अध्यात्म, धर्म आदि


स्वस्तिक

स्वस्तिक

अनीता शर्मा

हिंदू धर्म जितना विशाल है, उसकी मान्यताएं और प्रक्रियाएं भी उतनी ही गहन और विस्तृत हैं। हिंदू धर्म विश्व का एकमात्र ऐसा धर्म है जो कि अपने प्रत्येक कर्म, संस्कार और परंपरा में पूर्ण वैज्ञानिकता समेटे हुए है।... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदि

मई 2013

व्यूस: 3623

क्यों?

क्यों?

फ्यूचर पाॅइन्ट

अनादि काल से ही हिंदू धर्म में अनेक प्रकार की मान्यताओं का समावेश रहा है। विचारों की प्रखरता एवं विद्वानों के निरंतर चिंतन से मान्यताओं व आस्थाओं में भी परिवर्तन हुआ। क्या इन मान्यताओं व आस्थाओं का कुछ वैज्ञानिक आधार भी है? ... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिविविध

सितम्बर 2014

व्यूस: 3759

चूड़ाकरण संस्कार

चूड़ाकरण संस्कार

विजय प्रकाश शास्त्री

शास्त्रों में वर्णित समस्त संस्कार व्यक्ति के आरोग्य, बल, ज्ञान, सुख-समृद्धि को बढ़ाने वाले हैं। इसलिये किसी भी संस्कार का महत्व कम नहीं है। इस दृष्टि से चूड़ाकरण संस्कार का भी विशेष महत्त्व है। चूड़ाकरण संस्कार को वपन क्रिया ... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिविविध

नवेम्बर 2014

व्यूस: 3763

क्यों?

क्यों?

यशकरन शर्मा

अनादि काल से ही हिंदू धर्म में अनेक प्रकार की मान्यताओं का समावेश रहा है। विचारों की प्रखरता एवं विद्वानों के निरंतर चिंतन से मान्यताओं व आस्थाओं में भी परिवर्तन हुआ। क्या इन मान्यताओं व आस्थाओं का कुछ वैज्ञानिक आधार भी है? यह ... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिभविष्यवाणी तकनीक

फ़रवरी 2015

व्यूस: 3778

तप - व्रत

तप - व्रत

ब्रजकिशोर शर्मा ‘ब्रजवासी’

तप - व्रत भारतीय संस्कृति ही क्या वरन् वर्तमान में व्याप्त सभी संस्कृतियों का एक उच्चकोटि का आदर्श व्रत है। सेवाव्रत, दानव्रत, दयाव्रत, मौनव्रत, क्षमाव्रत, राष्ट्रव्रत, एकादश शक्ति, वनयात्राव्रत आदि अनेकानेक आचरणों की व्रत संज्ञा ... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

नवेम्बर 2011

व्यूस: 3600

अद्भुत चमत्कारी है - श्रीयंत्र

हमारे शास्त्रों में अनेक प्रकार के यंत्रों का उल्लेख है जैसे मंगल यंत्र, विजय यंत्र, चैंतीस यंत्र आदि। परंतु संपूर्ण यंत्र विज्ञान एवं शास्त्र में केवल ‘श्री’ यंत्र को ही सर्वोपरि एवं महत्वपूर्ण स्थान प्राप्त है।... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंअध्यात्म, धर्म आदिसुखविविध

नवेम्बर 2010

व्यूस: 3726

श्री लक्ष्मी नारायण व्रत

श्री लक्ष्मी नारायण व्रत

ब्रजकिशोर शर्मा ‘ब्रजवासी’

लक्ष्मी नारायण व्रत मार्गशीर्ष मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि से प्रारंभ होने वाला है जो वर्ष की प्रत्येक पूर्णिमा को मनाया जाएगा और कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को समाप्त होगा। यह सब पापों को दूर करने वाला, पुण... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

दिसम्बर 2006

व्यूस: 3300

दीपावली स्वयं में है एक उपाय

त्यौहारों का मानव जीवन पर विशेष प्रभाव है। हर त्यौहार जीवन की आंतरिक और बाह्य परिस्थितियों की शुद्धि करता है और इसी के साथ-साथ सामाजिक क्षेत्र में भी सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करता है।... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रत

अकतूबर 2014

व्यूस: 3177

वेदारम्भ संस्कार

वेदारम्भ संस्कार

विजय प्रकाश शास्त्री

वेदारंभ संस्कार को अक्षरज्ञान संस्कार के साथ जोड़कर देखते हैं। उनके अनुसार अक्षरों का ज्ञान प्राप्त किये बिना न तो वेदों का अध्ययन किया जा सकता है और न शास्त्रों का लेखन कार्य संभव है। इसलिये वेदारंभ संस्कार से पूर्व अक्षरारं... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिविविध

फ़रवरी 2015

व्यूस: 4288

केशान्त संस्कार

केशान्त संस्कार

विजय प्रकाश शास्त्री

केशान्त संस्कार वेदारंभ के पश्चात् और समावर्तन संस्कार से पहले किया जाता है। जो विद्यार्थी विद्याध्ययन के लिये गुरुकुल अथवा गुरु के आश्रम में जाता है, वह पूरी तरह से ब्रह्मचर्य व्रत का पालन करता है। विद्याध्ययन की पूर्ण अवधि... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिविविध

मार्च 2015

व्यूस: 4583

निष्क्रमण संस्कार

निष्क्रमण संस्कार

विजय प्रकाश शास्त्री

बालक को पहले-पहल घर से बाहर भ्रमण कराने के निमित्त ले जाते समय यह संस्कार किया जाता है। साधारणतया इसका समय चैथा महीना है। इस संस्कार में सूर्य और किसी-किसी के मत में चंद्रमा की ज्योति दिखाने का विधान है। प्रतीत यह होत... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिविविध

सितम्बर 2014

व्यूस: 4484

आयुष्य चिंतन

आयुष्य चिंतन

रामप्रवेश मिश्र

शांति-अशांति और जीवन-मृत्यु एक सिक्के के दो पहलू हैं। जब आयु सीमा समाप्त होती है तब मृत्यु का दरवाजा खुल जाता है। मृत्यु चिंता का विषय नहीं है, क्योंकि ‘जातस्य ध्रुवं मृत्यु’ं गीता का प्रवचन है। इस भूतल पर मृत्यु ही एक सत्य है। फि... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदि

जनवरी 2005

व्यूस: 4506

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)
horoscope