हस्तरेखा शास्र


मणिबंध रेखाओं का विचार

अप्रैल 2017

व्यूस: 3138

मणिबंध रेखाओं का विचार

एस.के. त्रिपाठी

मणिबंध हाथ का प्रारंभिक हिस्सा है। इसे केतु ग्रह का स्थान भी कहते हैं। वस्तुतः हाथ में मणिबंध ही मूल स्थान है, जो 3 अथवा 3 से अधिक रेखाओं से सुशोभित हो। ‘कलाई’ के नाम से भी यह प्रसिद्ध है।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

उपायों से बदली जा सकती हैं हस्तरेखाएं

आगस्त 2006

व्यूस: 2989

हस्तरेखाओं से यह ज्ञात किया जा सकता है कि व्यक्ति को किस दिशा में प्रयास करना चााहिए कि उसकी आय के स्रोत सदैव खुले रहें, वह प्रगतिशील रहे और उसके कार्यों में कोई बाधा न आए।... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रउपायग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

हस्तरेखा से कैसे जानें कि जातक नौकरी करेगा या व्यवसाय?

अप्रैल 2017

व्यूस: 2914

जीवन में एक ऐसा पड़ाव भी आता है कि हमंे अपने करियर का या व्यवसाय का चुनाव करना पडता है। करियर का चुनाव करते समय अपनी रूचि को अधिक प्राथमिकता दी जाती है। हस्त रेखाओं व ग्रहांे की सहायता लेना व्यक्ति को कार्यक्षेत्र में सफल बनाने म... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीकव्यवसाय

शनि ग्रह से ही नहीं है भाग्य रेखा का संबंध

आगस्त 2006

व्यूस: 2810

भाग्य रेखा जातक के जीवन की महत्वपूर्ण घटनाओं जैसे जीवनचर्या, धन-दौलत, संतान, स्वास्थ्य सभी के बारे में बतलाती है। हथेली में शनि पर्वत पर जाने वाली रेखा को भाग्य रेखा कहा जाता है। इसे हस्तरेखा शास्त्र की भाषा में शनि रेखा भी... और पढ़ें

ज्योतिषहस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीकहस्तरेखा सिद्धान्त

स्वस्थ तथा अस्वस्थ हाथ के लक्षण

अप्रैल 2017

व्यूस: 2748

किसी पहलू को उजागर करने में केवल एक पहलू विशेष पर ध्यान देने से ही परिणाम संतोषजनक नहीं मिलेंगे। इसके लिए संयम से सामुद्रिक शास्त्र का स्वाध्याय तथा मनन कर, अनेक पहलू टटोलने होंगे। तबही इस शास्त्र की असीम गहराइयों तक पहुंच कर स... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

विभिन्न रेखाओं के प्रभाव

अप्रैल 2017

व्यूस: 2744

विधाता ने हथेली पर जो रेखाएं बनायी हैं, वे मनुष्य को गहन रूप से प्रभावित करती हंै। विभिन्न रेखाएं अपनी-अपनी तरह से जीवन में घटने वाली घटनाओं को मोड़ देती हैं। प्रस्तुत है इन रेखाओं द्वारा होने वाले असर का विश्लेषण ...... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

हस्त रेखाएं एवं स्वास्थ्य

अप्रैल 2017

व्यूस: 2744

आजकल बहुत से पति-पत्नी यह प्रश्न अक्सर करते हैं कि उनमें से पहले कौन स्वर्ग सिधारेगा। इस संबंध में जीवन रेखा का सूक्ष्म परीक्षण करें तथा साथ में विवाह रेखा, जो अनामिका (छोटी उंगली) के नीचे आड़ी रेखा के रूप में पायी जाती है, का भी... और पढ़ें

स्वास्थ्यहस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

जब हथेली में शनि बैठा हो

नवेम्बर 2006

व्यूस: 2705

शनि आपका मित्र है या शत्रु ! यदि आप यह बात नहीं जानते, तो अपनी हथेलियों का परीक्षण कीजिए। शनि आपके अनुकूल नहीं है, तो उसके लक्षणों को पहचान कर उपाय कीजिए। हाथ की रेखाओं में शनि की उपस्थिति का परिचय पाने के लिए पढ़िए यह आलेख...... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंग्रहभविष्यवाणी तकनीक

धन आगमन में रुकावट क्यों?

मार्च 2006

व्यूस: 2581

धन आगमन में रुकावटों का कारण होता है मनुष्य का हाथ अर्थात हाथों की लकीरें और हाथांे में स्थित निर्धनता के योग। आइये जानें इन रुकावटों का क्या संबंध है हाथों से:... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

विवाह रेखा एवं उसके फल

आगस्त 2006

व्यूस: 2542

विवाह तय करते समय जन्मपत्री मिलान के अतिरिक्त हस्त रेखाओं का अध्ययन भी सावधानीपूर्वक करना चाहिए, क्योंकि जन्मपत्री जन्म समय का ठीक ठीक पता नहीं होने से गलत हो सकती है परंतु हस्त रेखा सही होती है। विवाह रेखा के अलावा भाग्य, ... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रविवाहग्रह पर्वत व रेखाएंभविष्यवाणी तकनीक

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)