मुहूर्त ज्ञान

मुहूर्त ज्ञान

डॉ. अरुण बंसल

जीवन की महत्वपूर्ण कार्यों जैसे-विवाह, गृह प्रवेश, नया पद या नई योजना के क्रियान्वयन के लिए शुभ मुहूर्त निकालकर कार्य करने से सफलता प्राप्त होती है और जीवन सुखमय बनता है व बिना मुहूर्त के कार्य करने पर निष्फलता देखी है।... और पढ़ें

ज्योतिषमुहूर्तपंचांगभविष्यवाणी तकनीक

जून 2011

व्यूस: 10643

नवरात्र व श्रावण में धारण करें गौरी-शंकर रुद्राक्ष

‘‘गौरी-शंकर रुद्राक्ष धारण करने से व्यक्ति को सुखी दांपत्य जीवन और खुशहाल परिवार की प्राप्ति होती है और भाग्य में वृद्धि होती है और वैवाहिक जीवन में कोई समस्या नहीं आती है।’’... और पढ़ें

ज्योतिषउपायमुहूर्तरूद्राक्ष

मई 2014

व्यूस: 6236

दान मगर कल्याण

दान मगर कल्याण

अंजली गिरधर

कीर्तिभवति दानेन तथा आरोग्यम हिंसया त्रिजशुश्रुषया राज्यं द्विजत्वं चाऽपि पुष्कलम। पानीमस्य प्रदानेन कीर्तिर्भवति शाश्वती अन्नस्य तु प्रदानेन तृप्तयन्ते कामभोगतः।। दान से यश, अहिंसा से आरोग्य तथा ब्राह्मणों की सेवा से राज्य ... और पढ़ें

ज्योतिषउपायविविधमुहूर्तग्रह

अप्रैल 2014

व्यूस: 11528

तंत्र सिद्धि के मुहूर्त

दीपावली की रात्रि तंत्र सिद्धि के लिए महत्वपूर्ण होती है। अनेक साधक अपनी साधना को पूर्ण रूप देने के लिए इस अभीष्ट मुहूर्त की प्रतीक्षा करते हैं। कहते हैं इस रात लक्ष्मी अवश्य धरती पर उतर कर आती हैं। इस आलेख में धन प्राप्ति सहित... और पढ़ें

अन्य पराविद्याएंमुहूर्त

अकतूबर 2006

व्यूस: 2955

गृह निर्माण और वास्तु

गृह निर्माण और वास्तु

सुनील जोशी जुन्नकर

घर के वास्तु का प्रभाव उसमें रहने वाले सभी सदस्यों पर पड़ता है। इस तरह, मनुष्य के जीवन में वास्तु का महत्व अहम होत है। इसके अनुरूप घर का निर्माण करने से उसमें सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है।... और पढ़ें

वास्तुभूमि चयनमुहूर्तवास्तु पुरुष एवं दिशाएं

दिसम्बर 2010

व्यूस: 19339

शारदीय नवरात्र एवं पंच पर्व दीपावली के शुभ मुहूर्त

स वर्ष शारदीय नवरात्र का आरंभ दिनांक 23 सितंबर 2006, शनिवार से हो रहा है। भारतवर्ष में नवरात्रों का बड़ा महत्व है। शक्ति की उपासना करने वाले शाक्तों के लिए तो यह अवधि बहुत महत्वपूर्ण होती है। जनसामान्य के लिए भी नवरात्र में ... और पढ़ें

देवी और देवअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतमुहूर्त

अकतूबर 2006

व्यूस: 2283

रुद्राक्ष: उद्भव एवं उत्पत्ति

रुद्राक्ष: उद्भव एवं उत्पत्ति

राजेंद्र शर्मा ‘राजेश्वर’

‘‘रुद्राक्ष’’ शब्द को अनेक भावार्थों में विवेचित किया गया है। सामान्यतः रुद्राक्ष को रुद्र$अक्ष अर्थात भगवान रुद्र (शिव) के आंसुओं से उत्पन्न एक प्रकार का कसैला, खारा फल माना गया है। रुद्र शब्द का निर्माण ‘रुत्’ से हुआ है, जिस... और पढ़ें

