अंकषास्त्र में 11, 22, 33 एवं 44 को मास्टर अंक की संज्ञा दी गई है। मास्टर अंक किसी अंक का साधारणतया अतिषय ;मगजतमउमद्ध रूप है जोकि वास्तव में एकल अंक को प्रदर्षित करते हैं। अंक 11 त्र 2ए 22 त्र 4ए 33 त्र 6ए 44 त्र 8 अंक 11 ;2द्ध ज्ीम प्देचपतमत सधारणतया अंक 11 अंक 2 की ऊर्जा का अतिषय रूप प्रदर्षित करते हैं अर्थात यह आध्यात्मिकता की उच्चता ;मगजतमउमद्ध को प्रदर्षित करते हैं। इसका सम्बंध सहज ज्ञान से होता है। यह उस रोषनी को प्रदर्षित करता है जो हमको अंतर्मन की ओर ले जाती है। इस अंक वाले व्यक्ति असाधारण अंतज्र्ञानी होते हैं लेकिन अव्यावहारिक होते हैं। ये एक तरह से स्वप्नद्रष्टा होते हैं। यह स्वप्न बहुत विष्वसनीय होते हैं जिसका संबंध सहजज्ञान, अतिन्द्रीयदृष्टि, भविष्यवक्ता से है। यह अतिभौतिक अंक है। इनकी कल्पनाषक्ति बहुत विकसित होती है। इस अंक वाले व्यक्ति बहुत मजबूत, बुद्धिमान, साहसी, कुलीन, दयालु होते हैं साथ ही भावुक तथा कल्पनाषील भी। इनकी शक्तियों को साधारण आँखों से नहीं देखा जा सकता है। यह आसानी से उन कामों को पूर्ण कर लेते हैं जो कि दूसरों के लिए बहुत कठिन होते हैं। इनमें एक सफल नेता के गुण होते हैं जिसका उपयोग वे जनसाधारण की भलाई में लगाते हैं। इनके अंदर ज्ञान को ट्रांसफर करने की विषेष क्षमता होती है। इसी कारण ये सफल अध्यापक, षिक्षक होते हैं। ये वह देख सकते हैं जो कि दूसरे सोच भी नहीं सकते इसलिए ये हमेषा समय से आगे चलते हैं। इनको अग्रदूत भी कहा जाता है । अंक 22 ;4द्ध ज्ीम डंेजमत ठनपसकमतध्च्तंबजपबंस ळमदपनेध्डंद व िैनबबमेे यह अंक सभी अंकों में बहुत शक्तिषाली माना जाता है। इसे मास्टर बिल्डर के नाम से भी जाना जाता है। इन व्यक्तियों में उच्चकोटि की मानसिक योग्यता तथा शारीरिक क्षमताएँ होती हैं। ये बहुत ईमानदार, परिश्रमी, बुद्धिमान व चतुर होते हैं तथा किसी भी लक्ष्य को प्राप्त करने की योग्यता इनमें होती है। ये महत्वाकांक्षी सपनों को हकीकत में बदलने की ताकत रखते हैं। यह सभी अंकों में बहुत सफल माना जता है। इस अंक वालों के पास बडे़ विचार, महान प्रस्ताव, आदर्षवाद, निर्देषन तथा बड़ी मात्रा में आत्मविष्वास होता है। इनका विष्व के प्रति व्यावहारिक दृष्टिकोण होता है। इस अंक को विष्व निर्माता के रूप में जाना जाता है जो कि अंक 4 का अतिषय रूप है तथा अंक 8 की भी थोड़ी ऊर्जा उसमें शामिल है । अंक 33 ;6द्ध ज्ीम डंेजमत ज्मंबीमतध् डंेजमत भ्मंसमतध्ैचपतपजनंस ळनपकम यह बहुत ही दुर्लभ अंक है। यह अंक 33 अंक 6 और अंक 9 की छाया है क्योंकि 33 अंक का सम्बंध मानवता तथा सभी से समान आत्मीयता की भावना से है जो कि अतिषय की ओर जाता है। 33 अंक को परोपकार शब्द से जोड़ा जाता है जिसका सम्बंध प्राणि मात्र की सेवा से है। ये विष्वसेवा में विष्वास रखते हैं तथा षिक्षक तथा निर्देषक होते हैं। इस तरह के व्यक्ति बहुत शांत, धैर्यवान, दयालु, संतुलित होते हैं तथा विष्व सामंजस्य व विष्वप्रेम इनका उद्देष्य होता है। इनके पास जनमानस के लिए बहुत प्यार व करूणा होती है। इनको लोगों का विषेष आदर व प्रषंसा मिलती है। इसका सम्बंध संसार में सामंजस्य व शक्तियों के संतुलन से माना जाता है। अंक 44 ;8द्ध ज्ीम ब्ीपम िम्गमबनजपअम यह अंक 8 का अतिषय रूप है। इनमें उच्च कोटि की मानसिक क्षमताएं होती हैं। इस अंक वाले व्यक्ति बहुत सांसारिक होते हैं तथा कठिन परिश्रम में विष्वास रखते हैं जो कि उच्चतम चोटी पर पहुंचने तक आराम नहीं करते हैं। इनके अंदर किसी भी क्षेत्र में पर्याप्त सफलता पाने की योग्यता होती है। कभी-कभी इनको ऐसा महसूस होता है कि इनके लक्ष्य, ज्ञान, विष्वास किसी बाह्य शक्ति के द्वारा नियंत्रित होते हैं। इनका प्रमुख झुकाव सांसारिक लक्ष्यों की प्राप्ति है और ये अपनी मानसिक शक्तियों, योजनाओं तथा तर्क को उसी की प्राप्ति में लगाते हैं।


अंक ज्योतिष विशेषांक  जून 2015

फ्यूचर पाॅइंट के इस लोकप्रिय अंक विशेषांक में अंक ज्योतिष से सम्बन्धित लेख जैसे अंक ज्योतिष का उद्भव- विकास, महत्व और सार्थकता, गरिमा अंकशास्त्र की, अंक ज्योतिष एक परिचय, अंकों की विशेषताएं, अंक मेलापक: प्रेम सम्बन्ध व दाम्पत्य सुख, नाम बदलकर भाग्य बदलिए, कैसे हो आपका नाम, मोबाइल नम्बर, गाड़ी आपके लिये शुभ, मास्टर अंक, लक्ष्मी अंक भाग्य और धन का अंक, अंक फलित के तीन चक्र प्रेम, बुद्धि एवं धन, अंक शास्त्र की नजर में तलाक, कैसे जानें अपने वाहन का शुभ अंक इत्यादि शामिल किये गये हैं। इसके अतिरिक्त अन्य अनेक लेख जैसे अंक ज्योतिष द्वारा नामकरण कैसे करें, चमत्कारिक यंत्र, कर्मफल हेतुर्भ, फलित विचार, सत्य कथा, भागवत कथा, विचार गोष्ठी, पावन स्थल, वास्तु का महत्व, कुछ उपयोगी टोटके, ग्रह स्थिति एवं व्यापार आदि के साथ साथ व्रत, पर्व और त्यौहार आदि के बारे में समुचित जानकारी दी गई है।

सब्सक्राइब

अपने विचार व्यक्त करें

blog comments powered by Disqus
.