और सात ग्रहों (सूर्य, चंद्रमा, मंगल, बुध, गुरु, शुक्र और शनि) को गणना में सम्मिलित किया जाता है।... और पढ़ें

ज्योतिषअष्टकवर्गकुंडली व्याख्याघरग्रहभविष्यवाणी तकनीक

जुलाई 2012

व्यूस: 4324

साढ़ेसाती की वास्तविकता

साढ़ेसाती की वास्तविकता

कनक कुमार वार्षणेय

आपकी साढ़ेसाती शुरू हो गई है, इसलिए ये असंभावित घटनाऐं घट रही है। जन्मकुंडली देखने वाले पंडितों के उपरोक्त वाक्य हर व्यक्ति को अपने 70-80 वर्ष के जीवन काल में 2-3 बार सुनने को मिलते हैं। एक साढ़ेसाती समाप्त होने के लगभग साढ़े 22 वर्ष... और पढ़ें

ज्योतिषकुंडली व्याख्याघरग्रहभविष्यवाणी तकनीकगोचर

अप्रैल 2012

व्यूस: 4282

साढ़े-साती की शुभाशुभ स्थिति और शास्त्रीय उपाय

साढ़े-साती, शनि की उस गोचर अवस्था को कहते हैं जिसमें गोचरवश शनि जन्मकालीन चन्द्रमा से द्वादश भाव (आरोहम चरण) में प्रवेश करते हैं, जन्मकालीन चन्द्रमा (जन्म चरण) पर गोचर करते हैं और अंत में जन्मकालीन चन्द्रमा से द्वितीय (अव... और पढ़ें

ज्योतिषउपायग्रहभविष्यवाणी तकनीक

जून 2016

व्यूस: 2804

पापी ग्रहों से उत्पन्न कलह का निवारण्

कई बार न चाहते हुए भी घर में कलह का वातावरण पैदा हो जाता है। ऐसा अशुभ एवं पापी ग्रहों के प्रभाव के कारण भी होता है। यदि समय से पहले उनका निदान कर लिया जाए तो कलह की संभावनाएं कम हो जाती हैं। कैसे? आइए जानें...... और पढ़ें

ज्योतिषउपायज्योतिषीय विश्लेषणग्रह

जुलाई 2006

व्यूस: 2865

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)
horoscope