उपायअध्यात्म, धर्म आदिमंत्रमुहूर्तरूद्राक्षराशि

मई 2014

व्यूस: 5607

दाह संस्कार- अंतिम संस्कार

हिंदू धर्म में मृत्यु को जीवन का अंत नहीं माना गया है। मृत्यु होने पर यह माना जाता है कि यह वह समय है, जब आत्मा इस शरीर को छोड़कर पुनः किसी नये रूप में शरीर धारण करती है, या मोक्ष प्राप्ति की यात्रा आरंभ करती है । किसी व्यक्ति की म... और पढ़ें

अध्यात्म, धर्म आदिमुहूर्त

जून 2013

व्यूस: 49956

महा शिवरात्रि में कालसर्प दोष की शान्ति के उपाय

महाशिवरात्रि के दिन अथवा नागपंचमी के दिन किसी सिद्ध शिव स्थल पर कालसर्प योग की शान्ति करा लेने का अति विशिष्ट महत्व माना जाता हैं। निरंतर महामृत्युंजय मंत्र के जप से शिवोपासना से, हनुमान जी की आराधना से एवं भैरवोपासना से यह योग शि... और पढ़ें

देवी और देवउपायअध्यात्म, धर्म आदिपर्व/व्रतमुहूर्त

मार्च 2013

व्यूस: 11460

सवार्थसिद्धिकारक अभिजित मुहूर्त

मनुष्य का जन्म अपने 'प्रारब्ध' (पूर्वजन्म के कर्म फल) अनुसार होता है। अच्छे 'प्रारब्ध' वाले शिशुओं की जन्म कुंडलियों में स्थित बलवान शुभ ग्रह योग उनके जीवन में सुख, सफलता, और समृद्धि प्रदान करते हैं। इसके विपरीत बुरे 'प्रारब्ध' वा... और पढ़ें

ज्योतिषमुहूर्तनक्षत्र

जनवरी 2011

व्यूस: 7004

Ask a Question?

Some problems are too personal to share via a written consultation! No matter what kind of predicament it is that you face, the Talk to an Astrologer service at Future Point aims to get you out of all your misery at once.

SHARE YOUR PROBLEM, GET SOLUTIONS

  • Health

  • Family

  • Marriage

  • Career

  • Finance

  • Business

लोकप्रिय विषय

करियर बाल-बच्चे चाइनीज ज्योतिष दशा वर्ग कुंडलियाँ दिवाली डऊसिंग सपने शिक्षा वशीकरण शत्रु यश पर्व/व्रत फेंगशुई एवं वास्तु टैरो रत्न सुख गृह वास्तु प्रश्न कुंडली कुंडली व्याख्या कुंडली मिलान घर जैमिनी ज्योतिष कृष्णामूर्ति ज्योतिष लाल किताब भूमि चयन कानूनी समस्याएं प्रेम सम्बन्ध मंत्र विवाह आकाशीय गणित चिकित्सा ज्योतिष Medicine विविध ग्रह पर्वत व रेखाएं मुहूर्त मेदनीय ज्योतिष नक्षत्र नवरात्रि व्यवसायिक सुधार शकुन पंच पक्षी पंचांग मुखाकृति विज्ञान ग्रह प्राणिक हीलिंग भविष्यवाणी तकनीक हस्तरेखा सिद्धान्त व्यवसाय पूजा राहु आराधना रमल शास्त्र रेकी रूद्राक्ष श्राद्ध हस्ताक्षर विश्लेषण सफलता मन्दिर एवं तीर्थ स्थल टोटके गोचर यात्रा वास्तु परामर्श वास्तु दोष निवारण वास्तु पुरुष एवं दिशाएं वास्तु के सुझाव स्वर सुधार/हकलाना संपत्ति यंत्र राशि
और टैग (+)
horoscope