हस्तरेखा शास्र


जीवन रेखा का महत्व

जीवन रेखा का महत्व

अशोक सक्सेना

हस्तशास्त्र में जीवन रेखा द्वारा आयु का निर्धारण किया जाता है। जीवन रेखा को पितृ रेखा या गोत्र रेखा आदि कई नामों से भी जाना जाता है। जिस प्रकार तीन नदियां मिलकर संगम बनाती है उसी प्रकार जीवन रेखा का उद्गम स्थान बृहस्पति क्षेत्र एव... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रभविष्यवाणी तकनीक

अप्रैल 2011

व्यूस: 27517

एस्ट्रो पामिस्ट्री

ज्योतिष में हम जन्म के समय भचक्र में ग्रहों की स्थिति, युति व दृष्टि के आधार पर उनकी ऊर्जाओं का विश्लेषण जातक की जन्मकुंडली द्वारा करते हैं। हस्तरेखा विज्ञान में इन ऊर्जाओं का विश्लेषण हथेली में विद्यमान चिह्नों और रेखाओं से करते ... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रहस्तरेखा सिद्धान्त

फ़रवरी 2014

व्यूस: 28037

किस देवी देवता की पूजा करे- हस्त रेखाओं से जाने

भारत की सनातन धार्मिक और पूजन परंपरा में देवताओं का मुख्य स्थान है। इनकी संख्या भी हमारे यहाँ ३३ करोड़ बतायी गई है।... और पढ़ें

देवी और देवहस्तरेखा शास्रउपायग्रह पर्वत व रेखाएं

अप्रैल 2013

व्यूस: 43351

हस्तरेखा से जानें धन नौकरी से अथवा व्यवसाय से

वर्तमान समय प्रतिस्पर्धा का समय है, नौकरी व व्यवसाय दोनों ही आजीविका के माध्यम हैं। धन जीवन का एक मुख्य उद्देश्य है। धन नौकरी या व्यवसाय द्वारा हम कमाते हैं। किसी का व्यवसाय सहज ही फलित हो जाता है तो किसी का काफी संघर्षरत रहने... और पढ़ें

हस्तरेखा शास्रव्यवसायसंपत्ति

अप्रैल 2017

व्यूस: 2643

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)
horoscope