अपराध उन कुकृत्यों को कहा जाता है, जो समाज द्वारा निर्धारित किये गये मर्यादा, नियमों, कानूनों और रीति-रिवाजों का उल्लंघन करते हुए किये जाते हों; चाहे उनके पीछे कोई भी कारण रहे हों। व्यक्तिगत स्वार्थ, दूसरों को पीड़ा पहुंचाना, समा... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

किसी पहलू को उजागर करने में केवल एक पहलू विशेष पर ध्यान देने से ही परिणाम संतोषजनक नहीं मिलेंगे। इसके लिए संयम से सामुद्रिक शास्त्र का स्वाध्याय तथा मनन कर, अनेक पहलू टटोलने होंगे। तबही इस शास्त्र की असीम गहराइयों तक पहुंच कर स... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

- अगर अंगूठा पीछे की ओर ज्यादा मुड़ता है, तो वह व्यक्ति अपनी शक्ति को व्यर्थ गंवाता है। ऐसे लोगों को अपने किसी भी कार्य में स्थिरता को महत्व देना चाहिए; वर्ना समय अनुसार वे सब बंदरगाह के व्यापारी बन जाते हैं।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

आजकल बहुत से पति-पत्नी यह प्रश्न अक्सर करते हैं कि उनमें से पहले कौन स्वर्ग सिधारेगा। इस संबंध में जीवन रेखा का सूक्ष्म परीक्षण करें तथा साथ में विवाह रेखा, जो अनामिका (छोटी उंगली) के नीचे आड़ी रेखा के रूप में पायी जाती है, का भी... और पढ़ें

स्वास्थ्यहस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

मणिबंध हाथ का प्रारंभिक हिस्सा है। इसे केतु ग्रह का स्थान भी कहते हैं। वस्तुतः हाथ में मणिबंध ही मूल स्थान है, जो 3 अथवा 3 से अधिक रेखाओं से सुशोभित हो। ‘कलाई’ के नाम से भी यह प्रसिद्ध है।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

विधाता ने हथेली पर जो रेखाएं बनायी हैं, वे मनुष्य को गहन रूप से प्रभावित करती हंै। विभिन्न रेखाएं अपनी-अपनी तरह से जीवन में घटने वाली घटनाओं को मोड़ देती हैं। प्रस्तुत है इन रेखाओं द्वारा होने वाले असर का विश्लेषण ...... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

हस्त परीक्षण के समय तक मनुष्य के जीवन में कितनी घटनाएं घटित हो चुकी हैं और कितनी आने वाले समय में घटित होंगी, इसका सटीक कथन करने के लिए उसकी वर्तमान आयु की गणना कार्य में प्रवीण् ाता प्राप्त कर लेना उचित होगा। इस कार्य में ... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

जीवन में एक ऐसा पड़ाव भी आता है कि हमंे अपने करियर का या व्यवसाय का चुनाव करना पडता है। करियर का चुनाव करते समय अपनी रूचि को अधिक प्राथमिकता दी जाती है। हस्त रेखाओं व ग्रहांे की सहायता लेना व्यक्ति को कार्यक्षेत्र में सफल बनाने म... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीकव्यवसाय

मनुष्य की प्रगति के साथ-साथ उसके खान-पान और दिनचर्या में अनियमितताओं के कारण होने वाली विकृतियां उसे रोगग्रस्त बनाती हैं। प्रकृति इन संभावनाओं को प्रत्येक मनुष्य की हथेली में समय से पहले चेतावनी स्वरूप अंकित कर देती है। इसक... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

जुड़वां संतानों एवं एक ही समय खंड में उत्पन्न बच्चों की एक समान जन्मकुंडलियां ही बनंेगी, वे बच्चे विश्व के किसी देश में उत्पन्न हुये हों, परंतु क्या सभी बच्चों का जीवन एवं भाग्य, एक समान ही होगा, उत्तर मिलेगा कदापि नहीं। परंत... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

लोकप्रिय विषय

बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)