अन्य पराविद्याएं


वैदिक विवाह संस्कार पद्धति

षोडश संस्कारों में विवाह सबसे महत्वपूर्ण संस्कार है। हिंदू शास्त्रों में इसको करने की विस्तृत प(ति दी गई है।... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंविविध

मार्च 2014

व्यूस: 4298

दीपावली महापर्व ज्योतिष के आइने में

पूर्ण आभामय स्वरूप में सोलह श्रृंगार किये जब पृथ्वी पर महालक्ष्मी का पदार्पण होता है तब यह रात्रि साक्षात महारात्रि बन जाती है जो दीपावली की रात्रि कहलाती है।... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंअध्यात्म, धर्म आदिज्योतिषीय विश्लेषणवशीकरणपर्व/व्रत

नवेम्बर 2010

व्यूस: 1916

महानायक की दुर्घटना

प्रत्येक मनुष्य का जन्म या तो दिन अथवा रात्रि, कृष्ण पक्ष अथवा शुक्ल पक्ष एवं सप्ताह के किसी एक वार को होता है। पंच पक्षी पांच तात्त्विक स्पंदन के आधार पर पांच तरीके से शुक्ल पक्ष एवं कृष्ण पक्ष में चंद्र के बढ़ते एवं घटते कलाओं ... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंपंच पक्षीभविष्यवाणी तकनीक

नवेम्बर 2015

व्यूस: 2196

कस्पल पद्धति

कस्पल पद्धति

फ्यूचर पाॅइन्ट

कस्पल ज्योतिष का आविष्कार श्री एस. पी. खुल्लर द्वारा उनके कई वर्षों के शोध और अथक प्रयासों के बाद सफल हो पाया है। खुल्लर जी ने यह प्रयास किया कि किस प्रकार वैज्ञानिक तरीके से पवित्र ज्योतिष के विषय को पाठकों के सम्मुख प्रस्... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंभविष्यवाणी तकनीक

अकतूबर 2015

व्यूस: 5598

नजर दोष और उपाय

नजर दोष और उपाय

डॉ. अरुण बंसल

कहते हैं नजरदोष होने पर आंख की निचली पलक भारी हो जाती है मानों वह सूज गई हो। कुंडली में नीचस्थ चंद्र या राहु व शनि से ग्रस्त चंद्रमा होने पर व्यक्ति पर नजरदोष का प्रभाव अधिक पड़ता है। प्रस्तुत है मुक्ति के कुछ उपाय... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंउपायविविध

मार्च 2010

व्यूस: 34078

शयन एवं स्वप्नः एक वैज्ञानिक मीमांसा

स्वप्न क्या हैं? ये क्यों आते हैं? इनका हमारे भविष्य से क्या संबंध है? इसको समझने के लिए सबसे पहले समझते हैं नींद को। नींद क्या है? यह क्यों आती है? नींद की क्या-क्या अवस्थाएं हैं और नींद की किस अवस्था में स्वप्न आते हैं? वैज्ञान... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंविविध

आगस्त 2003

व्यूस: 9657

सपनों का सच

सपनों का सच

मितु सहगल

ह र इंसान स्वप्न देखता है। कुछ हमें याद रहते हैं अ©र कुछ भूल जाते हैं। यदि आप अपने विचारों क¨ व्यक्त कर सकते हैं, किसी कार्य क¨ कुषलता से कर सकते हैं त¨ आप स्वप्न देखते हैं।... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंसपने

जून 2010

व्यूस: 4042

षट्कर्म साधन

षट्कर्म साधन

डॉ. अरुण बंसल

शरीर एवं मन के रोगों की शांति से लेकर किसी को अपनी ओर आकर्षित करने या स्तंभन करने के लिए भारतीय वेद शास्त्रों में अनेक प्रकार के अनुष्ठानों का वर्णन है। प्रसतुत लेख में षट्कर्म साधना क्रिया की विधि व विभिन्न कार्यों के लिए कौन सा ... और पढ़ें

ज्योतिषअन्य पराविद्याएंउपायबाल-बच्चेशिक्षाशत्रुमंत्रविवाहसफलतासंपत्ति

आगस्त 2010

व्यूस: 21044

व्यावहारिक अंग लक्षण विज्ञान

व्यक्ति का चेहरा उसके व्यक्तित्व का दर्पण होता है। व्यक्ति का प्रत्येक अंग उसके मस्तिष्क से बंधा होता है। उसका हृदय, लीवर, फेफड़े, किडनी, हड्डियां, नसें, नाड़ियां व मांसपेशियां सभी उसके सोचने व कार्य करने में सहायक होते हैं। पूर्ण श... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंविविध

आगस्त 2014

व्यूस: 9304

संतान, स्वास्थ्य, आजीविका एवं वैवाहिक सुख के लिए टोटक

संतान प्राप्ति के उत्तम उपाय: - परिजात का एक कोमल पत्ता व श्वेत पुष्पी कटकारी का मूल लेकर बकरी के दूध में पीसकर माहवारी के बाद स्त्री को लगातार सात दिन तक खिलायें।... और पढ़ें

स्वास्थ्यअन्य पराविद्याएंउपायबाल-बच्चेभविष्यवाणी तकनीकटोटकेसंपत्ति

फ़रवरी 2015

व्यूस: 14367

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)
horoscope